Create

4 बड़े बदलाव जिनकी WWE को फिलहाल सख्त जरूरत है

WWE में होने चाहिए बड़े बदलाव
WWE में होने चाहिए बड़े बदलाव
reaction-emoji
Neeraj sharma

COVID-19 महामारी पिछले 1 साल से भी ज्यादा समय से पूरी दुनिया के लिए बहुत बड़ी मुसीबत बनी हुई है और इसका सीधा असर WWE पर भी पड़ा है। दुनिया के सबसे बड़े प्रो रेसलिंग प्रोमोशन को होने वाला नुकसान स्पष्ट नजर आने लगा है।

इसी नुकसान का नतीजा है कि पिछले एक साल में WWE काफी संख्या में रेसलर्स और स्टाफ मेंबर्स को रिलीज़ कर चुकी है। ब्रॉन स्ट्रोमैन (Braun Strowman), समोआ जो (Samoa Joe) और एलिस्टर ब्लैक (Aleister Black) जैसे बड़े सुपरस्टार्स को रिलीज़ किया जा चुका है। इस संकट के दौर में कुछ बदलाव ही WWE को कुछ फायदा पहुंचा सकते हैं।

ये भी पढ़ें: 10 सुपरस्टार्स जो WWE में अपने असली नाम का उपयोग करते हैं

WWE में हर हफ्ते रॉ (Raw) और स्मैकडाउन (SmackDown) के शोज़ होते हैं और हर महीने एक पीपीवी होता है। स्टोरीलाइंस और सुपरस्टार्स का कैरेक्टर WWE या किसी अन्य प्रो रेसलिंग कंपनी के प्रोडक्ट पर गहरा प्रभाव डालता है। इसलिए इस आर्टिकल में हम उन 4 बदलावों के बारे में आपको बताएंगे, जिनकी WWE को अभी सख्त जरूरत है।

ये भी पढ़ें: 4 सुपरस्टार्स जिनका ब्रॉन स्ट्रोमैन ने WWE में बहुत बुरा हाल किया हुआ है

WWE में सुपरस्टार्स को क्रिएटिव फ्रीडम मिलनी चाहिए

विंस मैकमैहन
विंस मैकमैहन

ये बात जगजाहिर है कि WWE में जो भी चीज घटित होती है, वो विंस मैकमैहन से होकर जरूर गुजरती है। कंपनी में अधिकांश चीजें विंस के मुताबिक होती हैं और सुपरस्टार्स को उनके अनुसार ही रिंग में जाकर परफॉर्म करना होता है। वहीं कुछ हफ्ते पहले पूर्व WWE सुपरस्टार जैक रायडर ने AEW और WWE के वातावरण और सुपरस्टार्स को मिलने वाली क्रिएटिव फ्रीडम की तुलना की थी।

राइडर WWE से रिलीज़ होने के बाद AEW के कुछ शोज़ में नजर आए थे। उसके बाद एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा, "AEW में आपको पता ही नहीं होता कि शो को कौन चला रहा है। WWE एक बहुत बड़ा प्रोमोशन है, लेकिन क्रिएटिव फ्रीडम की बात आती है तो मैं AEW का पक्ष लूंगा।"

इस खुले वातावरण का ही नतीजा है कि कई पूर्व WWE रेसलर्स कह चुके हैं कि उन्हें AEW का वातावरण अधिक पसंद है। विंस को रेसलर्स को क्रिएटिव फ्रीडम देनी चाहिए, जिससे वो दबावमुक्त होकर परफॉर्म कर सकें और इससे कंपनी के प्रोडक्ट में भी सुधार लाया जा सकेगा।

ये भी पढ़ें: 4 बड़े सुपरस्टार्स जिन्हें WWE को रिलीज़ नहीं करना चाहिए था

कृपया Sportskeeda के WWE सेक्शन को बेहतर बनाने में मदद करें। अभी 30 सेकंड का सर्वे करें!

केवल 1-2 बड़े सुपरस्टार्स पर ज्यादा ध्यान नहीं देना चाहिए

रोमन रेंस
रोमन रेंस

Raw और SmackDown को लगातार फॉलो करने वाले फैंस अच्छे से जानते हैं कि इन दिनों दोनों ब्रांड्स में किन चीजों पर सबसे अधिक ध्यान दिया जा रहा है। जहां तक बात SmackDown की है, वहां रोमन रेंस का प्रभुत्व इतना है कि पिछले साल Payback के बाद कोई दूसरा सुपरस्टार यूनिवर्सल चैंपियन ही नहीं बन पाया है। यहां तक कि इस हफ्ते SmackDown का पूरा फोकस रोमन रेंस और द उसोज़ पर रहा।

वहीं Raw को हर बार WWE चैंपियन बॉबी लैश्ले, ड्रू मैकइंटायर और एलेक्सा ब्लिस के सैगमेंट्स से दिलचस्प बनाने की कोशिश की जाती है। हालांकि इन दिनों आरकेब्रो टीम भी सुर्खियां बटोर रही है, लेकिन केवल 3-4 सुपरस्टार्स के मैच और सैगमेंट्स के दम पर 3 घंटे के शो को दिलचस्प बनाना संभव नहीं है। इसलिए अन्य बड़े सुपरस्टार्स पर भी WWE को ध्यान देने की जरूरत है।

स्टोरीलाइंस की क्वालिटी को बेहतर करना चाहिए

Raw टैग टीम चैंपियंस
Raw टैग टीम चैंपियंस

जैसा कि हमने पहले भी बताया कि स्टोरीलाइंस और सुपरस्टार्स का कैरेक्टर किसी भी प्रो रेसलिंग प्रोमोशन के प्रोडक्ट पर गहरा प्रभाव डालता है। इन दिनों WWE में स्टोरीलाइंस का स्तर भी काफी नीचे गिरा है। उदाहरण के तौर पर एजे स्टाइल्स और ओमोस को Raw टैग टीम चैंपियंस होते हुए भी कोई फायदा नहीं मिल रहा है।

शिंस्के नाकामुरा और किंग कॉर्बिन को क्राउन के लिए लड़ते-लड़ते 1 महीना हो चुका है, लेकिन स्टोरीलाइन अभी भी वहीं है, जहां से इसकी शुरुआत हुई थी। ड्रू मैकइंटायर पिछले कई महीनों से WWE चैंपियनशिप स्टोरीलाइन का हिस्सा बने रहे हैं, बार-बार उनका चैंपियनशिप के लिए चैलेंज करना दर्शा रहा है कि WWE के पास लैश्ले के लिए कोई बड़ा चैलेंजर मौजूद ही नहीं है।

बड़े NXT सुपरस्टार्स को मेन रोस्टर में लाकर उन्हें अच्छे से बुक किया जाना चाहिए

फिन बैलर
फिन बैलर

AEW की शुरुआत साल 2019 में हुई और कुछ महीने बाद ही स्पष्ट हो चला था कि उसका फोकस फिलहाल WWE के तीसरे शो NXT को मात देने पर है। इसलिए फिन बैलर, एम्बर मून और कुछ समय के लिए शार्लेट को भी NXT में भेजा गया था। इसके बावजूद AEW के वीकली शोज़ अधिकांश मौकों पर NXT से बेहतर रेटिंग्स बटोरते आए हैं।

जाहिर तौर पर मेन रोस्टर सुपरस्टार्स को NXT में वापस भेजने का फैसला अच्छा साबित नहीं हुआ है। बेहतर होगा कि NXT में वापस भेजे गए सुपरस्टार्स की मेन रोस्टर में वापसी कराई जाए और जरूरत पड़ने पर अन्य बड़े NXT सुपरस्टार्स का भी Raw या SmackDown में डेब्यू कराया जाए, जहां उनकी अच्छी बुकिंग कंपनी के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है।

Edited by Neeraj sharma
reaction-emoji

Comments

comments icon1 comment

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...