Create

5 तरीकों से Wrestlemania 36 को बिना ऑडियंस के भी सफल बना सकता है WWE

रेसलमेनिया 36
रेसलमेनिया 36
Neeraj sharma

इस बात की आधिकारिक पुष्टि कर दी गई है कि इस साल रेसलमेनिया हजारों की संख्या में लाइव ऑडियंस के सामने नहीं होने वाला है। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते एक समय कहा जा रहा था कि इस साल डब्लू डब्लू ई (WWE), रेसलमेनिया को रद्द कर सकती है।

हालांकि इवेंट को रद्द तो नहीं किया गया है लेकिन इसका आयोजन उस अंदाज में नहीं होगा जिस तरह पिछले कई दशकों से होता आया है। जैसी कि फैंस को उम्मीद थी कि विंस मैकमैहन अपने फैंस के मनोरंजन के लिए कुछ तो तरीका निकाल ही लेंगे इसलिए अब इवेंट WWE परफॉरमेंस सेंटर में आयोजित होगा।

ये भी पढ़ें: 3 बड़े कीर्तिमान जो ब्रॉक लैसनर रेसलमेनिया 36 में बना सकते हैं

रेसलमेनिया साल का सबसे बड़ा प्रो रेसलिंग इवेंट है इसलिए WWE को लाइव ऑडियंस के ना होने से तगड़ा झटका तो जरूर लगने वाला है। खैर इस आर्टिकल में हम ऐसे 5 तरीके आपके सामने रखने वाले हैं जिनसे WWE, परफॉरमेंस सेंटर में होते हुए भी रेसलमेनिया 36 को सफल बना सकता है।

# उन चीजों पर ध्यान दे जिन्हें WWE अपनी ताकत समझती है

ट्रिपल एच
ट्रिपल एच

रेसलिंग फैंस को समझ पाना थोड़ा मुश्किल है क्योंकि कुछ ऐसे होते हैं जो केवल WWE देखते हैं, कुछ AEW, NJPW और पूरे इंडिपेंडेंट सर्किट को ज्यादा तवज्जो देते हैं, वहीं कुछ फैंस को हर कंपनी के इवेंट्स देखना पसंद है।

प्रोडक्शन वैल्यू WWE को अन्य कंपनियों से अलग साबित करती है। प्रोडक्शन वैल्यू से हमारा मतलब है कि औसत दर्जे के कंटेंट को भी टॉप-क्वालिटी कंटेंट बनाना WWE को अच्छे से आता है। इसी वजह से विंस मैकमैहन WCW और ECW को पछाड़ने में सफल रहे थे।

अब लाइव ऑडियंस के ना होने से WWE को उन चीजों पर सबसे अधिक ध्यान देना होगा जिसमें उसे महारथ हासिल है। यानी फैंस को ऐसे कई यादगार लम्हे देने होंगे जिन्हें वो आने वाले कई सालों तक भुला ना सकें।

WWE और रेसलिंग से जुड़ी तमाम बड़ी खबरों के साथ-साथ अपडेट्स, लाइव रिजल्ट्स को https://www.facebook.com/SKWrestlingHindi/ पर पाएं

# हार्ड कैमरा नहीं होने चाहिए

WWE में हार्ड कैमरा
WWE में हार्ड कैमरा

रॉ और स्मैकडाउन के हालिया एपिसोड्स में WWE ने हार्ड कैमरा को ज्यादा प्रयोग में लाया है। हार्ड कैमरा एरीना के कोने में मौजूद होता है जिसे आमतौर पर ऑडियंस को दिखाने के लिए प्रयोग में लाया जाता है।

रेसलमेनिया में कोई क्राउड नहीं होगा इसलिए हार्ड कैमरा का प्रयोग पूर्णतः व्यर्थ साबित होगा। हालांकि ऐसा करना बेहद मुश्किल है लेकिन WWE को इस मुसीबत से पार पाना होगा क्योंकि रॉ और स्मैकडाउन में ये तरीका बिल्कुल भी कारगर साबित नहीं हुआ है।

ये भी पढ़ें: 3 सुपरस्टार्स जो जॉन सीना और द फीन्ड के मैच में दखल दे सकते हैं

# समयसीमा को घटाना चाहिए

रेसलमेनिया
रेसलमेनिया

किक-ऑफ शो को मिलाकर रेसलमेनिया पिछले कुछ सालों से लगातार 6-7 घंटे लंबा चलता आ रहा है। इस साल WWE को शो की समयसीमा को घटाने की कोशिश करनी चाहिए ताकि दुनिया भर से फैंस पूरे इवेंट के प्रसारण को मजे के साथ देख सकें।

रेसलमेनिया 36 से मिलने वाला लगभग पूरा रेवेन्यू WWE को टीवी/वीडियो प्रसारण से ही होने वाला है। इसलिए बेहतर होगा कि शो की समयसीमा को घटाया जाए और इसे यादगार बनाने की कोशिश करें, जिससे शुरू से अंत तक फैंस इससे जुड़े रहें।

# माइक्स का कम प्रयोग हो

ऐज का प्रोमो
ऐज का प्रोमो

इस बात से कुछ लोग असहमति जता सकते हैं लेकिन इस साल रेसलमेनिया में माइक का प्रयोग ना के बराबर होना चाहिए। क्योंकि टीवी पर शो को देख रहे फैंस, किसी प्रोमो से ज्यादा रेसलिंग देखना पसंद करते हैं।

वैसे भी खाली एरीना में माइक्स के प्रयोग से कुछ ज्यादा प्रभाव किसी को नहीं पड़ने वाला और वहीं एक खराब प्रोमो फैंस को चैनल बदलने पर मजबूर कर सकता है। जब तक किसी प्रोमो की जरूरत ना हो तब तक किसी सुपरस्टार का माइक सैगमेंट नहीं होना चाहिए।

ये भी पढ़ें: रेसलमेनिया के 6 बड़े मैच जो होते-होते रह गए

# परफॉरमेंस सेंटर को दिखाना चाहिए

WWE परफॉरमेंस सेंटर
WWE परफॉरमेंस सेंटर

कोरोना वायरस के चलते जब बिना ऑडियंस के पहला स्मैकडाउन एपिसोड आयोजित हुआ तो ट्रिपल एच ने परफॉरमेंस सेंटर के बारे में काफी सारी चीजें फैंस को बताई थीं। लोगों को इसके इतिहास से लेकर ये भी पता चला कि WWE के बिजनेस में परफॉरमेंस सेंटर का क्या योगदान रहता है।

रेसलमेनिया में भी WWE को रिंग के अलावा परफॉरमेंस सेंटर के कुछ शॉट्स दिखाने चाहिए जिससे लोगों को एक नया और फ्रेश कंटेंट देखने को मिल सके।

Edited by PANKAJ

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...