Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

5 कारणों से गोल्डबर्ग द्वारा द फीन्ड को चैलेंज नहीं करना चाहिए था

Neeraj sharma
ANALYST
टॉप 5 / टॉप 10
Modified 10 Feb 2020, 19:30 IST

गोल्डबर्ग एंड ब्रे वायट
गोल्डबर्ग एंड ब्रे वायट

डब्लू डब्लू ई (WWE) सुपर शोडाउन 2020 के लिए एक बड़े मैच की पुष्टि हो चुकी है जहाँ गोल्डबर्ग का सामना यूनिवर्सल टाइटल मैच में द फीन्ड से होने वाला है। काफी लोग इसे एक बड़े मैच के रूप में देख रहे हैं लेकिन ये समझ पाना मुश्किल है कि WWE इससे हासिल क्या करना चाह रही है और इसका द फीन्ड की रेसलमेनिया 36 के लिए स्टोरीलाइन पर क्या प्रभाव पड़ेगा।

इस मैच के लिए ना तो कोई स्टोरीलाइन बिल्ड-अप देखने को मिला और फिलहाल ये भी समझ से परे है कि भविष्य में इससे फायदा क्या मिलने वाला है।

ये भी पढ़ें: 10 WWE सुपरस्टार्स जो रेसलमेनिया में कभी कोई मैच नहीं जीत पाए

इसी बात को ध्यान में रखते हुए इस आर्टिकल में हम ऐसे 5 कारणों से आपको अवगत कराने वाले हैं जिनसे गोल्डबर्ग द्वारा द फीन्ड को यूनिवर्सल टाइटल के लिए चैलेंज नहीं करना चाहिए था।

# हार से दोनों को नुकसान होगा

द फीन्ड
द फीन्ड

इस बात को नकारा नहीं जा सकता कि द फीन्ड को सुपर शोडाउन और उसके बाद रेसलमेनिया 36 में हार से सबसे ज्यादा नुकसान होगा, अब यहाँ सबसे बड़ा सवाल गोल्डबर्ग का है। अगर पूर्व यूनिवर्सल चैंपियन को रेसलमेनिया 36 से कुछ सप्ताह पहले ही हार मिली तो जरूर उनका मोमेंटम बिगड़ सकता है।

सच्चाई ये है कि WWE फिलहाल बहुत बड़ी मुसीबत में फंस चुकी है। एक तरफ इस हार के साथ द फीन्ड के सफर का अंत हो सकता है तो दूसरी तरफ गोल्डबर्ग भी कुछ ऐसी ही स्थिति में खड़े हैं।

गोल्डबर्ग के लिए सबसे बड़ी मुसीबत ये है कि उनके पिछले दोनों मुकाबलों के प्रति फैंस ने कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई है और लगातार तीसरे मैच में खराब प्रदर्शन उन्हें फायदा तो बिल्कुल नहीं पहुंचाएगी।

WWE और रेसलिंग से जुड़ी तमाम बड़ी खबरों के साथ-साथ अपडेट्स, लाइव रिजल्ट्स को https://www.facebook.com/SKWrestlingHindi/ पर पाएं

1 / 3 NEXT
Published 10 Feb 2020, 19:30 IST
Advertisement
Fetching more content...