Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

5 कारण क्यों WWE ने अपने ब्रांड्स के बीच सुपरस्टार्स ट्रेड शुरू करने का फैसला किया 

एजे स्टाइल्स
एजे स्टाइल्स
Subham Pal
ANALYST
Modified 24 May 2020, 15:44 IST
टॉप 5 / टॉप 10
Advertisement

इस हफ्ते WWE कमेंटेटर माइकल ने स्मैकडाउन के दौरान खुलासा किया कि एजे स्टाइल्स को ब्लू ब्रांड का हिस्सा बनाया जा चुका है। यह काफी चौंकाने वाला फैसला था क्योंकि एजे स्टाइल्स 'ब्रांड टू ब्रांड इनविटेशनल' रूल के तहत स्मैकडाउन में आए थे। आपको बता दें, इस रूल के तहत एक ब्रांड का सुपरस्टार दूसरे ब्रांड में नजर सकता है।

यह भी पढ़े: 5 बड़े WWE सुपरस्टार्स जिनके बेहतरीन सुझाव को विंस मैकमैहन ने रिजेक्ट कर दिया

एजे स्टाइल्स के ब्लू ब्रांड का हिस्सा बनने से यह बात साफ हो गई है कि आने वाले समय में स्मैकडाउन के सुपरस्टार को रेड ब्रांड का हिस्सा बनाया जा सकता है। हालांकि अभी तक यह बात साफ नहीं है कि WWE ने कितने सुपरस्टार्स को एक ब्रांड से दूसरे ब्रांड में भेजने का फैसला किया है। इस आर्टिकल में हम ऐसे 5 कारणों के बारे में बात करने वाले हैं कि क्यों WWE ने अपने ब्रांड्स के बीच सुपरस्टार्स ट्रेड शुरू करने का फैसला किया है।

5.WWE अपने रेटिंग्स बढ़ाना चाहती है

पिछले कुछ सालों के दौरान WWE की रेटिंग्स में काफी गिरावट देखने को मिली और कोरोना महामारी ने स्थिति को और भी खराब कर दिया है। इस महामारी के कारण WWE अपने शोज और सभी पीपीवी अपने परफॉर्मेंस सेंटर में बिना ऑडियंस के कराने को मजबूर है

शायद यही कारण है कि WWE ने अपने ब्रांड्स के बीच सुपरस्टार्स ट्रेड शुरू कराने का फैसला किया ताकि फैंस एक बार फिर बड़ी संख्या में WWE देखना शुरू कर दे। हालांकि यह देखना रोचक होगा कि यह नया रूल फैंस को कितना पसंद आता है और आने वाले समय में यह साफ हो जाएगा कि इस रूल से WWE की रेटिंग्स में कितना इजाफा होने वाला है।

1 / 3 NEXT
Published 24 May 2020, 15:44 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit