5 हादसे जिन्होंने WWE का इतिहास लगभग बदल के रख दिया था 

विंस मैकमैहन को ये चीज़ें होते हुए पसंद नहीं आती
विंस मैकमैहन को ये चीज़ें होते हुए पसंद नहीं आती

काफी फैंस ने अक्सर ये सवाल किया है कि क्या होता अगर (एक चीज़ जिसके होने की उम्मीद उन्होंने की थी) डब्लू डब्लू ई (WWE) में हो चुकी होती। क्या होता अगर "स्टोन कोल्ड" स्टीव ऑस्टिन ने कभी अपना शानदार "ऑस्टिन 3:16" प्रोमो ही नहीं दिया होता। क्या होता अगर सीएम पंक ने कभी WWE को नहीं छोड़ा होता।

ये भी पढ़ें: ब्रॉन स्ट्रोमैन ने अभी तक WWE यूनिवर्सल चैंपियन ना बनाए जाने की वजह बताई

हमें कभी भी इन सवालों के जवाब नहीं मिल पाएंगे लेकिन ये सच है कि अगर ये चीज़ें अलग तरह से हुई होती तो WWE का इतिहास बदल चुका होता। अगर आप लोग नहीं जानते हैं तो बता दें कि विंस मैकमैहन WWE में हो रही हर चीज़ को स्क्रिप्ट में शामिल कर देते हैं क्योंकि उन्हें सभी चीज़ें एकदम परफेक्ट चाहिए होती हैं।

हालाँकि कई मौकों पर ऐसा नहीं हो पाया है और इससे WWE में बड़े बदलाव भी हुए हैं। आईये जानें ऐसे 5 हादसों के बारे में जिन्होंने WWE का पूरा इतिहास लगभग बदल के रख दिया।

#5 पॉल हेमन और क्रिस बैन्वा की जोड़ी का बनते बनते रहना

लैसनर और हेमन
लैसनर और हेमन

पॉल हेमन और ब्रॉक लैसनर की जोड़ी को फैंस काफी अच्छे से जानते हैं। काफी लंबे समय से दोनों एक साथ हैं। अगर हेमन ने लैसनर को मैनेज करना शुरू ना किया होता तो शायद द बीस्ट कभी इतने बड़े सुपरस्टार नहीं बन पाते।

एक समय पर लैसनर को प्रोडूसर्स ने रूस का ताक़तवर रेसलर बनाने का सोचा था लेकिन हेमन को ये आइडिया काफी घटिया लगा और इस वजह से उन्होंने इस बारे में विंस मैकमैहन से बात की। उस समय के प्लान्स के अनुसार हेमन रेसलमेनिया 18 के बाद क्रिस बैन्वा के मैनेजर बनने वाले थे लेकिन लैसनर के प्रति विश्वास होने के कारण उन्होंने प्लान्स में बदलाव करवाए और आज भी वह पूर्व यूनिवर्सल चैंपियन के साथ काम कर रहे हैं।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#4 विंस मैकमैहन का जॉन सीना को कंपनी से लगभग निकाल देना

WWE के गोल्डनबॉय Enter caption
WWE के गोल्डनबॉय

जॉन सीना WWE के सबसे मशहूर सुपरस्टार्स में से एक हैं। उन्होंने अबतक कंपनी के लिए काफी कुछ किया है और इस वजह से वह विंस मैकमैहन के पसंदीदा रेसलर्स में से भी एक हैं। अब सीना हॉलीवुड के भी एक बड़े एक्टर बन चुके हैं और इस वजह से वह अपने रेसलिंग करियर के ऊपर ज्यादा ध्यान नहीं दे पाते हैं। हालाँकि सीना आज इतने मशहूर व्यक्ति ना बनते अगर उन्हें WWE में आने के कुछ समय बाद ही निकाल दिया गया होता।

एक इंटरव्यू में सीना ने बताया था कि उन्होंने WWE से अपनी नौकरी लगभग खो ही दी थी कि तभी स्टैफनी मैकमैहन ने आकर उन्हें बचा लिया। अगर स्टैफनी ने ऐसा ना किया होता तो WWE को कभी सीना जैसा बड़ा सुपरस्टार ना मिल पाता।

ये भी पढ़ें: रिटायरमेंट से वापसी कर 'द मैन' बैकी लिंच के खिलाफ मैच लड़ना चाहती हैं निकी बैला

#3 ट्रिपल एच का किंग ऑफ़ द रिंग टूर्नामेंट ना जीत पाना

किंग ऑफ़ किंग्स
किंग ऑफ़ किंग्स

आज के समय में रेसलर्स WWE में अपने किरदार में रहते हैं और सोशल मीडिया पर एक आम इंसान की तरह नजर आते हैं। हालाँकि आज से कुछ दशकों पहले तक ऐसा नहीं था। उस समय रेसलिंग का सिर्फ एक नियम था और वो केफेब (यानी किरदार) को भूलकर किसी भी काम को ना करना था।

हालाँकि 1996 में ट्रिपल एच, शॉन माइकल्स, केविन नैश और स्कॉट हॉल ने इस नियम को तोड़ते हुए एक ऐसा काम किया जिसे फैंस आज "कर्टेन कॉल" के नाम से जानते हैं। उस समय पर एक हील और फेस सुपरस्टार का एक साथ दिखना सख्त मन था लेकिन इन रेसलर्स ने हजारों फैंस के सामने आकर एक दूसरे को गले लगा लिया था।

उस समय ट्रिपल एच और नैश विलन का काम कर रहे थे जबकि माइकल्स और हॉल फैंस के पसंदीदा रेसलर्स में से एक थे। इस इवेंट के बाद नैश और हॉल का WWE कॉन्ट्रैक्ट खत्म होने वाला था और क्योंकि ये चारों अच्छे दोस्त थे, इन सभी ने आखिरी बार रिंग में एक दूसरे को गले लगाना चाहा। इस हादसे के बाद नैश और हॉल WCW में जा चुके थे जबकि माइकल्स WWE के चैंपियन थे। इस वजह से इस गलती की सारी सजा ट्रिपल एच को मिली। उस साल वह किंग ऑफ़ द रिंग टूर्नामेंट जीतने वाले थे लेकिन रेसलिंग के नियमों को तोड़ने के कारण ये मौका "स्टोन कोल्ड" स्टीव ऑस्टिन को मिला। अगर कर्टेन कॉल का हादसा ना हुआ होता तो शायद ऑस्टिन कभी इतने बड़े रेसलर नहीं बन पाते।

#2 नटालिया और रोंडा राउजी का मैच रेसलमेनिया 35 के मेन इवेंट में होते होते रह गया था

नटालिया और रोंडा राउजी
नटालिया और रोंडा राउजी

इस साल रेसलमेनिया में बैकी लिंच और शार्लेट ने रोंडा राउजी के साथ मिलकर शो को हैडलाइन किया था। ये मैच रॉ विमेंस चैंपियनशिप के लिए हुआ था और इसमें लिंच ने जीत दर्ज की थी। हालाँकि विंस मैकमैहन के दिमाग में इस मैच से पहले रेसलमेनिया को मेन इवेंट करने के लिए दूसरा आइडिया था। WWE के CEO ने पहले इस शो में राउजी और उनकी दोस्त नटालिया के बीच मैच करवाने का सोचा था लेकिन जिम नेडहार्ट के अचानक से चल बसने के कारण उनकी बेटी का हील टर्न नहीं हुआ था।

इसके बाद राउजी को दूसरी दुश्मनी में डाला गया और इससे लिंच और शार्लेट को रेसलमेनिया जैसे बड़े पीपीवी को मेन इवेंट करने का मौका मिला।

ये भी पढ़ें: Clash of Champions में ब्रॉन स्ट्रोमैन का सामना कर सकते हैं सैथ रॉलिंस

#1 अली का चोटिल होना और कोफ़ीमेनिया की शुरुआत होना

द न्यू डे
द न्यू डे

इस साल फरवरी महीने में हमें रैंडी ऑर्टन और अली के बीच एक मैच दिखा था। इस मैच में ऑर्टन की छोटी सी गलती ने अली को चोटिल कर दिया था और इस वजह से WWE ने उन्हें कुछ समय बाद हो रहे गौंटलेट मैच से निकाल दिया और उनकी जगह कोफ़ी किंग्सटन को शामिल कर लिया। इस मैच में किंग्सटन की शानदार परफॉरमेंस फैंस को काफी पसंद आई और वह काफी मशहूर बन गए।

इसके बाद एलिमिनेशन चैंबर में भी किंग्सटन ने शानदार काम किया और फैंस ने WWE से ये मांग की कि WWE चैंपियनशिप द न्यू डे के इस मेंबर को दी जाए। विंस मैकमैहन ने भी फैंस की बात सुनते हुए ऐसा ही किया और आज किंग्सटन के पास WWE टाइटल है। अगर अली चोटिल ना हुए होते तो शायद किंग्सटन कभी WWE चैंपियन ना बन पाते।