Create

"WWE में इस समय चल रही स्टोरीलाइन्स बहुत ही घटिया है"

Enter caption

पूर्व WWE स्मैकडाउन एग्जक्यूटिव डायरेक्टर एरिक बिशफ ने इस बार WWE में चल रही स्टोरीलाइन्स को लेकर बड़ा बयान दिया है। Sportskeeda's UnSKripted में इस बार एरिक बिशफ गेस्ट के तौर पर आए। कई मुद्दों पर एरिक बिशफ ने यहां पर बातचीत की। हाल में चल रही WWE स्टोरीलाइन्स और राइटिंग को लेकर भी एरिक बिशफ ने यहां पर जवाब दिए। इन सवालों का कड़ा जवाब WWE दिग्गज एरिक बिशफ ने यहां पर दिया। साथ ही उन्होंने ये भी बताया कि आजकल की स्टोरीलाइन्स में क्या दिक्कत है। और इसे कैसे संभाला जा सकता है।

ये भी पढ़ें: 7 चीजें जो WWE ने इस हफ्ते रॉ के जरिए इशारों-इशारों में बताई

WWE में चल रही स्टोरीलाइन्स को लेकर एरिक बिशफ का बयान

एरिक बिशफ ने WWE में चल रही स्टोरीलान्स के बारे में कहा,

इस समय की स्टोरीलाइन्स काफी बेकार हैं। स्टोरीलाइन घटिया से घटिया होती जा रही है। ये चीज मुझे इस समय WWE में काफी खराब लगती है। ThunderDome लाकर WWE ने जरूर थोड़ा अच्छा काम किया है। इस समय के लिए ये सबसे अच्छा है। मैं जानता था कि WWE थंडरडोम प्रोजेक्ट जरूर लेकर आएगी। यह NBA सहित दूसरों से बेहतर है। मैं जानता था वो ऐसा करेंगे क्योंकि वो लोग ऐसा करने में माहिर हैं। एक चीज जो वो लोग करने में माहिर नहीं है, वह है स्टोरीटेलिंग। मै उन्हें पसंद करता हूं और वहां मेरे कई ऐसे दोस्त हैं जिन्हें मैं काफी प्यार करता हूं। ये चीज इस तथ्य को नहीं झूठला सकती कि वो स्टोरीलाइन, आर्किटेक्चर को सही तरह से अंजाम नहीं दे पाते। जब तक कोई दूसरा आकर उन्हें ईमानदारी से स्टोरीलाइन में खामियां नहीं गिनाएगा तब तक ऐसा ही होता रहेगा।

youtube-cover

एरिक बिशफ WWE के दिग्गजों की लिस्ट में शामिल हैं। वो यहां पर बहुत काम कर चुके हैं। उन्होंने बहुत बड़ी बात समय के लिए बताई है। और ऐसा हो भी रहा है। कोई भी स्टोरीलाइन इस समय देखा जाए तो कुछ खास नहीं चल रही है। पिछले एक साल से इधर से उधर स्टोरीलाइन चल रही है। और इस वजह से ही रेटिंग भी नहीं आ रही है। विंस मैकमैहन को भी इस बात की चिंता नहीं है। वो कुछ दिन कोई नया प्रयोग करते हैं और उसके बाद इसे खत्म कर देते हैं। जिस कारण सुपरस्टार्स को भी नुकसान होता है। अब WWE को इस पर ध्यान देना चाहिए।

ये भी पढ़ें: WWE पेबैक में कीथ ली vs रैंडी ऑर्टन माह के 3 संभावित अंत

Quick Links

Edited by PANKAJ
Be the first one to comment