रोमन रेंस के भाई और दिग्गज पूर्व चैंपियन की WWE में वापसी को लेकर बहुत बड़ा अपडेट सामने आया

द उसोज़, द शील्ड मेंबर्स के साथ
द उसोज़, द शील्ड मेंबर्स के साथ

रेसलमेनिया 36 के लिए एक समय WWE ने स्मैकडाउन टैग टीम चैंपियनशिप के लिए ट्रिपल थ्रेट टैग टीम चैंपियनशिप मैच बुक किया था। लेकिन कई अलग-अलग कारणों की वजह से अंत में उस मैच में तीनों टीमों का केवल एक-एक ही सुपरस्टार रिंग में उतर पाया था।

दुर्भाग्यवश जे उसो इस समय के बाद पूरी तरह अकेले पड़ चुके हैं क्योंकि उनके भाई जिमी उसो को चोट के कारण 6-9 महीने तक रिंग से दूर रहने की सलाह मिली थी।

ये भी पढ़ें: 5 मौके जब WWE में पुरुष रेसलर्स ने महिला रेसलर्स पर हमला किया

talkSport को दिए इंटरव्यू में जे उसो ने बताया कि WWE क्लैश ऑफ चैंपियंस में रोमन रेंस के साथ यूनिवर्सल चैंपियनशिप मैच को लेकर उनके भाई जिमी की क्या प्रतिक्रिया रही।

उन्होंने कहा, "जिमी जानते हैं कि ये मेरे लिए एक बड़ा मोमेंट है और वो इस यादगार पल को मुझसे छीनना नहीं चाहते लेकिन उन्होंने ये भी इच्छा जाहिर की है कि काश वो मेरे साथ मौजूद होते। मेरे साथ-साथ वो भी इस मैच का लुत्फ उठाना चाहते हैं, मैच के दबाव को महसूस और उस यादगार मैच से जुड़े हर मोमेंट को देखना चाहते हैं।"

ये भी पढ़ें: 5 सुपरस्टार्स जिन्हें WWE में वापसी के बाद अधिक सफलता मिली

जे उसो ने उसके बाद ये भी बताया कि जिमी की वापसी जनवरी या फरवरी के समय में संभव है और वो एक बार फिर टैग टीम डिविजन पर छाने को बेताब हैं।

जे ने कहा, "वो अभी रिहैबिलिटेशन प्रोसेस से गुजर रहे हैं और अगले साल जनवरी या फरवरी तक उन्हें रिंग में वापस आने की अनुमति मिल पाएगी।"

youtube-cover

जे उसो WWE में कब तक सिंगल्स सुपरस्टार के तौर पर परफ़ॉर्म करेंगे?

इस समय अधिकतर फैंस इस सवाल का जवाब जानना चाहते हैं कि आखिर कब तक जे उसो WWE में कब तक एक सिंगल्स सुपरस्टार के तौर पर परफ़ॉर्म करने वाले हैं।

हालांकि WWE क्लैश ऑफ चैंपियंस में उनके यूनिवर्सल चैंपियन बनने की संभावनाएं ना के बराबर हैं। जहां तक उनके सिंगल्स सुपरस्टार के तौर पर परफ़ॉर्म करने की बात है तो जिमी उसो की वापसी तक उन्हें इसी तरह की स्टोरीलाइंस में शामिल किया जा सकता है।

जिमी उसो की वापसी के बाद तो निश्चित रूप से द उसोज़ को एक बार फिर टैग टीम स्टोरीलाइंस में ही शामिल किया जाएगा। इस बात में भी कोई संदेह नहीं कि WWE ने जिमी की चोट का भरपूर फायदा उठाने की कोशिश की है।