WWE की बजाए AEW में क्यों गए दिग्गज स्टिंग, सबसे बड़ा कारण सामने आया 

Ankit
WWE
WWE

रेसलिंग दिग्गज और WWE में काम कर चुके स्टिंग ने AEW के विंटर इज कमिंग में एंट्री की और रेसलिंग जगत को हैरान करके रख दिया। WCW के दिग्गज स्टिंग का WWE कॉन्ट्रैक्ट मई में खत्म हुआ था जिसके बाद काफी सारे रिपोर्ट्स आई थी कि वो AEW में जा सकते हैं। अब ये बातें सिर्फ सच नहीं हुई है बल्कि स्टिंग ने खुद बताया है कि कुछ सालों का करार उन्होंने टॉनी खान के साथ किया है। हालांकि रिपोर्ट ये भी सामने आई है कि WWE के साथ स्टिंग साइन कर सकते थे लेकिन उनकी शर्त विंस मैकमैहन ने नहीं मानी।

ये भी पढ़ें: 3 सुपरस्टार्स जिनकी WWE टेलीविजन पर वापसी की सख्त जरूरत है

रेसलिंग के दिग्गज जानकार डेव मैल्टजर ने स्टिंग को लेकर कुछ जानकारी सामने रखी है। बताया जा रहा है कि टॉनी खान स्टिंग को अपने टीवी पर हमेशा रखना चाहते थे जबकि WWE इस दिग्गज को पार्ट टाइम इस्तेमाल करने का मन बना चुका था। स्टिंग भी खुद के लिए इस बार कोई जोखिम नहीं उठाना चाहते हैं , क्योंकि पिछली बार साल 2015 के दौरान स्टिंग को सैथ रॉलिंस के साथ मैच के दौरान चोट लगी थी। उसके बाद उन्हें हॉल ऑफ फेम का सम्मान दिया गया जबकि उन्हें रिंग को अलविदा बोलना पड़ा लेकिन वो हमेशा बोलते रहे कि वो एक मैच लड़ना चाहते हैं।

ये भी पढ़ें: 121 किलो का रेसलर WWE में करेगा रोमन रेंस की जबरदस्त पिटाई

डेव मैल्टजर ने बताया कि स्टिंग एक सिनेमैटिक मुकाबला अंडरटेकर के खिलाफ WWE में चाहते थे। इस मैच को फैंस भी चाहते थे कि रिंग के दो दिग्गज एक साथ दिखे। हालांकि ये विंस मैकमैहन को अटपटा लगा और कभी इसपर अमल नहीं किया।

WWE उन्हें टीवी पर लाने की कोई दिलचस्पी नहीं दिखा रही थी। लेकिन खान उन्हें टीवी पर हमेशा दिखाना चाहते थे। हालांकि स्टिंग खुद के लिए सारे प्लान तैयार कर चुके हैं जिससे उन्हें किसी प्रकार की चोट ना लगे। हालांकि स्टिंग WWE में अंडरटेकर के साथ एक सिनेमैटिक मैच चाहते थे लेकिन कभी भी विंस मैकमैहन ने इसको होने नहीं दिया और स्टिंग बनाम अंडरटकेर सिर्फ बातों में रह गया।

WWE के बाद अब AEW में स्टिंग

रेसलिंग बिजनेस कामयाबी के बांद स्टिंग ने लगभग 6 साल पहले WWE में डेब्यू किया था। हालांकि उनका करियर यहां अच्छा नहीं चला और चोट के कारण रिंग को गुडबाय बोलना पड़ा। अब AEW में स्टिंग चले गए जिससे उस कंपनी को फायदा होगा जबकि WWE को नुकसान हो सकता है। अब देखना होगा कि विंस मैकमैहन क्या प्लान बनाते हैं।