COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

3 कारण जिससे टीम शील्ड का रीयूनियन सफल रहा और 3 कारण जिससे यह असफल रहा

Atul Kushwaha
ANALYST
टॉप 5 / टॉप 10
7.92K   //    07 Mar 2019, 18:46 IST

team shield

रोमन रेंस की वापसी के बाद उनके सभी दर्शकों के मन में सबसे बड़ा प्रश्न यह था कि क्या एक बार फिर टीम शील्ड एक होती हुई नजर आएगी या नहीं? किंतु पिछले मंडे नाइट रॉ के एपिसोड में एक बार फिर टीम शील्ड के तीनों सदस्य एक होते हुए दिखे। डीन एंब्रोज के हील टर्न होने के बाद टीम शील्ड का एक होना लगभग नामुमकिन लग रहा था। किंतु बीच में WWE द्वारा यह बात बताया गया कि डीन एंब्रोज अप्रैल के बाद WWE का हिस्सा नहीं होंगे। जिस कारण से WWE ने एक अंतिम बार टीम शील्ड का रीयूनियन करना उचित समझा।

टीम शील्ड के एक होने के बाद उनका पहला मुकाबला फास्टलेन में बॉबी लैश्‍ले, बैरन कॉर्बिन और ड्रू मैकइंटायर के साथ होने वाला है। तो आइए जान लेते हैं कि WWE द्वारा टीम शील्ड का रीयूनियन करना किस हद तक कामयाब या नाकामयाब रहा?

#3 सफल: डीन एंब्रोज के कंपनी से जाने से पूर्व अंतिम बार टीम शील्‍ड को रीयूनियन

dean ambrose

रोमन रेंस के अनुसार टीम शील्ड को एक करने के पीछे का कारण यह है कि वो डीन एंब्रोज के कंपनी छोड़ने से पहले अंतिम बार अपने भाइयों के साथ मिलकर लड़ना चाहते हैं। डीन एंब्रोज का WWE छोड़ना किसी भी WWE दर्शक के लिए खुशी की बात नहीं है और WWE भी पूर्व WWE चैंपियन को कंपनी से जाने नहीं देना चाहती। किंतु डीन एंब्रोज द्वारा कंपनी छोड़ने का फैसला ले लिया गया है। WWE छोड़ कर जाने से पहले हर कोई इन तीनों रैसलर को एक साथ देखना चाहता है।

#3 असफल: डीन एंब्रोज के हील टर्न होने का कोई अर्थ न निकलना

dean ambrose

डीन एंब्रोज का सैथ रॉलिंस के ऊपर हमला करना, 2018 के सबसे बड़े हील टर्न में से एक है। रोमन रेंस के अपनी बीमारी के बारे में बताने और उसी रात सैथ रॉलिंस के ऊपर डीन एंब्रोज के हमला करने के बाद दर्शकों ने यह सोच लिया था कि लंबे समय तक टीम शील्ड के सभी सदस्य एक होते हुए नजर नहीं आएंगे। किंतु अचानक से WWE द्वारा स्टोरीलाइन को बदलते हुए टीम शील्ड का रीयूनियन करवाया, जिस कारण डीन एंब्रोज का हील टर्न करना बेकार रहा।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

1 / 3 NEXT
Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...