Create
Notifications
Get the free App now
Favorites Edit
Advertisement

WWE इतिहास में 29 साल से रेफरी बने हुए शख्स, जिन्हें कंपनी के सबसे बड़े मैचों को कराने की जिम्मेदारी मिली

  • WWE में करीब 3 दशक अंडरटेकर को भी हो गए हैं, जानें कौन हैं ये रेफरी
SENIOR ANALYST
फ़ीचर
Modified 28 Jun 2019, 14:26 IST

रैसलमेनिया 31 के मेन इवेंट को ऑफिशिएट करते माइक किओडा
रैसलमेनिया 31 के मेन इवेंट को ऑफिशिएट करते माइक किओडा

अक्सर प्रो रैसलिंग देख रहे लोगों का ध्यान सिर्फ रैसलर्स पर टिका होता है कि वो कैसा प्रदर्शन कर रहे हैं। कम ही लोगों की नजर रेफरियों पर जाती है। बहुत लोगों को यही लगता होगा कि रेफरियों का काम मैच में सिर्फ 1, 2, 3 काउंट करना होता है। मगर ऐसा नहीं है, रेफरियों का काम भी बहुत पेचीदगी भरा होता है। WWE में एक रेफरी है, जो पिछले 29 सालों से मैचों को ऑफिशिएट कर रहे हैं, हम बात कर रहे हैं WWE रेफरी माइक किओडा की।

माइक किओडा पिछले 29 सालों से WWE में रेफरी की भूमिका निभा रहे हैं। ये उतना ही टाइम है, जितने टाइम से द अंडरटेकर WWE का हिस्सा बने हुए हैं। उन्होंने कई सारे लैजेंड्स को आते और जाते देखा है। 52 साल के अमेरिकी नागरिक माइक किओडा पहली बार 1989 में WWE में पहली बार नजर आए थे। तब से लेकर अब तक वो कई सारे एतिहासिक मैचों में रेफरी की भूमिका निभा चुके हैं।

Enter caption

उन्होंने WWE के लिए रैसलमेनिया 14 में शॉन माइकल्स vs स्टोन कोल्ड स्टीव ऑर्टन, आर्मागेडन 1999 में ट्रिपल एच vs विंस मैकमैहन, रैसलमेनिया 18 में हल्क होगन vs द रॉक के मैचों में रेफरी की भूमिका अदा की है। हल्क होगन और द रॉक के रैसलमेनिया मैच को लेकर माइक का कहना था कि जब दोनों सुपरस्टार रिंग में आए, तो एरीना का माहौल और क्राउड की प्रतिक्रिया देखकर उनके शरीर में भी सिहरन पैदा हो गई थी।

ये भी पढ़ें: WWE में काम करता है भारतीय मूल का रेफरी

फैंस की जानकारी के लिए बता दें कि माइक 2003, स्मैकडाउन में हुए मैच में रेफरी बने थे, जिसमें ब्रॉक लैसनर ने बिग शो को टॉप रोप से सुपरप्लेक्स मारकर रिंग को तोड़ दिया था। रैसलमेनिया 31 में रोमन रेंस और ब्रॉक लैसनर के मेन इवेंट मैच में भी यही रेफरी थे, जिसमें सैथ ने अपना MITB कैश इन कर दिया था। उन्होंने रैसलमेनिया 15 में स्टोन कोल्ड और द रॉक के मैच को भी ऑफिशिएट किया। इसके अलावा भी उन्होंने अनगिनत यादगार मैचों में रेफरी की भूमिका निभाई है।

माइक किओडा हमें अब भी मैचों में रेफरी बनते हुए दिखते हैं। अक्सर रैसलर्स के लगातार ट्रेवल करने की बात सभी लोग करते हैं, लेकिन वो भूल जाते हैं कि मैच को कराने वाले रेफरियों को भी उतना ही ट्रेवल करना पड़ता है। रेफरियों पर मैचों को ठीक से कराने, रैसलर्स की सेहत का ध्यान रखने, बैकस्टेज से निर्देशों को सुनने और उन्हें अमल में लाने के साथ-साथ मैच को असली दिखाने पर भी काम करना पड़ता है।

Advertisement

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Published 28 Jun 2019, 14:26 IST
Advertisement
Fetching more content...