Create

आईपीएल 2019: मुंबई इंडियंस को किंग्स XI पंजाब के खिलाफ मिली करारी शिकस्त के 3 मुख्य कारण 

Enter caption

3 बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस को मोहाली में खेले गए अहम मुकाबले में घरेलू टीम किंग्स XI पंजाब के हाथों 8 विकेट से करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा। मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 7 विकेट के नुकसान पर 176 रन बनाए ,जिसे पंजाब की टीम ने 19वें ओवर में 2 विकेट खोकर हासिल कर लिया।

पंजाब के लिए जीत की नींव उनके गेंदबाजों ने रखी, जिन्होंने मुंबई को आखिरी ओवरों में ज्यादा रन नहीं बनाने दिए। इसके बाद उनके बल्लेबाजों ने शानदार पारियां खेलते हुए टीम को इस सीजन की दूसरी जीत दिलाई।

मुंबई की यह तीनों मैचों में दूसरी हार है और उनके लिए सबकुछ अच्छा नहीं चल रहा है। आइए नजर डालते हैं मुंबई इंडियंस की हार के मुख्य कारणों पर:

#3) गेंदबाजों का खराब प्रदर्शन

Enter caption

मुंबई इंडियंस गेंदबाजी में लसिथ मलिंगा और जसप्रीत बुमराह के ऊपर काफी निर्भर करते हैं, लेकिन दूसरे गेंदबाज जबतक उनका साथ नहीं देंगे वो हर मैच नहीं जिता सकते। किंग्स XI पंजाब के खिलाफ हुए मैच में भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला।

शुरुआती ओवरों में मलिंगा और बुमराह को संभालकर खेलते हुए पंजाब के सलामी बल्लेबाजों ने विकेट नहीं गंवाया। इसके बाद मिचेल मैक्लेनाघन, हार्दिक पांड्या और क्रुणाल पांड्या के ऊपर अच्छे से आक्रमण करते हुए मुंबई टीम के ऊपर दबाव बनाया। मुंबई को आने वाले मैचों में अपनी गेंदबाजी के बारे में सोच विचार करना होगा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#2) मयंक अग्रवाल की धुआंधार पारी

Enter caption

किंग्स XI पंजाब जब 177 रनों का पीछा करने आई, तो क्रिस गेल ने 24 गेंदों में 40 रन बनाकर सधी हुई शुरुआत दी थी। हालांकि दूसरे छोर से केएल राहुल काफी संघर्ष कर रहे थे।

इस मौके पर मयंक अग्रवाल ने आकर मोर्चा संभाला और आते ही बड़े शॉट खेलने शुरू कर दिए। मयंक ने 4 चौके और 2 छक्कों की मदद से 43 रनों की धुआंधार पारी खेल टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाया और इससे राहुल को भी विकेट पर समय बिताने का समय मिला। मयंक को उनकी शानदार पारी के लिए मैन ऑफ द मैच भी चुना गया।

#1) मुंबई के मध्यक्रम की खराब बल्लेबाजी

Enter caption

मुंबई इंडियंस को क्विंटन डी कॉक और रोहित शर्मा ने अच्छी शुरुआत दिलाई और फिर डी कॉक ने युवराज सिंह के साथ मिलकर मुंबई को मजबूत स्थिति में लेकर गए। हालांकि 13वें ओवर में डी कॉक (60) के आउट होने के बाद मध्यक्रम के ऊपर जिम्मेदारी थी कि वो मुंबई को विशाल स्कोर तक लेकर जाए।

यहां से युवराज सिंह (22 गेंद में 18 रन) , किरोन पोलार्ड (9 गेंद में 7 रन) और क्रुणाल पांड्या (5 गेंद में 10 रन) गलत मौकों पर आउट हुए, जिससे पूर्व चैंपियन लय ही नहीं प्राप्त कर पाए। हार्दिक पांड्या ने जरूर 31 रनों की पारी खेलकर टीम को 176 के स्कोर तक पहुंचाया। हालांकि इस पिच के हिसाब से यह स्कोर 15 से 20 रन कम था, जोकि अंत में मुंबई के लिए काफी भारी पड़ा।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता
Be the first one to comment