IND vs SA के बीच होगा T20 World Cup का फाइनल? बारिश बन सकती है सेमीफाइनल में विलन; जानिए किसे होगा फायदा और नुकसान

सेमीफाइनल के लिए भारत, इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और अफगानिस्तान ने क्वालीफाई किया है (Photos Credit: Getty Images)
सेमीफाइनल के लिए भारत, इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और अफगानिस्तान ने क्वालीफाई किया है (Photos Credit: Getty Images)

T20 World Cup 2024 Weather report for semi final matches: आईसीसी मेंस टी20 वर्ल्ड कप 2024 अपने अंतिम पड़ाव पर है और अब मौजूदा संस्करण में सिर्फ सेमीफाइनल मुकाबले व फाइनल खेला जाना बाकी है। सुपर 8 स्टेज के बाद ग्रुप 1 से भारत और अफगानिस्तान ने सेमीफाइनल में जगह बनाई। वहीं, ग्रुप 2 से दक्षिण अफ्रीका और अफगानिस्तान ने अपना स्थान पक्का किया। पहला सेमीफाइनल मुकाबला वेस्टइंडीज के समयनुसार 26 जून शाम 8:30 बजे (भारत में 27 जून सुबह 6 बजे) से त्रिनिदाद के ब्रायन लारा स्टेडियम में खेला जाना है। वहीं, दूसरा सेमीफाइनल 27 जून को वेस्टइंडीज के हिसाब से सुबह 10:30 बजे और भारत के समयानुसार शाम 8 बजे से गुयाना के प्रोविडेंस स्टेडियम में खेला जाएगा। हालांकि, मौसम विभाग के मुताबिक इन दोनों ही मुकाबलों में बारिश का साया है।

ऐसे में हम आपको बताएंगे कि बारिश की स्थिति में आईसीसी की प्लेइंग कंडीशंस और नियम क्या है। वहीं, मुकाबलों के रद्द होने की स्थिति में किस टीम को फायदा होगा और किसे निराशा झेलनी पड़ेगा।

त्रिनिदाद और गुयाना में कैसा है मौसम का हाल

दक्षिण अफ्रीका और अफगानिस्तान के बीच मैच वाले दिन त्रिनिदाद में तूफ़ान की आशंका है और बारिश भी हो सकती है। ऐसे में मुकाबले में भी खलल पड़ सकता है। वहीं, भारत और इंग्लैंड के मैच वाले दिन गुयाना में भी बारिश की संभावना है। ऐसे में यह मुकाबला भी चपेट में आ सकता है। हालांकि, इन दोनों ही मुकाबलों को लेकर आईसीसी की प्लेइंग कंडीशंस और नियम अलग-अलग हैं।

ICC के द्वारा सेमीफाइनल के लिए बनाए गए नियम

टी20 वर्ल्ड कप 2024 के लिए आईसीसी की प्लेइंग कंडीशंस दोनों सेमीफाइनल के लिए अलग हैं। पहले सेमीफाइनल के लिए रिज़र्व डे रखा गया है लेकिन दूसरे सेमीफाइनल के लिए सिर्फ 250 मिनट अतिरिक्त रखे गए हैं। ऐसे में मुकाबले रद्द होने की स्थिति में किसी को फायदा हो सकता है और किसी को नुकसान भी।

सेमीफाइनल मुकाबले रद्द होने पर किसे होगा फायदा?

अगर किसी मुकाबले में बारिश का खलल होता है तो पहला प्रयास दोनों टीम के लिए 10-10 ओवर का खेल होगा। जब यह संभव नहीं होगा तो फिर मुकाबले को रद्द किया जा सकता है और सुपर 8 स्टेज में अपने ग्रुप की अंक तालिका में बेहतर स्थिति वाली टीम को आगे जाने का मौका मिलेगा। सरल शब्दों में कहें तो पहला सेमीफाइनल रद्द होने पर दक्षिण अफ्रीका को फायदा होगा और वह फाइनल में पहुंच जाएगी। वहीं, दूसरा सेमीफाइनल रद्द हुआ तो भारत को फायदा होगा। अगर दोनों ही सेमीफाइनल मुकाबले दुर्भाग्यवश रद्द होते हैं तो फिर फाइनल मुकाबला भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच होगा, क्योंकि इन दोनों ने ही सुपर 8 स्टेज का समापन अपने-अपने ग्रुप में पहले स्थान पर किया था।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
App download animated image Get the free App now