बर्थडे स्पेशल : भारतीय फुटबॉल कप्तान सुनील छेत्री के बारे में ये बातें जान आप भी हो जाएंगे हैरान

सुनील छेत्री 39 साल की उम्र में भी टीम इंडिया के सबसे फिट खिलाड़ियों में शामिल हैं।
सुनील छेत्री 39 साल की उम्र में भी टीम इंडिया के सबसे फिट खिलाड़ियों में शामिल हैं।

भारतीय फुटबॉल की पहचान आज जिस खिलाड़ी के नाम से होती है वो हैं सुनील छेत्री, जो न सिर्फ सर्वाधिक अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेलने वाले भारतीय फुटबॉलर हैं बल्कि सर्वाधिक अंतरराष्ट्रीय गोल करने के मामले में दुनिया के टॉप 5 खिलाड़ियों में शामिल हैं। 3 अगस्त को सुनील का जन्मदिन होता है और आज हम आपको सुनील के बारे में ऐसी बातें बताएंगे जो शायद ही आप जानते हों।

1) फुटबॉल परिवार में हुआ जन्म

फुटबॉल का खेल सुनील को विरासत में मिला है। सुनील के पिता के बी छेत्री भारतीय सेना में अधिकारी के पद पर तैनात होने के साथ ही सेना की फुटबॉल टीम का हिस्सा भी थे। सुनील की मां खुद नेपाल की महिला टीम की सदस्य रही हैं। खास बात यह है कि सुनील की मां की जुड़वा बहन भी नेपाल के लिए फुटबॉल खेल चुकी हैं। ऐसे में सुनील का फुटबॉल के प्रति झुकाव बचपन से ही रहा। इतना ही नहीं, सुनील की पत्नी सोनम भट्टाचार्य भी पूर्व भारतीय फुटबॉलर सुब्रत भट्टाचार्य की बेटी हैं।

2) देशभर में हुई परवरिश

सुनील छेत्री का जन्म 3 अगस्त 1984 को हैदराबाद में हुआ। एक इंटरव्यू में सुनील ने बताया कि दो साल हैदराबाद में रहने के बाद उनका परिवार सिक्किम गया। यहां से उनके पिता का ट्रांसफर कोलकाता हुआ जहां दूसरी से पांचवी क्लास तक की पढ़ाई सुनील ने की। इसके बाद उनके पिता दिल्ली गए जहां सुनील ने 12वीं तक की पढ़ाई पूरी की। पिता की नौकरी के कारण सुनील की परवरिश देश के अलग-अलग स्थानों पर हुई।

3 ) खेल के कारण बदला स्कूल

सुनील छेत्री ने क्लास 6 से 10वीं तक की पढ़ाई दिल्ली में आर्मी पब्लिक स्कूल से की है। लेकिन शुरुआत से फुटबॉल खेल रहे सुनील के स्कूल की टीम फुटबॉल टूर्नामेंट में ज्यादा अच्छा नहीं कर पाती थी। ऐसे में सुनील ने दिल्ली में फुटबॉल में अच्छा कर रहे ममता मॉडर्न स्कूल में पढ़ाई करने की ठानी। सुनील ने अपने पिता को बताए बिना ही आर्मी पब्लिक स्कूल से अपना नाम कटवाने की अर्जी दे दी और ममता मॉडर्न स्कूल पहुंच गए और दो साल के लिए घर में न रहकर स्कूल के हॉस्टल में ही रहे।

4) पाकिस्तान के खिलाफ डेब्यू

सुनील छेत्री ने अपने अंतरराष्ट्रीय जूनियर एवं सीनियर करियर की शुरुआत पाकिस्तान के खिलाफ ही की। मार्च-2004 में सुनील ने साउथ एशियन गेम्स में अंडर-20 भारतीय टीम के लिए डेब्यू किया और पाकिस्तान की अंडर-23 टीम के खिलाफ मैच खेला। जून-2005 में सुनील ने पाकिस्तान के खिलाफ अपने अंतरराष्ट्रीय सीनियर करियर की शुरुआत की।

5) सचिन, अमिताभ बच्चन के फैन

सुनील छेत्री क्रिकेटर सचिन तेंदुल्कर और मुक्केबाज एमसी मेरी कॉम के काफी बड़े प्रशंसक हैं। सुनील के मुताबिक एक बार वह एक समारोह में सचिन के साथ बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित थे, लेकिन वह सचिन को देख काफी घबरा गए और नर्वस हो गए थे। सुनील अभिनेता अमिताभ बच्चन को भी काफी पसंद करते हैं।

6) छोले भटूरे के दीवाने

सुनील छेत्री खान-पान के शौकीन हैं। बतौर खिलाड़ी उन्हें अपनी डाइट पर काफी ध्यान देना होता है और ऐसे में अपना पसंदीदा खाना खाने का मौका नहीं मिल पाता लेकिन लेकिन वह छोले भटूरे खाने का बेसब्री से इंतजार करते हैं। सुनील को समोसे और पराठे भी काफी पसंद हैं।

7) बैकबेंच में बैठना पसंद

सुनील स्कूल के समय से ही क्लास में सबसे पीछे बैठना पसंद करते थे। एक इंटरव्यू में सुनील ने बताया कि फुटबॉल कैम्प में भी वह सबसे आखिर में बैठते थे। सुनील के मुताबिक स्कूल और फुटबॉल अकादमी में वह और उनके कुछ साथी सबसे आगे बैठने वाले बच्चों का मजाक बनाया करते थे।

8) पढ़ने का है शौक

सुनील को किताबें पढ़ने का शौक है। एक समय सुनील को पढ़ने से काफी चिढ़ थी लेकिन अब वह अपना खाली समय किताबें पढ़ने में ही बिताते हैं। सुनील साथ ही अध्यात्म से जुड़ी बातों को सुनना भी पसंद करते हैं।

Edited by Prashant Kumar
App download animated image Get the free App now