Create
Notifications

नागकेसर के 5 फायदे : Nagkesar ke 5 fayde

नागकेसर के 5 फायदे ( Sportskeeda Hindi )
नागकेसर के 5 फायदे ( Sportskeeda Hindi )
Shilki Rathore
visit

नागकेसर (Nagkesar) का पौधा एक औषधीय पौधा है। जिसका उपयोग कई तरह की बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता है। इस पौधे के फूल, फल, बीज सभी हिस्सों का इस्तेमाल औषधि के रूप में किया जाता है। इस फूल का रंग सफेद और पीला होता है, इसके अंदर पाए जाने वाला, पीले केसरी रंग के पुंकेसरी गुच्छों में होते हैं, जिसे 'नागकेसर' कहा जाता है। नागकेसर कसैला, गर्म, लघु, कफ-पित्त नाशक, तीखा, होता है। इसके पुंकेसर से बनने वाला एसेंशियल ऑयल (Essential oil) में एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। आइये जानते हैं नागकेसर के फायदे-

नागकेसर के चौंकाने वाले फायदे

सर्दी जुकाम में दिलाए राहत (Provide relief in winter cold)

नागकेसर जुकाम में बहुत फायदेमंद होता है, यदि किसी को जुकाम की शिकायत हो या फिर अक्सर सर्दी जुकाम बनी रहती हो तो, इसके उपचार के लिए उन लोगों को नागकेसर के पौधे के पत्तों को पीसकर माथे पर उसका लेप लगाना चाहिए। इससे आपको इस परेशानी से जल्द ही राहत मिलेगी।

हिचकी को रोकने में मदद करे (Help stop hiccups)

कई बार अचानक से शुरू हुई हिचकी को रोकना मुश्किल हो जाता है, ऐसे में नागकेसर के चूर्ण का सेवन करके हिचकी रोकी जा सकती है, इसके लिए आपको नागकेसर के चूर्ण को शहद में मिलाकर इसका सेवन करें, या फिर गन्ने के रस में भी मिलाकर पीने से हिचकी बंद हो सकती है।

पेट की समस्या करे दूर ( Cure stomach problems)

किसी को पेट की समस्या बनी रहती है, जैसे कि अपच, ऐसिडिटी, पेट में जलन, सूजन, पेट दर्द आदि दिक्कतों को दूर करने के लिए नागकेसर के चूर्ण का उपयोग करना चाहिए। इसके चूर्ण को शहद में मिलाकर खाने से पेट की समस्या ठीक होती है।

जोड़ो के दर्द में मिले आराम ( Relief in joint pain)

जोड़ो का दर्द अब आम बात हो गई है, ये दर्द अब कभी भी किसी भी उम्र के लोगों को होने लगा है। इस दर्द से राहत पाने के लिए, नागकेसर के बीजों के तेल को दर्द वाली जगह पर लगाएं और हल्के हाथों से मालिश करें, इसका इस तरह उपयोग करने से दर्द में आराम मिलता है।

नागकेसर से दस्त के साथ खून आने की समस्या को करें दूर (Remove the problem of bleeding with diarrhea with Nagkesar)

पेट में ज्यादा गर्मी, खराब खानपान या अन्य कारणों से दस्त के साथ कई बार खून भी निकलने लगता है, जिसके शिकार ज्यादातर बच्चे होते हैं, हालांकि बड़ों में भी यह दिक्कत होना अब आम बात है, इसके लिए नागकेसर का चूर्ण बहुत फायदेमंद है, इसके चूर्ण का मक्खन या शहद के साथ सेवन करने से दस्त के साथ खून आने की समस्या दूर होती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Shilki Rathore
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now