Create
Notifications

पायरिया के 6 लक्षण और 5 घरेलू इलाज- Pyorrhea Ke 6 Lakshan Aur 5 Gharelu Ilaaj

पायरिया के लक्षण और घरेलू इलाज(फोटो-Sportskeeda hindi)
पायरिया के लक्षण और घरेलू इलाज(फोटो-Sportskeeda hindi)
Rakshita Srivastava
visit

पायरिया (Pyorrhea) मुंह के स्वास्थ्य से जुड़ी बीमारी है, जो दांतों और मसूड़ों को बुरी तरह से प्रभावित करती है। पायरिया की शिकायत होने पर दांत सड़ने लगते हैं, दांतों और मसूड़ों में असहनीय दर्द होता है, मसूड़ों से खून आने लगते हैं। पायरिया की बीमारी मुंह में मौजूद खराब बैक्टीरिया के कारण होती है। जब हम अपने दांतों की अच्छी तरह से सफाई नहीं करते हैं, तब धीरे-धीरे कर के बैक्टीरिया मुंह के अंदर जमने लगते हैं, जिससे दांत कमजोर हो जाते हैं। पायरिया की बीमारी एक गंभीर बीमारी है, इसलिए इस बीमारी को हल्के में नहीं लेना चाहिए, समय रहते इसका इलाज करा लेना चाहिए। आइए जानते हैं पायरिया के क्या-क्या लक्षण होते हैं और इस बीमारी से कैसे निजात पाया जा सकता है।

पायरिया के 6 लक्षण और 5 घरेलू इलाज

पायरिया के लक्षण

1- मसूड़ों से खून आना

2- मुंह से बदबू आना

3- दांत कमजोर हो जाना

4- मसूड़ों में सूजन

5- दांतों और मसूड़ों में दर्द

6- किसी भी चीज को चबाने में दर्द

पायरिया के घरेलू इलाज

1- पायरिया की शिकायत होने पर नारियल तेल (Coconut Oil) से ऑयल पुलिंग करना काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि नारियल तेल में एंटी-माइक्रोबियल गुण पाया जाता है, जो पायरिया की शिकायत को ठीक करने में काफी मददगार साबित होता है।

2- पायरिया की शिकायत होने पर तुलसी (Tulsi) का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि तुलसी के पत्तों में एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल गुण पाया जाता है, जो पायरिया की शिकायत को दूर करने में काफी मददगार साबित होता है। इसके लिए तुलसी के पत्तों को चबाकर खाना चाहिए।

3- पायरिया की शिकायत होने पर बेकिंग सोडा (Baking Soda) काफी लाभदायक साबित होता है। क्योंकि बेकिंग सोडा में भी एंटी बैक्टीरियल तत्व पाये जाते हैं, जो पायरिया की बीमारी से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित होते हैं। इसके लिए बेकिंग सोडा में हल्का सा पानी मिलाकर उससे दांतों की मालिश करनी चाहिए।

4- पायरिया की शिकायत होने पर नीम (Neem) की पत्तियों का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि नीम की पत्तियों में एंटी बैक्टीरियल, एंटी फंगल गुण पाये जाते हैं, जो पायरिया की बीमारी को दूर करते हैं। इसके लिए नीम की पत्तियों को चबाकर खाना चाहिए, या फिर नीम की पत्तियों के रस को मुंह में चारों तरफ लगाना चाहिए।

5- पायरिया की बीमारी होने पर नमक (Salt) काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि नमक में एंटी बैक्टीरियल गुण पाये जाते हैं, इसलिए अगर आप एक गिलास पानी में नमक मिलाकर उससे कुल्ला करते हैं, तो पायरिया की बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava
Fetching more content...
Article image

Go to article
App download animated image Get the free App now