सीने में दर्द के 7 कारण और 3 उपचार - Seene Mein Dard Ke 7 Karan Aur 3 Upchar

सीने में दर्द के 7 कारण और 3 उपचार (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
सीने में दर्द के 7 कारण और 3 उपचार (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

अचानक सीने में दर्द (chest pain) होना अन्य बीमारियों को बढ़ावा दे सकता है। मांसपेशियों और हड्डियों में दर्द, एसिड रिफ्लक्स, एसिडिटी, हार्ट अटैक, सीने में दर्द के कारण हो सकते हैं। सीने में दर्द कभी-कभी गंभीर हो सकता है। इसे नजरअंदाज ना करें, ऐसे में डॉक्टर को संपर्क करना जरूरी होता है। सीने में दर्द सुई चुभने जैसा महसूस हो सकता है। इस लेख में सीने में दर्द के कारण और उपचार बताए गए हैं। आइये इन्हें विस्तार से जानें।

सीने में दर्द के 7 कारण और 3 उपचार

सीने में दर्द के कारण : Seene Mein Dard Ke Karan In Hindi

1. गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स रोग (gastroesophageal reflux disease)

2. दिल का दौरा (Heart attack)

3. निमोनिया (Pneumonia)

4. दमा (asthma)

5. पित्त पथरी (gallstone)

6. पैनिक अटैक (panic attack)

7. मांसपेशियों में तनाव (muscle strain)

सीने में दर्द के घरेलू उपचार : Seene Mein Dard Ke Gharelu Upchar In Hindi

1. लहसुन (Garlic)

अचानक सीने में दर्द, भारीपन और जलन होने पर लहसुन या लहसुन के रस का सेवन फायदेमंद होता है। उपयोग के लिए - लहसुन के रस को गर्म पानी के साथ लें। कच्चा लहसुन खाने से भी सीने में दर्द और पाचन समस्याएं दूर हो सकती हैं। लहसुन हृदय स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है। कई बार हृदय रोग होने पर भी सीने में दर्द होता है। ऐसे में डॉक्टर की जांच जरूरी है ताकि समय पर समस्या का पता चल सके। अन्य बीमारियों में, लहसुन का उपयोग मधुमेह, उच्च रक्तचाप, गठिया आदि में भी किया जाता है।

2. तुलसी (Tulsi)

आयुर्वेद के अनुसार, तुलसी के पत्ते का उपयोग औषधि बनाने में किया जाता है। सीने के दर्द में तुलसी लाभकारी है। उपयोग के लिए - तुलसी के पत्तों को चबाकर खाएं, इससे सीने के दर्द में आराम मिलेगा और इससे भारीपन व दबाव को सही किया जा सकता है। इसका इस्तेमाल चाय या काढ़ा बना कर किया जा सकता है।

3. विटामिन D (Vitamin D)

विटामिन D की कमी से भी सीने में दर्द हो सकता है। हर बार यह दर्द किसी हृदय रोग के कारण नहीं होता है। इसके उपाय के लिए आप पर्याप्त मात्रा में विटामिन D लें। विटामिन डी की कमी को जानने के लिए जांच करवाना जरूरी होता है। सुबह की धूप लेने के अलावा, दूध, मछली, अंडे, मशरूम आदि के सेवन से फायदे मिलते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now