दिमाग की शक्ति बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय - Dimaag Ki Shakti Badhaane Ke Ayurvedic Upay

दिमाग की शक्ति बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
दिमाग की शक्ति बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

याददाश्त और दिमाग की शक्ति बढ़ाने के लिए नेचर ने हमें कई खाद्य पदार्थ दिए हैं। यह आसानी से आपके घर में मिल सकते हैं और इनका सही मात्रा में इस्तेमाल करना फायदेमंद होता है। इस लेख में दिमाग की शक्ति बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय बताए गए हैं। आइये इनके बारे में विस्तार से जानते हैं।

दिमाग की शक्ति बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय

1. अलसी के बीज (Flax Seeds)

अलसी के बीज यानी फ्लक्स सीड्स ओमेगा 3 फैटी ऑक्सीड के अच्छा स्रोत होते हैं। ओमेगा 3 फैटी एसिड हमारे रक्‍त परिसंचरण को बढ़ावा देने में मदद करता है और उच्‍च रक्‍तचाप को नियंत्रित व कम करने में लाभदायक होता है। कार्डियोवैस्‍कुलर प्रणाली और मस्तिष्‍क कोशिकाओं के लिए ओमेगा 3 बहुत फायदेमंद होता है। याददाश्त में बढ़ोतरी देखने के लिए भी अलसी के बीजों का सेवन करना सही माना जाता है। यह दिमाग की एकाग्रता शक्ति को भी बढ़ावा देते हैं। उपयोग के लिए, आप इन्हें सलाद, स्मूथी, पानी आदि में इस्तेमाल कर सकते हैं।

2. रोजमेरी (Rosemary)

नेचर हमें ऐसे बहुत सी ऐसी चीज़ें देता है जो हमारी दिमाग को तेज़ बनाने में मदद कर सकती हैं। इनमें रोजमेरी भी शामिल है। रोजमेरी याददाश्‍त बढ़ाने में लाभदायक होती है। उपयोग के लिए, एक बर्तन में 1 चम्‍मच सूखे रोजमेरी पाउडर को उबालें और ताजा रोजमेरी की कुछ मात्रा को ऊपर से छिड़क सकते हैं। इसे अच्छे से 4-5 मिनट तक उबलने दें। आप इसमें शहद भी मिला सकते हैं, यह इस ड्रिंक को मीठा स्वाद देगा। इस ड्रिंक का सेवन प्रतिदिन करने से अच्छे परिणाम प्राप्त होंगे। इसे पीने से याददाश्‍त बढ़ाने में मदद मिलेगी।

3. अखरोट (Walnut)

ड्राई फ्रूट्स के फायदों के बारे में हम सभी जानते हैं, लेकिन दिमाग की शक्ति बढ़ाने के लिए अखरोट के फायदे सबसे ज्यादा होते हैं। दिमाग तेज़ करने में और याददाश्त बढ़ाने में अखरोट खाने का सुझाव दिया जाता है। अखरोट में ओमेगा 3 फैटी ऐसिड मौजूद होता है। आप सुबह नाश्ते में खा सकते हैं। आपको बता दें कि रक्‍तवाहिकाओं के स्वास्थ्य के लिए इनका सेवन अच्छा होता होता है, जिसके कारण हृदय रोग का खतरा कम हो जाता है। अखरोट में विटामिन E जैसे गुणों के कारण मेमोरी फंक्शन और एकाग्रता क्षमता में भी वृद्धि होती है।

4. जिनसेंग (Ginseng)

प्राचीन काल से उपचार के रूप में जिनसेंग का इस्तेमाल किया जाता आ रहा है। यह स्‍मरण शक्ति और एकाग्रता में बढ़ोतरी के लिए उपयोग किया जाता है। यह जड़ी-बूटी याददाश्त बढ़ाने की क्षमता और दिमाग की शक्ति के लिए फायदेमंद होती है। बच्चों की स्मरण शक्ति बढ़ाने के लिए जिनसेंग का उपयोग किया जा सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now