Create

सोरायसिस का आयुर्वेदिक इलाज- psoriasis ka Ayurvedic ilaj

सोरायसिस का बेहतरीन आयुर्वेदिक इलाज
सोरायसिस का बेहतरीन आयुर्वेदिक इलाज

Ayurvedic Treatment for psoriasis in hindi: अगर आपकी खूबसूरत त्वचा या फिर शरीर के किसी भी अंग पर कोई भी रोग हो जाए तो कैसा लगेगा। चेहरा और शरीर न सिर्फ भद्दा लगेगा बल्कि, हमें बाहर निकलने में भी शर्म आएगी। कई सारी त्वचा से जुड़ी समस्याएं हैं जिनके हो जाने के कारण त्वचा की रंगत खराब हो जाती है। इसमें से एक है सोरायसिस जो एक ऐसी त्वचा रोग है जिसके हो जाने पर उस स्थान पर लाल-लाल चकत्ते बन जाते हैं और साथ ही तेज जलन भी होने लगती है। सोरायसिस का कुछ आयुर्वेदिक उपचार है जिसके जरिए इसे ठीक किया जा सकता है।

क्या है सोरायसिस |what is psoriasis in Hindi

आगे बढ़ने से पहले बता दे कि, पूरी दुनिया हर साल 29 अक्टूबर को विश्व सोरायसिस दिवस मनाती है। पूरी दुनिया में करीब 125 मिलियन लोग सोरायसिस से ग्रसित हैं। सोरायसिस एक त्वचा संबंधी रोग है। ये टी लिम्फोसाइट्स नामक कोशिकाओं के कारण होता है, जो शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली का हिस्सा होता है। आयुर्वेद में इस रोग का मुख्य कारण शरीर की कमजोर रोग प्रतिरोधक प्रणाली को माना जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि, जब शरीर की इम्युनिटी कमजोर होती है तो बैक्टीरिया सबसे पहले हमारे त्वचा पर ही हमला करता है।

सोरायसिस का आयुर्वेदिक इलाज | ayurvedic treatment for psoriasis in hindi

पानी (Water will cure psoriasis disease)

सोरायसिस के होने पर आपको खूब जलन होगी और साथ ही खुजली भी। ऐसे में आपको पानी का सेवन बढ़ा देना होगा। सर्दियों में हुआ है तो भी और गर्मियों में यह बीमारी हुई तो भी पानी खूब पीएं। इससे शरीर से जहरीले तत्व बाहर निकल जाते हैं।

केले के पत्ते (Banana leaves end psoriasis disease)

सोरायसिस की समस्या होने पर केले के पत्ते और पत्ता गोभी का इस्तेमाल पुराने समय से ही होते आ रहा है। ये इसके उपचार का सबसे कारगर उपाय माना जाता है। हालांकि, कई बार इससे भी ठीक नहीं होता तो भी हमें डॉक्टर से संपर्क कर लेना चाहिए। जहां आपको सोरायसिस हुआ है वहां पर इसके पत्तों को बांध लें। इससे जल्द ही राहत मिल सकता है।

नमक (Salt in psoriasis)

सोरायसिस की समस्या से परेशान हैं तो फिर नमक का सेवन कम कर दें। अगर बंद कर देंगे तो और भी ज्यादा सही रहेगा। हालांकि, संक्रमित जगह पर हर रोज अगर पानी में नमक मिलाकर सफाई करते हैं तो इससे काफी आराम मिल सकता है।

फलाहार (Ayurvedic treatment for psoriasis is fruit diet)

सोरायसिस की समस्या में फल काफी काम आ सकता है। आयुर्वेद के मुताबिक, इससे ग्रस्त रोगियों को बीमारी के पहले 15 दिनों तक सिर्फ फल ही खाना चाहिए। उसके बाद ज्यादा से ज्यादा दूध और फलों के रस का सेवन करे। इससे होगा ये कि आपके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाएगी और इम्यूनिटी कमजोर होने पर इसका सबसे पहले फर्क त्वचा पर पड़ता है। तो ऐसे में यह आपके लिए फायदेमंद रहेगा।

बादाम (Almond removes the problem of psoriasis)

बादाम से भी सोरायसिस की समस्या ठीक हो सकती है। इसके लिए रात को सोने से कुछ देर पहले 10 बादाम लें और उसका पाउडर बना लें। इसके बाद इसे एक गिलास पानी में उबाल लें और ठंडा होने के बाद प्रभावित जगह पर लगा कर रात भर के छोड़ दें। इसके साथ ही चंदन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे इस परेशानी से जल्दी छुटकारा मिल सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment