नाभि में जैतून का तेल लगाने से दूर होती है कई बीमारियां- Nabhi Me Jaitun Ka Tel Lagane Se Dur Hoti Hai Kai Bimariya

नाभि में जैतून का तेल लगाने से दूर होती है कई बीमारियां(फोटो-Sportskeeda hindi)
नाभि में जैतून का तेल लगाने से दूर होती है कई बीमारियां(फोटो-Sportskeeda hindi)

नाभि में तेल (Oil in navel) लगाना एक बहुत ही पुरानी प्रक्रिया है, नाभि में तेल लगाना स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। नाभि में तेल लगाने से कई बीमारियां दूर होती है। बता दें कि नाभि हमारे शरीर का मध्य बिंदु होता है और हमारे शरीर की कई तंत्रिकाएं आपस में जुड़ी हुई हैं। इसलिए नाभि में तेल लगाने से शारीरिक के साथ-साथ मानसिक समस्याएं भी ठीक होती है। लेकिन अब सवाल ये उठता है कि नाभि में कौन सा तेल लगाना चाहिए, नाभि में वैसे तो आप सरसों, लौंग, तिल, नारियल का तेल लगा सकते हैं। लेकिन अगर आप नाभि में जैतून का तेल (Olive oil) लगाते हैं, तो यह स्वास्थ्य को काफी लाभ पहुंचाता है। आइए जानते हैं नाभि में जैतून का तेल लगाने के क्या-क्या फायदे होते हैं।

नाभि में जैतून का तेल लगाने से दूर होती है कई बीमारियां

1- नाभि में जैतून का तेल लगाना स्किन (Skin) के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि जैतून के तेल में विटामिन ई की अच्छी मात्रा पाई जाती है और विटामिन ई स्किन के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसलिए अगर आप नाभि में जैतून का तेल लगाते हैं, तो इससे स्किन पर ग्लो आता है, स्किन का रूखापन दूर होता है और होंठ भी मुलायम होते हैं।

2- नाभि में जैतून का तेल लगाना स्किन के साथ-साथ बालों के लिए भी लाभदायक साबित होता है। क्योंकि विटामिन ई जितना जरूरी स्किन के लिए होता है और उतना ही बालों के लिए भी होता है। इसलिए अगर आप नाभि में जैतून का तेल लगाते हैं, तो इससे बालों का रूखापन दूर होता है।

3- नाभि की गदंगी को साफ करना बहुत जरूरी होता है, क्योंकि नाभि में मौजूद गदंगी की वजह से संक्रमण का खतरा बना रहता है। इसलिए नाभि की गदंगी को साफ करने से रोजाना रात में जैतून का तेल लगाना चाहिए, क्योंकि इससे संक्रमण से बचा जा सकता है।

4- नाभि में जैतून का तेल लगाने से पेट दर्द (Stomach Pain) की शिकायत को दूर किया जा सकता है। साथ ही अगर किसी को कब्ज की शिकायत रहती है, तो भी आप नाभि में जैतून का तेल डाल सकते हैं। इससे कब्ज की शिकायत भी दूर होती है।

5- नाभि में जैतून का तेल लगाना हड्डियों (Bones) और जोड़ों के दर्द (Joint Pain) की शिकायत को ठीक करने में काफी मददगार साबित होता है। क्योंकि जैतून के तेल में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाये जाते हैं, जो दर्द को कम करने में मदद करते हैं।

6- महिलाओं को अक्सर कर पीरियड्स (Periods) के समय असहनीय पेट दर्द की शिकायत रहती है। लेकिन अगर आप पीरियड्स के समय नाभि में जैतून का तेल लगाती है, तो इस दर्द में काफी हद तक आराम मिलता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
App download animated image Get the free App now