काले गोंद के जबरदस्त फायदे : kale gond ke jabardast fayde

काले गोंद के जबरदस्त फायदे (फोटो - Sportskeda hindi)
काले गोंद के जबरदस्त फायदे (फोटो - Sportskeda hindi)

काला गोंद (Black Gond) का सेवन स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होता है। काला गोंद एक तरह का चिपचिपा पदार्थ होता है जो पेड़ के तने पर चीरा लगाने से निकलता है। ये गोंद नीम, (Neem) बबूल, सहजन, पीपल आदि पेड़ों से निकलता है, जो सूखने के बाद कड़ा हो जाता है। काला गोंद की तासीर ठंडी होती है, जिसका सेवन करने से शरीर को भी ठंडक मिलती है। इसमें कई तरह के औषधीय गुण पाए जाते हैं, जो विभिन्न तरह की बीमारियों से बचाने के काम आते हैं। ज्यादातर नीम, आम, हींग से निकलने वाली गोंद का ही इस्तेमाल किया जाता है, नीम के पेड़ से निकलने वाली गोंद कड़वी होती है, जिसे आयुर्वेदिक उपचारों के इस्तेमाल में लाया जाता है। आइए जानते हैं काले गोंद के फायदे-

काले गोंद से होने वाले फायदे

काला गोंद की तासीर वैसे तो ठंडी होती है, लेकिन किसी को सर्दी-जुकाम (Cold and Cough) की समस्या हो तो, ऐसे में गोंद को सेक कर उसे खाने से शरीर को गरमाहट मिलती है, और सर्दी जुकाम में बहुत जल्द आराम भी मिलता है।

काला गोंद का सेवन करने से पाचन क्रिया (Digestion) दुरुस्त रहती है, काला गोंद में भरपूर मात्रा में फाइबर मौजूद होता है, जिसके उपयोग से कब्ज से राहत मिलती है। काला गोंद के सेवन से ऐसिडिटी (Acidity), पेट में होने वाली मरोड़ में भी आराम मिलता है। गोंद का सेवन पेट संबंधी कई बीमारीयों को ठीक करने में कारगर होती है।

काला गोंद के इस्तेमाल से हृदय संबंधी रोगों से भी बचा जा सकता है। इसके सेवन से कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) कंट्रोल रहता है, यह गोंद हृदय को मजबूती प्रदान करती है, ये स्ट्रोक और हार्ट अटैक (Heart Attack) जैसे खतरों से भी बचाती है।

गर्भवती महिलाओं के लिए काला गोंद बहुत लाभदायक होता है। इसके सेवन से हड्डियों में मजबूती आती है। इसका सेवन लड्डू में मिलाकर किया जा सकता है या फिर आटे के हलवे में भी डालकर इसको खाया जा सकता है। जो महिलाएं स्तनपान कराती हैं, उन्हें इसका सेवन करना चाहिए, क्योंकि इससे दूध उत्पादन अच्छी तरह से होता है।

हड्डियों की मजबूती के लिए काले गोंद का सेवन जरूर करना चाहिए। जो लोग गठिया से पीड़ित हैं उनके लिए यह बहुत फायदेमंद हैं, क्योंकि काला गोंद में एंटी इंफ्लामेटरी, एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जिससे जोड़ों में होने वाली सूजन में आराम मिलता है।

काले गोंद में आयुर्वेदिक गुण मौजूद होते हैं, जो किसी भी बीमारी को ठीक करने में लाभदायक होते हैं। इसमें फाइबर,प्रोटीन (Protein), विटामिन (Vitamins), एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidant), एंटी इंफ्लामेटरी (Anti Inflammatory), एंटीडिप्रेसेंट (Antidepressant) गुण पाए जाते हैं। ये गोंद न सिर्फ आयुर्वेदिक उपचारों में इस्तेमाल की जाती है, बल्कि रसोई में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Shilki
App download animated image Get the free App now