गाजर का जूस कब पीना चाहिए: Gajar Ka Juice Kab Peena Chahiye

फोटो- youtube
फोटो- youtube

व्यक्ति का खानपान अच्छी सेहत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, साथ ही, दिल की सेहत के लिए भी लाभकारी होता है। अगर खाने में गाजर को शामिल किया जाए तो इससे न सिर्फ आपकी आंखों की रोशनी तेज़ होती है बल्कि कई अन्य समस्याओं से दूर रखता है। अगर आपका बाकी का खानपान भी ठीक रहेगा तो गाजर शामिल करने से आपका वज़न भी जल्दी घटेगा। जानते हैं गाजर का जूस किस समय पीना चाहिए और गाजर के क्या फायदे हैं।

ये भी पढ़ें: काला नमक के फायदे: Kala Namak ke Fayde

गाजर का जूस किस समय पीना चाहिए -

फल का जूस हो या सब्जी का अगर इसे सही समय पर पीया जाए तो इसके लाभ शरीर को मिलते हैं। गाजर के जूस का सेवन सुबह के समय किया जाना चाहिए। इससे इसका लाभ अच्छा होता है।

गाजर के जूस के फायदे -

कैंसर से बचाव - गाजर का जूस के सेवन से कैंसर से बचा जा सकता है। दरअसल, गाजर में एंटी-कार्सिनोजेनिक प्रभाव होता है, जो कैंसर के जोखिम को दूर रख सकता है।

आंखों के लिए - हर कोई चाहता है कि उसकी आंखें स्वास्थ्य रहें, इसके लिए गाजर के जूस का सेवन किया जा सकता है। गाजर का जूस शरीर में विटामिन ए की पूर्ति कर दृष्टि क्षमता को बढ़ाने का काम कर सकता है।

मस्तिष्क स्वास्थ्य के लिए - गाजर में नियासिन विटामिन होता है, जो मस्तिष्क स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने में मदद करते हैं।

ये भी पढ़ें: सेंधा नमक के फायदे: Sendha Namak ke Fayde

उपापचय में सहायक - गाजर मैंगनीज का अच्छा स्रोत है, जो शरीर में एंजाइमों के साथ मिलकर कार्बोहाइड्रेट मेटाबॉलिज्म में मदद कर सकता है। इसके साथ ही उपापचय (Metabolism) को सामान्य बनाए रखने के लिए गाजर के जूस के फायदे देखे जा सकते हैं।

कोलेस्ट्रॉल - शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को संतुलित बनाए रखना बहुत जरूरी है। इसके लिए गाजर के जूस का उपयोग लाभकारी हो सकता है। रोजाना नाश्ते में गाजर का सेवन करने से 11 प्रतिशत तक सीरम कोलेस्ट्रॉल कम हो सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

ये भी पढ़ें: सूखी खांसी का इलाज: Sukhi khansi ka Ilaj

Edited by Naina Chauhan