Create

चिरायता कितने दिन पीना चाहिए: Chirata Kitne Din Pina Chahiye

फोटो- Healthunbox
फोटो- Healthunbox

हमारे आस पास कई तरह की औषधीय हैं उनमें से एक चिरायता भी है। इसमें कई तरह के बायोएक्टिव कंपाउंड होते हैं, जो शरीर को स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं। कई लोग चिरायता का स्वाद कड़वा होने की वजह से इसका सेवन नहीं करते। लेकिन, यह जितना कड़वा होता है, उतना ही रोगों से लड़ने में फायदेमंद भी होता है। इस जड़ी-बूटी का इस्तेमाल बुखार, मधुमेह और मलेरिया जैसी बीमारी का आयुर्वेदिक इलाज करने के लिए किया जाता है। जानते है चिरायता कितने दिन पीना चाहिए और इससे क्या लाभ मिलते हैं।

ये भी पढ़ें: अजवाइन के पानी के फायदे: awain ke pani ke fayde

चिरायता के फायदे -

बुखार, खांसी के लिए - अगर किसी को बुखार, खांसी और जुकाम की समस्या हो जाए तो इसके लिए आप घरेलू उपाय भी अपना सकते हैं। चिरायता में मौजूद एंटी-वायरल गुण इन समस्या में फायदेमंद हो सकता है।

इम्यूनिटी के लिए - हर व्यक्ति को आज के समय में अपनी इम्यूनिटी (immunity) को मजबूत रखने की जरूरत है। जिसके लिए चिरायता फायदेमंद हो सकता है। इससे आप शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं। चिरायता में मैग्निफेरिन बायोएक्टिव कंपाउंड होता है।

ब्लड शुगर - आज के समय में शुगर की बीमारी एक आम बीमारी की तरह हो गई है। हर दूसरे व्यक्ति में ये बीमारी देखने को मिलती है। जिन लोगों को शुगर की समस्या है उन्हें सुबह खाली पेट चिरायते का पानी पीना चाहिए। चिरायता में अमारोगेंटिन (Aamarogentin) बायोएक्टिव कंपाउंड होते हैं। यह कंपाउंड एंटी-डायबिटिक प्रभाव दिखाता है। इसी वजह से माना जाता है कि चिरायता ब्लड शुगर को कम कर सकता है।

एनीमिया में लाभकारी - शरीर को खून की कमी से बचने के लिए चिरायता का उपयोग फायदेमंद है। इसकी पत्तियों में मौजूद विटामिन और खनिज हेमाटिनिक (Haematinic) प्रभाव होता है। यह प्रभाव शरीर में खून को बनाने में सहायक हो सकता है, इसलिए एनीमिया के घरेलू उपचार में चिरायता का उपयोग किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें: गर्म पानी पीने के फायदे: Garam Pani Peene Ke Fayde

चिरायता कितने दिन पीना चाहिए -

किसी भी चीज का लंबे समय तक इस्तेमाल करने से नुकसान होने लगते हैं इसलिए चिरायता भी लंबे समय तक नहीं पीना चाहिए। ३० दिन पीने के बाद इसे कुछ समय के लिए पीना बंद करना चाहिए।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

ये भी पढ़ें: सुबह खाली पेट अजवाइन खाने के फायदे: subah khali pet ajwain khane ke fayde

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment