फैटी लिवर से छुटकारा पाने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं- Diet For Fatty Liver Disease

फैटी लिवर से छुटकारा पाने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं(फोटो-Sportskeeda hindi)
फैटी लिवर से छुटकारा पाने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं(फोटो-Sportskeeda hindi)

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए लिवर (Liver) को स्वस्थ रखना बहुत जरूरी होता है। लिवर हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण अंग होता है। क्योंकि लिवर हमारे शरीर में खाने को पचाने से लेकर पोषक तत्वों को स्टोर करने का काम करता है। साथ ही लिवर हमारे शरीर के विषाक्त पदार्थों को निकालने का काम भी करता है। लेकिन आजकल की लाइफस्टाइल और गलत खान पान की वजह से ज्यादातर लोगों में फैटी लिवर (Fatty Liver) की बीमारी देखने को मिल रही है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि फैटी लिवर की समस्या होने पर लिवर फेल होने का खतरा भी बढ़ जाता है। इसलिए अगर किसी को फैटी लिवर की शिकायत है, तो उसे अपने खान-पान का विशेष ध्यान रखना चाहिए और समय रहते इस बीमारी से छुटकारा पा लेना चाहिए। आइए जानते हैं फैटी लिवर की समस्या होने पर किन चीजों का सेवन करना चाहिए और किन चीजों का नहीं करना चाहिए।

फैटी लिवर से छुटकारा पाने के लिए क्या खाएं और क्या न खाएं (Diet For Fatty Liver Disease In Hindi)

जानिए फैटी लिवर की समस्या होने पर क्या खाना चाहिए

ब्रोकली

फैटी लिवर की शिकायत होने पर ब्रोकली (Broccoli) का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि ब्रोकली लिवर में फैट को कम करने का काम करता है। इसलिए अगर किसी को फैटी लिवर की शिकायत हो, तो उसे ब्रोकली का सेवन करना चाहिए।

लहसुन

फैटी लिवर की शिकायत होने पर लहसुन (Garlic) का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि लहसुन औषधीय गुणों से भरपूर होता है। इसलिए लहसुन का सेवन करने से लिवर में मौजूद फैट कम होता है।

अखरोट

अखरोट (Walnut) का सेवन फैटी लिवर की समस्या से छुटकारा पाने में काफी मददगार साबित होता है। क्योंकि अखरोट में ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है।

एवोकाडो

एवोकाडो (avocado) का सेवन फैटी लीवर की बीमारी में काफी लाभकारी हो सकता है। क्योंकि एवोकाडो में एंटी इंफ्लेमेटरी के साथ घुलनशील फाइबर भी होता है , इसलिए इसका सेवन करने से फैटी लिवर की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

ग्रीन टी

जिन लोगों को फैटी लिवर की शिकायत है, उनको रोजाना एक कप ग्रीन टी (Green Tea) का सेवन करना चाहिए। इसमें मौजूद तत्व फैटी लिवर की समस्या को कम करने में मददगार साबित होते हैं।

केला

फैटी लिवर की समस्या को कम करने में केला (Banana) काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि केले में अनसेचुरेड फैट होता है। साथ ही इसमें मोनोअनसैचुरेटेड फैट और ओमेगा-3 फैट भी होता है। इसलिए केले का सेवन करने से फैटी लिवर की समस्या से काफी हद तक छुटकारा पाया जा सकता है।

सेब

सेब (Apple) का सेवन फैटी लिवर की समस्या में फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि सेब में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो फैटी लिवर से छुटकारा पाने में मददगार साबित होते हैं।

दलिया

फैटी लिवर की समस्या से निजात पाने के लिए दलिया (Dalia) का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि दलिया में बीटा-ग्लूकॉन भारी मात्रा में पाया जाता है, जो फैटी लिवर की समस्या को ठीक करने में मदद करता है।

कॉफी

फैटी लिवर की शिकायत होने पर कॉफी (Coffee) का सेवन काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि इसमें मौजूद कैफीन असामान्य लिवर एंजाइम की मात्रा को कम करती है।

हरी सब्जियां

हरी और ताजी सब्जियों (Vegetables) का सेवन लिवर के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि सब्जियों में फाइबर और बीटा कैरोटीन पाया जाता है, जो लिवर संबंधी बीमारी से छुटकारा दिलाने में काफी मददगार साबित होते हैं।

फैटी लिवर की शिकायत होने पर क्या नहीं खाना चाहिए

- फैटी लिवर की शिकायत होने पर नमक (Salt) का सेवन कम मात्रा में करना चाहिए।

- फैटी लिवर की शिकायत होने पर व्हाइट ब्रेड (White Bread) का सेवन काफी हानिकारक माना जाता है। क्योंकि व्हाइट ब्रेड हाई ग्लाइसेमिक फूड्स होता है. जिससे शरीर में ग्लूकोज का स्तर तेजी से बढ़ता है।

- फैटी लिवर की शिकायत होने पर तली भुनी चीजों (Oily Foods) का सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि तली भुनी चीजों में वसा भरपूर मात्रा में पाई जाती है, जो फैटी लिवर वाले मरीजों के लिए काफी खतरनाक साबित होता है।

- फैटी लिवर वाले मरीजों को मीठी (sweets) चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। जैसे चॉकलेट, फ्रूट जूस, सोडा इन चीजों में शुगर की मात्रा अधिक होती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
Be the first one to comment