Create
Notifications

मोबाइल एडिक्शन से बचकर अपनी हेल्थ एंड फिटनेस को बेहतर बनाएं

मोबाइल एडिक्शन
मोबाइल एडिक्शन
Amit Shukla
ANALYST
Modified 24 Jan 2021
फ़ीचर

हेल्थ एंड फिटनेस पर मोबाइल एडिक्शन ने काफी बुरा असर डाला है और ये आज के दौर में एक परेशानी के तौर पर उभरकर सामने आई है। इसकी वजह से डॉक्टर्स को भी ऐसी कई परेशानियों को देखना पड़ रहा है जहाँ लोग मोबाइल एडिक्शन के कारण अपनी हेल्थ एंड फिटनेस को खराब कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें: किडनी को बचाने के लिए इन गलतियों को ना करें

आज के दौर में जहाँ जिंदगी काफी तेज और व्यस्त है वहां मोबाइल के एडिक्शन को अच्छा समझना एक गलत चलन है। इससे ना सिर्फ हेल्थ एंड फिटनेस पर असर पड़ता है बल्कि ये इस बात को भी जाहिर करता है कि आपकी एक गलती आपके लिए काफी नुकसानदेह हो सकती है।

ये भी पढ़ें: पोस्ट ट्रॉमेटिक स्ट्रेस डिसऑर्डर क्या है और इसका समाधान

मोबाइल एडिक्शन को हटाने के लिए करें ये काम ताकि बेहतर हो हेल्थ एंड फिटनेस

ये भी पढ़ें: वीकेंड पर सेहत को ठीक रखने के लिए इन आदतों को जीवन का हिस्सा बनाएं

हेल्थ एंड फिटनेस को ठीक रखने के लिए आपको मोबाइल का इस्तेमाल कम से कम और लोगों से बातचीत ज्यादा करने की आदत डालनी होगी। ऐसा इसलिए है क्योंकि मोबाइल एडिक्शन ने लोगों को एक दूसरे से दूर कर दिया है। इसकी वजह से भी लोग आपस में बातें कम कर रहे हैं और दूसरे के बारे में ज्यादा बातें कर रहे हैं।

मोबाइल हमारे जीवन का एक हिस्सा है लेकिन सम्पूर्ण जीवन नहीं है। यदि आपको ऐसा लगता है कि आप मोबाइल को बहुत ज्यादा इस्तेमाल नहीं करते हैं तो आप नीचे दिए गए तरीकों का इस्तेमाल करें और आपको अपनी हेल्थ एंड फिटनेस पर मोबाइल एडिक्शन के कारण होने वाले असर के बारे में जानकारी उपलब्ध हो जाएगी।

मोबाइल एडिक्शन का स्तर जानने के लिए करें ये काम:

1- फोन की सेटिंग में जाकर डिजिटल वेल्बीइंग को खोजें

2- इसमें जाकर देखें कि आप दिनभर में कितना समय अपने फोन पर होते हैं

3- डिजिटल वेल्बीइंग में आपको प्रत्येक ऍप के दौरान इस्तेमाल में लाए गए समय की जानकारी हो जाएगी

4- आप प्रत्येक ऍप में जाकर अपने इस्तेमाल के समय को निर्धारित कर सकते हैं और इस प्रकार आप धीरे धीरे अपने मोबाइल फोन एडिक्शन को दूर कर सकते हैं

यदि आप अपने बच्चे के फोन में इस समय को देखते हैं तो ये जरूरी है कि आप अपने बच्चे के उज्ज्वल भविष्य के लिए उसपर पैरेंटल कंट्रोल का इस्तेमाल करें। यहाँ ये ध्यान देना जरूरी है कि रिपोर्ट के मुताबिक फोन पर एक से तीन घंटे का इस्तेमाल सामान्य है लेकिन उससे अधिक समय एक परेशानी का सबब है।

Published 24 Jan 2021
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now