Create
Notifications

मिर्गी का 5 कारगर इलाज- Mirgi ka 5 kargar ilaj

इन 5 तरीकों से मिर्गी से पाए छुटकारा
इन 5 तरीकों से मिर्गी से पाए छुटकारा
reaction-emoji
Ritu Raj
visit

Epilepsy Treatment: जब दिमाग में अचानक इलेक्ट्रिसिटी एक्टिविटी में कोई परेशानी आ जाती है तो ऐसे में मिर्गी की समस्या होती है। ये हल्के और गंभीर दो तरह की होती है। हल्के दौरे में तो ज्यादा पता नहीं चलता है। क्योंकि यह कुछ ही सेकंड रहती है। लेकिन गंभीर दौरे में मांसपेशियों में परेशानी के साथ ही ऐंठन की भी समस्या हो सकती है। यह कुछ सेकंड से लेकर कई मिनट तक रह सकता है। इसमें मरीज चेतना तक खो सकता है। इसका दौरा किसी को भी पड़ सकता है। बच्चों से लेकर बड़ों तक में यह समस्या हो सकती है। हालांकि, औरतों की तुलना में पुरुषों में ज्यादा रहती है। आज हम जानेंगे मिर्गी आने पर वो कौन से घरेलू उपचार हैं जिनकी मदद से इसे ठीक किया जा सकता है।

मिर्गी का कारगर इलाज

बकरी के दूध से खत्म होगी मिर्गी (Goat's milk will end the problem of epilepsy)

बकरी का दूध शरीर के स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी माना गया है। डेंगू में तो बकरी का दूध रामबाण माना गया है। मिर्गी की भी समस्या में बकरी के दूध से इससे छुटकारा पा सकते हैं। इसके लिए मेहंदी के पत्तों को पिस कर इसका पेस्ट तैयार कर लें उसके बाद उसे बकरी के दूध में अच्छे से मिला दें और इसका सेवन करें। इससे जल्द ही राहत मिल सकती है।

मिर्गी में कारगर है अंगूर (Grapes are effective in epilepsy)

अंगूर में कई सारे ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं। इसके साथ ही ये तत्व हमारे दिमाग को शांत रखने में मदद करते हैं। इसीलिए मिर्गी की समस्या में अंगूर काफी कारगर माना गया है। इसके लिए हर रोज नाश्ते के दौरान अंगूर खाने से फायदे होगा।

मिर्गी का इलाज है प्याज (Onion is the cure for epilepsy)

प्याज प्राचीन काल से ही मिर्गी की समस्या में इस्तेमाल होते आ रहा है। कहा जाता है कि, अगर किसी को लगातार मिर्गी का दौरा आता है तो उसे दिन में कम से कम दो चम्मच प्याज के रस का सेवन करना चाहिए। प्याज का रस पीने के बाद दो चम्मच जीरे को भी पीसकर उसका पाउडर पानी के साथ सेवन करें। इन दोनों से आपकी ये समस्या जल्द खत्म हो सकती है।

मिर्गी के दौरे में रामबाण है तुलसी (Tulsi is a panacea in epileptic seizures)

आयुर्वेद में तुलसी को जड़ी-बूटियों से भरपूर पौधा माना गया है। इसकी पत्ती को चाय में डालकर पीने से काफी सारे फायदे होते हैं। मिर्गी की भी समस्या में तो तुलसी को रामबाण इलाज माना गया है। इसकी मदद से मिर्गी की समस्या से बहुत जल्द छुटकारा पा सकते हैं। इसके लिए सलाह दी जाती है कि, रोज कम से कम दस तुलसी के पत्तों को चबा-चबाकर खाने से मिर्गी के दौरे आने बंद हो जाते हैं।

मिर्गी की समस्या को दूर करने के लिए कद्दू (Pumpkin to remove the problem of epilepsy)

अगर किसी को मिर्गी की समस्या अधिक बनी रहती है तो उसे कद्दू के रस का प्रतिदिन सेवन करना चाहिए। इससे दौरे जल्द ठीक हो जाते हैं। रस के साथ ही कद्दू की सब्जी का भी सेवन करने से लाभ मिल सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Ritu Raj
reaction-emoji
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now