Create
Notifications

एक नाक बंद होने का कारण: Ek Naak Band Hone Ka Kaarn

फोटो: Only My Health
फोटो: Only My Health
Amit Shukla
ANALYST

बंद नाक बड़ी परेशानी का कारण होती है। बंद नाक के कारण सांस लेने में तकलीफ होती है। वहीं अगर आपको सर्दी जुखाम है या मौसम में बदलाव हुआ है तो भी आपकी नाक बंद हो सकती है। ऐसे में ये जरूरी नहीं कि आपकी नाक के दोनों छिद्र बंद हों क्योंकि कई बार सिर्फ एक ही छिद्र बंद होता है।

ये भी पढ़ें: बालों को घना बनाने के लिए क्या खाना चाहिए: Baalon Ko Ghana Banane Ke Liye Kya Khaana Chahiye

सायनस होने पर भी ऐसा होता है। जिस नाक के छिद्र की तरफ सायनस होगा वहाँ आपको हमेशा एक बंद स्थिति देखने को मिलेगी। आपको हमेशा जुखाम जैसा लगेगा और नाक साफ करने के कुछ पलों के अंदर ही आप पुनः उसी स्थिति में आ जाएंगे जिसमें आप पहले थे। ये एक बेहद कॉमन स्थिति है जिसको आप अपने जीवन में अनुभव करते हैं।

सायनस होना आम है क्योंकि ये कई बार नाक की हड्डी में बढ़ोतरी या हल्के बदलाव के कारण देखने को मिलती है। आप अगर किसी चीज से एलर्जिक हैं तो भी आपको ये दिक्कत पेश आएगी क्योंकि इसका सीधा कनेक्शन आपके नाक से ही है। एलर्जी को सबसे पहले त्वचा, नाक, कान, या आँख ही महसूस करते हैं।

एक नाक बंद होने का इलाज

नमक का इस्तेमाल करें

बच्चे हो या बूढ़े, आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। एक कप पानी को गर्म करें और उसमें आधा चम्मच नमक डालें। अब इसको अच्छे से मिला लें और फिर ड्रॉपर से कुछ बूँदें नाक में डालें। इससे नाक के रास्ते में कोई भी रूकावट रोकी जा सकती है और अगर कोई परेशानी है तो उसे भी क्लियर किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें: आंखों के नीचे डार्क सर्कल हटाने के 3 घरेलू उपाय: Aankhon ke neeche dark circle hatane ke 3 gharelu upaay

अदरक का इस्तेमाल करें

अदरक वाली चाय शरीर के लिए अच्छी है। आप चाहें तो अदरक में नमक लगाकर उसका सेवन दिन में कई बार कर सकते हैं। इससे भी आपको फायदा होगा। अदरक कड़वी होती है इसलिए इससे काफी फायदा मिलता है और नमक में आयोडीन होता है जो बंद नाक को खोलता है।

गर्म सिकाई या भांप से होगा फायदा

गर्म सिकाई से आपको फायदा होगा क्योंकि उससे किसी भी प्रकार की बंद नाक को खोला जा सकता है। अगर आप चाहें तो आप भांप भी ले सकते हैं। इससे भी आपको फायदा होगा जो एक अच्छी बात है। सेहत को ठीक रखें क्योंकि बंद नाक के कारण होने वाला दर्द कई बार सरदर्द में तब्दील हो सकता है।

ये भी पढ़ें: शुगर में मौसमी का जूस पीना चाहिए या नहीं: Sugar mein mausami ka juice peena chahiye ya nahin

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Amit Shukla
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now