फिटकरी के औषधीय गुण: fitkari ke aushadhi gun

फोटो- shiveshpratap
फोटो- shiveshpratap

दादी-नानी के समय से पहले ही हर घर में फिटकरी का इस्तेमाल किया जा रहा है। क्योंकि इसमें एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। इसका इस्तेमाल चोट लगने पर, जलने पर किया जाता है। फिटकरी के पानी से कुल्ला करने से पायरिया, मुंह के छाले, दांत के कीड़े आदि मुंह की सभी बीमारियां दूर होती हैं। इसके साथ ही इसके कुछ अन्य लाभ भी है जानते हैं।

ये भी पढ़ें: खाली पेट नारियल पानी पीने के नुकसान: khale pet Nariyal Pani peene Ke Nuksan

फिटकरी के प्रकार-

फिटकरी दो तरह की होती है, लाल औऱ सफेद।

फिटकरी से होने वाले लाभ-

पसीने की बदबू दूर करें- अगर किसी व्यक्ति को बहुत ज्यादा पसीने आते हैं और पसीने से बदबू भी आती है तो उसे फिटकरी का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके लिए फिटकरी का चूर्ण बना लें और नहाने से पहले इस चूर्ऩ को पानी में डाल लें। फिटकरी के पानी से नहाने से पसीने की बदबू दूर होगी।

बलगम की समस्या- अगर किसी को बलगम की समस्या रहती है तो उसके लिए फिटकरी रामबाण है। इसके लिए फिटकरी में शहद मिलाकर चाटने से बलगम में लाभ होता है। साथ ही खांसी और दमा के लिए लाभकारी है।

ये भी पढ़ें: दुबले पतले बच्चों का वजन कैसे बढ़ाएं: dubale patale bachchon ka vajan kaise badhaye

दांतों की समस्या में फायदेमंद- दांत में कीडा लगना. मुंह की बदबू, दांत दर्द जैसे परेशानी में फिटकरी का इस्तेमाल किया जा सकता है। फिटकरी में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैंय़ यह एक नेचुरल माउथवॉश होता है।

जुंओं को मारने के लिए- अगर किसी के बालों में जुंएं हो जाए तो बहुत परेशानी होती है। हर समय बालों में खुजली लगती रहती है। इस समस्या को दूर करने के लिए फिटकरी के पानी से बालों को धोना चाहिए। इससे जुंएं मर जाती है साथ ही बालों से गंदगी भी निकल जाती है।

ये भी पढ़ें: ज्यादा नमक खाने से होने वाली बीमारी: jada namak khane se hone wale bimari

Edited by Naina Chauhan