Create

कपूर के फायदे: Kapoor Ke Fayde

फोटो: Lybrate
फोटो: Lybrate

कपूर को पूजा में इस्तेमाल होते हुए आपने कई बार देखा होगा। कपूर की खुशबू किसी भी अन्य रूम फ्रेशनर से ज्यादा बेहतर है और ये आपके कमरे में मौजूद जर्म्स को मिटा देता है। यही वजह है कि कुछ लोग कपूर को एक अच्छा रूम फ्रेशनर मानते हैं जबकि कई लोग ये मानते हैं कि इसकी खुशबू आपको परेशान कर सकती है।

ये भी पढ़ें: शरीर पर लाल चकत्ते का घरेलू इलाज: Shareer Par Laal Chakatte Ka Gharelu Ilaaj

वैसे तो इस जगत में जितने लोग हैं उतने ही प्रकार की बातें भी आपको सुनने को मिलेंगी। ये बात ज्योतिष से मेल खाती है क्योंकि आप जितने ज्योतिषियों से मिलेंगे वो आपको उतने ही अलग अलग विकार बताएंगे। इसलिए उस बात को जानें जो हमारी बड़ी महत्वपूर्ण किताबों में लिखा हुआ है।

कपूर को सेहत, सांस, हवा और वातावरण के लिए अच्छा माना जाता है। आपने देखा होगा कि जब आप इसका इस्तेमाल पूजा के दौरान करते हैं तो उससे आपको काफी लाभ होता है। ऐसे में आइए आपको बताते हैं उन फायदों के बारे में जिन्हें जानने के बाद आप भी कपूर का इस्तेमाल करने लगेंगे।

कपूर के फायदे

शरीर और दिमाग रहे तंदरुस्त

पुराने समय के बारे में आपने इस बात पर ध्यान दिया होगा कि उस समय कपूर एवं बेहद प्राकृतिक चीजों का इस्तेमाल होता था। वक्त बदलने के साथ हम जैसे जैसे कृतिम चीजों के शौकीन हुए तो उसने हमारी सेहत पर असर ड़ाला। आप अपने दिल, दिमाग को ठीक रखने के लिए इसका इस्तेमाल कमरे में कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: खाली पेट लहसुन खाने के फायदे और नुकसान: Khaali Pet Lehsun Khaane Ke Fayde Aur Nuksaan

जोड़ों के दर्द को खत्म करे

कपूर को गर्म कर लें और इसको तेल में ड़ालकर उस जोड़ की मालिश करें जिसमें परेशानी पेश आ रही है। ऐसा करते ही आपको काफी लाभ होगा और आप खुद के जोड़ों के दर्द को कम होता हुआ पाएंगे। ये बेहद आम घरेलू नुस्खा है जिसने हमेशा ही लाभ पहुंचाया है जो एक बड़ी बात है।

जलने कटने पर लगाने से मिलेगा आराम

आराम के लिए आपको बड़ी महंगी चीजें नहीं चाहिए होती हैं। इसी तरह से जलने और कटने पर आपको किसी बड़े डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं है जबतक कि वो चोट घातक ना हो। ऐसे में आप जलने कटने पर इसका इस्तेमाल करके खुद को किसी बड़ी परेशानी, एवं टिटनस से भी बचा सकते हैं। लोहे से चोट लगी हो या खून निकल आया हो तो टिटनस का इंजेक्शन लगवाएं।

ये भी पढ़ें: सिर दर्द और आँखों में दर्द के कारण इन हिंदी: Sar Dard Aur Aankhon Mein Dard Ke Kaarn In Hindi

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Amit Shukla
Be the first one to comment