Create

जानिए वो एक योगासन जो एक साथ दस योगासन को करने के लाभ दे और बनाइए सेहत को चुस्त और दुरुस्त

फोटो: Navbharat Times
फोटो: Navbharat Times

योग एक ऐसी विद्या है, एक ऐसी युक्ति है जिसका इस्तेमाल करके आप अपने शरीर एवं जीवन को स्वस्थ कर लेते हैं। इस बात का ध्यान रखें कि योग किसी धर्म से जुड़ा हुआ नहीं है। आप किसी भी धर्म को मानने वाले हो सकते हैं लेकिन शरीर को फिट रखना जरूरी है और कर्म के आधार पर आपको अपना ध्यान रखना चाहिए।

ये भी पढ़ें: छाती और पीठ में दर्द होने का कारण: Chaati Aur Peeth Mein Dard Hone Ka Kaaran

इस बात को ध्यान रखें कि आप योग को कुछ घंटों के लिए करते हैं लेकिन उस समय से ज्यादा महत्वपूर्ण ये है कि आप उसके बाद क्या करते हैं। अगर आप एक्सरसाइज या योग करने के बाद उन चीजों का सेवन कर रहे हैं जो आपकी सेहत को नुकसान पहुँचा सकती हैं तो उससे आपको किसी प्रकार का लाभ नहीं होगा।

योगासन एक, लाभ अनेक

सूर्य नमस्कार (Surya Namaskar)

सूर्य नमस्कार उन लोगों के लिए सबसे अधिक लाभकारी है जो हर समय बहुत व्यस्त रहते हैं। ऐसे में वो कई बार बहुत सारे आसन कर पाने में असमर्थ होते हैं जिनमें सबसे आसान और किसी भी समय किया जा सकने वाला अनुलोम विलोम, कपालभाति और भस्त्रिका प्राणायाम शामिल है। आइए आपको इस एक आसन से होने वाले अनगिनत लाभों के बारे में बताते हैं।

खून का बहाव करे तेज

ब्लड सर्कुलेशन (Blood Circulation) की जरूरत शरीर को होती है क्योंकि अगर खून सही से नहीं दौड़ेगा तो उससे आपको परेशानी ही होगी। जिस भी अंग में खून सही से नहीं पहुंचेगा, आपको उससे जुड़ी परेशानियाँ होंगी। दिमाग में खून की दौडान को ठीक रखें क्योंकि वो सब चीजों का केंद्र है।

पेट को बनाए फिट

पेट (Stomach) को फिट बनाने के लिए आपको इस आसन का इस्तेमाल करना चाहिए। अगर आप अपने पेट को चर्बी से दूर और खुशियों से भरपूर रखना चाहते हैं तो आज ही इस आसन को करने लगें। ये आसन शरीर में सबसे जरूरी अंग पेट को ठीक कर देगा और आपको अच्छा लगेगा।

फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ाए (Increases Flexibility)

शरीर को लचीला होना चाहिए ताकि वो किसी भी भार को आसानी से सह सके। पेट ठीक है तो ये एक अच्छी बात है लेकिन अगर आपका शरीर फ्लेक्सिबल होगा तो आपको शरीर में एक नयी ऊर्जा का बहाव देखने को मिलेगा जो आपके लिए खासा लाभकारी साबित होगा। इस बात का ध्यान रखें।

सांस लेने की क्रिया को ठीक करे (Breathe Properly)

अगर आपकी साँसों की डोरी में कोई भी गाँठ लग गई तो उसको खोलने में काफी कष्ट होगा जिसके परिणामस्वरूप आपको ऑपरेशन तक करवाना पड़ सकता है। ये एक अच्छी अवस्था नहीं होगी और ये ध्यान रखें कि योग आपको निरोग रखने का माद्दा रखता है। अगर आप खुद को परेशानियों से दूर रखना चाहते हैं तो आज ही सूर्य नमस्कार करें।

पीठ और पेट से जुड़ी दिक्कतों को दूर करे

पीठ में दर्द होना आज कल आम है क्योंकि लोग कंप्यूटर, लैपटॉप, टीवी के सामने बैठे रहते हैं। इस दौरान आपकी गर्दन झुकी रहती है जो मोबाइल के कारण और झुक जाती है। ये एक अच्छा संकेत नहीं है क्योंकि इसकी वजह से आपके शरीर के सबसे महत्वपूर्ण स्पाइनल कॉर्ड को नुकसान हो सकता है। सूर्य नमस्कार में किए जाने वाले भुजंगासन को कर लें और आपकी फिटनेस एकदम सही हो जाएगी।

ये भी पढ़ें: सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे: Subah Khali Pet Tulsi Khaane Ke Fayde

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Amit Shukla
Be the first one to comment