टेलबोन इंजरी होने पर इन घरेलू इलाजों का इस्तेमाल करके खुद को बेहतर बनाएं

टेलबोन इंजरी
टेलबोन इंजरी

अगर आप कभी किसी एक्सीडेंट का हिस्सा रहे हैं तो आपको ये बात मालूम होगी कि एक छोटी सी गलती आपकी जिंदगी पर एक बड़ा बुरा असर ड़ाल सकती है। ऐसे कई लोग हैं जो हेलमेट के बिना सफर करते हैं और चोट लगने पर उनके सर पर काफी गहरा असर होता है। ये असर शरीर और दिमाग पर असर डालता है लेकिन अगर आप कार में हैं तो भी ये इन दोनों के अलावा आपकी कमर पर भी असर ड़ाल सकता है।

ये भी पढ़ें: मुँह से बदबू आने की समस्या को ठीक कर बनें कॉंफिडेंट

टेलबोन इंजरी दोनों ही स्थितियों में हो जाती है लेकिन ऐसा नहीं है कि सिर्फ ये ही दो स्थितियाँ हैं जिनमें टेलबोन इंजरी होती है। अगर आप एक खिलाड़ी हैं तो आपने इस इंजरी का सामना किया होगा। ऐसे कई सुपरस्टार्स हैं जिन्हें ये इंजरी हो जाती है। इस इंजरी के दौरान काफी पीड़ा होती है और किसी भी प्रकार का चलना फिरना भी मुश्किल हो जाता है।

ये भी पढ़ें: सर के बाल की लंबाई को बढ़ाने के लिए इनको अपने खानपान का हिस्सा बनाएं

इस इंजरी में आपको कमर के पिछले हिस्से में कूल्हों के ठीक ऊपर काफी दर्द होता है। ये दर्द आपको कोई भी काम नहीं करने देता है और कई लोग तो इसके कारण भारी वजन भी नहीं उठा पाते हैं। ये दर्द ना सिर्फ असहनीय होता है बल्कि आपको एक तरह से निष्क्रिय कर देता है जिसके कारण कोई भी काम करना मुश्किल हो जाता है।

ये भी पढ़ें: बेड टी को अपनी आदत से बाहर करें वरना हो सकता है सेहत को नुकसान

टेलबोन इंजरी के दुष्प्रभाव से कैसे बचें

टेलबोन इंजरी के बारे में आपको सिर्फ एक हड्डी का विशेषज्ञ ही बता सकता है और इसका सही हल भी आपको वही प्रदान कर सकते हैं। अगर आपको एक्सीडेंट के बाद दर्द हो रहा है तो तुरंत ही एक हड्डी विशेषज्ञ को दिखाएं क्योंकि इसका दर्द अगर सही समय पर ठीक नहीं हुआ तो आपको काफी परेशानी हो सकती है।

टेलबोन इंजरी में या फिर उसके बिना भी ऐसी किसी भी जगह पर एक लंबे समय तक ना बैठें जिसमें आपके कूल्हों को दर्द होने लगे। अगर आपको काफी दर्द है तो ऐसी कई दवाइयाँ हैं जिन्हें डॉक्टर के द्वारा बताए जाने पर ही खाना चाहिए। एक डोनट कुशन या पिलो पर बैठने का प्रयास करें ताकि आपका शरीर और सेहत बेहतर हों।