Create
Notifications

मेडिटेशन कैसे करें: meditation kaise kare?

फोटो: patrika
फोटो: patrika
Amit Shukla

मेडिटेशन को करने के लिए कोई स्थापित नियम नहीं है क्योंकि इसको कोई भी कभी भी कर सकता है। मेडिटेशन को करने के लिए कुछ बेहद जरूरी चीजे हैं और उनमें से एक है आपकी सेहत और आपका फोकस क्योंकि इनके बिना आप ध्यान या मेडिटेशन नहीं कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: Yoga tips: kapalbhati kaise kare: योग टिप्स: कपालभाति कैसे करे

इसके साथ साथ आप खुद को मेडिटेशन के माध्यम से फिट रख सकते हैं। इस बात का ध्यान रखें कि कपालभाति योगासन हो या मेडिटेशन ये दोनों ही दिमाग की अवस्था को बेहतर करने का एक प्रयास हैं। अगर आपका दिमाग ठीक है तो आप किसी भी परेशानी से बच सकते हैं वरना परेशानियाँ बढ़ सकती हैं।

ये भी पढ़ें: mansik tanav ke karan: मानसिक तनाव के कारण

मेडिटेशन कैसे करें

मेडिटेशन करने से पहले ये जान लें कि मेडिटेशन कई प्रकार के होते हैं। डीप मेडिटेशन, थर्ड आई मेडिटेशन, माइंडफुलनेस मेडिटेशन, ओम शांति मेडिटेशन, मंत्र मेडिटेशन जैसे कई मेडिटेशन हैं जिन्हें करके आप खुद की मानसिक सेहत को ठीक कर सकते हैं। आइए बिना वक्त गवाएं आपको बताते हैं कि आप मेडिटेशन कैसे कर सकते हैं:

(1) शांत स्थान चुनें - इसमें दोराय नहीं कि शांत स्थान मेडिटेशन के लिए सबसे सही चुनाव है। जब स्थान शांत होगा तो आपको काफी अच्छा महसूस होगा और आपका मन भी आसानी से शांति की अवस्था में आ जाएगा।

(2) सही समय चुनें - सुबह एवं शाम को ही मेडिटेशन करना सबसे अच्छा माना जाता है क्योंकि इन दोनों ही समयों पर माहौल शांत रहता है।

(3) आँखें बंद करें और शांत रहें तथा सीधा बैठने का प्रयास करें - ऐसी स्थिति में खुद को लाते ही आप काफी अच्छा महसूस करेंगे। एक शांत पोज शरीर को आराम देने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है इसलिए इस बात का ध्यान रखें क्योंकि ध्यान लगाते समय ये बेहद काम आएगा।

(4) धीरे धीरे साँस लें और उसपर अपना ध्यान केंद्रित करें - साँस लेते समय बेहद धीमे तरीके का इस्तेमाल करें और साँस पर ही अपना ध्यान केंद्रित करें।

(5) चेहरे पर मुस्कान रखें - एक खुश मन एक अच्छी मेडिटेशन में बड़ा सहायक है और इसलिए अगर आप खुद की सेहत का ध्यान रखेंगे तो आपके चेहरे पर एक मुस्कान स्वयं ही आ जाएगी जो बेहद अच्छी बात है।

ये भी पढ़ें: जिंदगी में हमेशा खुश रहने के लिए इन आदतों को जीवन का हिस्सा बनाएं


Edited by Amit Shukla

Comments

Fetching more content...