Create
Notifications

मुलेठी के आयुर्वेदिक गुण: mulethi ke aushadhi gun

फोटो- youtube
फोटो- youtube
Naina Chauhan
visit

गुणों से भरपूर मुलेठी का इस्तेमाल आयुर्वेदिक औषधि में बीमारियों को दूर करने के लिए किया जाता है। इसके सेवन से सर्दी-खांसी, जुकाम, कफ, गले की समस्या, यूरिन इंफैक्शन जैसी परेशानी दूर हो सकती है। मुलेठी में कैल्शियम, ग्लिसराइजिक एसिड, एटी-ऑक्सीडेंट, एंटीबायोटिक गुण पाए जाते हैं। मुलेठी से कैंसर की बीमारी में इस्तेमाल किया जाता है। मुलेठी का इस्तेमाल नेत्र रोग, मुख रोग, कंठ रोग, उदर रोग, सांस विकार, हृदय रोग, घाव के उपचार के लिए सदियों से किया जा रहा है।

मुलेठी के आयुर्वेदिक गुण

ये भी पढ़ें: करेला खाने के बाद क्या नहीं खाना चाहिए: karela khane ke baad kya nahi khana chahiye

कफ, सर्दी-जुकाम में लाभदायक- अगर किसी को सर्दी-जुकाम औऱ कफ की समस्या है तो उसे दूर करने के लिए मुलेठी, काली मिर्च, लौंग, हरीतकी और मिश्री लें और सब को एक साथ मिलाकर शहद के साथ चाट लें। इससे जल्द आराम मिलेगा।

पेट के लिए- मुलेठी के साथ शहद को मिलाकर लेने से पेट और आंतों में ऐंठन दूर होती है। साथ ही जिन लोगों के पेट में कीड़े, सूजन हो तो उसमें भी लाभकारी है।

ये भी पढ़ें: गैस का रामबाण इलाज: gas ka ramban ilaj

गले की समस्या- बहुत सारी वजह से गले में परेशानी हो जाती है जैसे कि गले की खराश, गले में सूजन आना, गला बैठना आदि। इन समस्या को दूर करने के लिए मुलेठी का एक टुकड़ा लेकर उसे चूसे। गले की सभी समस्या दूर हो जाएंगी।

त्वचा रोग के लिए लाभकारी- अगर किसी की त्वचा पर कोई घाव या चोट लगी है तो उस पर मुलेठी का लेप लगाने से वे जल्दी सही हो जाते हैं। मुलेठी और तिल को पीसकर उससे घृत मिलाकर घाव पर लेप करने से घाव भर जाता है।

ये भी पढ़ें: दुबले पतले बच्चों का वजन कैसे बढ़ाएं: dubale patale bachchon ka vajan kaise badhaye


Edited by Naina Chauhan
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now