Create

काजू के साथ कभी न खाएं ये चीजें, जानें 1 दिन में कितने काजू खाएं : Kaju Ke Sath Kabhi Na Khaye Ye Cheeze, Jane 1 Din Me Kitne Kaju Khaye

काजू के साथ कभी न खाएं ये चीजें, जानें 1 दिन में कितने काजू खाएं (फोटो - sportskeeda hindi)
काजू के साथ कभी न खाएं ये चीजें, जानें 1 दिन में कितने काजू खाएं (फोटो - sportskeeda hindi)
Naina Chauhan

काजू (cashew) जिसका सेवन सेहत के लिए बहुत लाभकारी माना जाता है। काजू के अंदर विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन के, विटामिन बी6 आदि विटामिंस मौजूद होते हैं, जिनके सेवन से सेहत को कई फायदे मिलते हैं। लेकिन कुछ ऐसी चीज हैं जिसके साथ कभी काजू नहीं खाना चाहिए। बहुत से लोग अक्सर ये गलती कर देते हैं। लेकिन ऐसा करना सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। बता दें काजू के साथ कभी भी शराब का सेवन नहीं करना चाहिए। वहीं काजू के साथ कभी ज्यादा गर्म चीजों का सेवन भी नहीं करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि काजू की खुद की तासीर गर्म होती है। ऐसे में यह शरीर में गर्मी पैदा कर सकता है। वहीं ज्यादा काजू खाने से शरीर में सोडियम की मात्रा बढ़ जाती है। जिसकी वजह से उच्च रक्तचाप की समस्या, किडनी की समस्या, पेट से संबंधित समस्या, कमजोरी, किडनी में खराब आदि समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

जाने काजू को भिगोकर खाने से क्या फायदा मिलता है?

अगर आप काजू को भिगोकर खाते हैं तो इससे न केवल वजन को कम (weight lose) cकिया जा सकता है, बल्कि कोलेस्ट्रॉल (cholesterol) को भी कंट्रोल किया जा सकता है।

काजू खाने का सही तरीका क्या है?

काजू का सेवन कई तरीके से किया जा सकता है। आप काजू कतली के रूप में या काजू की स्मूदी के रूप में इसे खा सकते हैं। आप काजू शेक के रूप में या तले हुए काजू का सेवन भी कर सकते हैं। इससे अलग आप सिंपल काजूओं का सेवन भी कर सकते हैं।

1 दिन में कितने काजू खाना चाहिए?

1 दिन में 6 से 7 काजूओं का सेवन किया जा सकता है। हालांकि सही मात्रा आपकी उम्र और स्वास्थ्य पर भी निर्भर करती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Naina Chauhan

Comments

Fetching more content...