Create
Notifications

वर्ल्ड स्लीप डे क्यों मनाया जाता है: Why we celebrate World Sleep Day

फोटो: Sl
फोटो: Sleep Revie
Amit Shukla

वर्ल्ड स्लीप डे 19 मार्च को मनाया जाता है। ये दिन इस बात के लिए मनाया जाता है कि हम अपनी नींद पर ध्यान दें और सेहत को बेहतर बनाएं। हम सब जानते हैं कि एक अच्छे जीवन के लिए नींद का सही होना आवश्यक है। अगर आप उन लोगों में से हैं जो अपने काम के कारण सही समय पर और सही घंटों की नींद नहीं ले पा रहे हैं तो ये एक परेशानी का कारण है।

ये भी पढ़ें: ग्रीन टी के फायदे: Green Tea ke fayde

सेहत को ठीक रखने एवं शरीर के अंगों के सुचारू रूप से काम करने के लिए नींद का सही होना आवश्यक है। वर्ल्ड स्लीप डे का नारा है 'अच्छी नींद, अच्छा जीवन, अच्छा संसार' और ये बिल्कुल सही है। अगर आपकी सेहत अच्छी होगी तो ही आपको अच्छी नींद आएगी या ये भी कहा जा सकता है कि जब आपकी नींद सही होगी तो आपकी सेहत भी अच्छी रहेगी।

ये भी पढ़ें: लौंग खाने के फायदे: long khane ke fayde

इन दोनों ही स्थितियों में आपको आराम मिलेगा जो महत्वपूर्ण है। वर्ल्ड स्लीप डे नींद से जुड़ी दवाइयों, कारणों, सामाजिक परिवेश एवं नींद से जुड़ी परेशानियों के बारे में बात करने के लिए मनाया जाता है। अगर आप भी अच्छी नींद पाना चाहते हैं तो आर्टिकल में बताई गई इन आदतों को अपनाएं।

अच्छी नींद के लिए इन आदतों को अपनाएं

अच्छी नींद सभी को पसंद है लेकिन बेहद कम लोग ही उसका लाभ उठा पाते है। आइए आपको बताते हैं कि आप अच्छी नींद के लिए क्या कर सकते हैं:

सोते समय एक पतली तकिया का इस्तेमाल करें - जब आप सो रहे होते हैं उस समय भी आपके शरीर के अंग काम कर रहे होते हैं। ये जरूरी है कि आप दिमाग और रीढ़ की हड्डी के बीच के संदेश को बिना किसी परेशानी के जाने दें। इसलिए एक पतली तकिया का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है ताकि आपको कोई परेशानी ना पेश आए।

बिस्तर पर जाते ही फोन एवं अन्य चीजों से दूरी बना लें - बेड पर जाने के बावजूद कई लोग लैपटॉप, मोबाइल, सराउंड म्यूजिक, टीवी इत्यादि का इस्तेमाल करते रहते हैं। अगर आप ऐसा करेंगे तो आपको नींद प्राप्त करने में परेशानी होगी जो अच्छी बात नहीं है।

पंद्रह मिनट शिथिल रहें - जब आप शिथिल रहते हैं तो आपके शरीर को एक संदेश जाता है कि आप आराम की अवस्था में हैं। दिमाग उस स्थिति में शरीर के सभी अंगों को अपने काम की स्पीड को धीमा करने का आदेश देता है। ऐसी स्थिति में आपको एक आराम का अनुभव होता है जो बाद में नींद में बदल जाती है।

सोचते ना रहें - अगर आप हर पल सोचते ही रहेंगे तो दिमाग आराम नहीं कर पाएगा और ऐसी स्थिति में आप नींद से दूर हो जाएंगे। वहीं अगर आप बिस्तर पर पहुंचते ही आराम करते हैं और खुद को रिलैक्स करने देते हैं तो आपको नींद अच्छी आएगी।

ये भी पढ़ें: हेल्थ और फिटनेस को सही रखने के लिए आजमाएं ये पाँच नुस्खे


Edited by Amit Shukla

Comments

Fetching more content...