टेनसेंट के साथ पार्टनरशिप तोड़ने के बाद भी भारत में PUBG Mobile की नहीं होगी वापसी: रिपोर्ट

mage Credits: uhdpaper.com
mage Credits: uhdpaper.com

PUBG Mobile समेत 118 चीनी ऐप्स और गेम्स को भारतीय सरकार ने महीने की शुरुआत में बैन कर दिया था। इस बड़ी खबर ने हर एक PUBG Mobile फैन को चौंका दिया था। इस खबर के बाद से ही फैंस बैन हट जाने के बारे में बात कर रहे हैं।

बैन के कुछ दिनों बाद PUBG Corporation ने बताया था कि उन्होंने टेनसेंट गेम्स के साथ इंडिया में पार्टनरशिप तोड़ दी है और अब वो किसी भारतीय कंपनी को इसका पार्टनर बनाना चाहता है।

हालांकि, फैंस की उम्मीदों को बड़ा झटका लगा है। Reuters की रिपोर्ट के अनुसार, टेनसेंट के जाने का बाद भी बैन नहीं हटेगा।

टेनसेंट के साथ पार्टनरशिप तोड़ने के बाद भी भारत में PUBG Mobile की नहीं होगी वापसी: रिपोर्ट

Reuters को एक सोर्स ने बताया:

"नया मालिकाना हक चीज़ों को जल्दी नहीं बदल पाएंगे। इस गेम की खतरनाक प्रकृति हर जगह से कम्प्लेंस का कारण रही है। ये मालिकाना हक बदलने के बाद भी नहीं बदलेगा।"

रिपोर्ट्स में ये भी बताया गया कि सरकार के बड़े अधिकारी ने शुक्रवार को कहा कि वो PUBG Mobile और PUBG Mobile Lite पर लगे बैन को शायद ही हटाएँ। ये PUBG की टेनसेंट के साथ पार्टनरशिप तोड़ने के बाद की खबर है।

साउथ कोरिया में PUBG Corporation प्रवक्ता ने Reuters को बताया :

"हमने जिओ से शुरुआत में साथ आने के मौकों के बारे में बात की थी लेकिन अबतक कुछ भी तय नहीं हुआ है।"

उन्होंने ये भी बताया कि कंपनी भारत की दिक्कतों को दूर करने में लगी है और वो जरुरी सुधार करने के लिए तैयार है। जिओ असल में रिलायंस इंडस्टी का एक हिस्सा है

कुछ समय पहले भी इससे जुडी कुछ खबर सामने आयी थी कि बैन हटाने की प्रक्रिया अभी शुरू नहीं हुई है।

ये भी पढ़ें:- PUBG Mobile बैन के चलते भारतीय टीमों को PMPL 2020 में हिस्सा लेने का मौका नहीं मिलेगा

App download animated image Get the free App now