Create
Notifications

PUBG Mobile बैन के चलते भारतीय टीमों को PMPL 2020 में हिस्सा लेने का मौका नहीं मिलेगा

PUBG Mobile was recently banned in India
Ujjaval E-Sports

प्रोफेशनल E-Sports खिलाड़ियों के लिए PUBG Mobile बैन एक बड़ा विषय रहा है। पिछले कई सालों से टेनसेंट PUBG Mobile के काफी सारे अलग-अलग टूर्नामेंट आयोजित करता है और भविष्य के लिए भी बड़ी प्रतियोगिताएं देखने को मिलने वाली थी।

PUBG Mobile Pro League (PMPL) Fall Split 2020 South Asia प्रतियोगिता में भारतीय टीमों को हिस्सा लेना था। हालांकि, इससे जुडी एक बड़ी खबर सामने आयी है। बताया जा रहा है कि भारतीय टीमों को प्रतियोगिता से हिस्सा लेने से मना कर दिया गया है।

टेनसेंट के ग्लोबल PUBG Mobile E-Sports डायरेक्टर जेम्स यांग के एक सोर्स ने हाल ही में हुई मीटिंग में इस चीज़ के बारे में बात की।


PUBG Mobile अन्य जगहों की टीमों को इनवाइट किया गया है

अन्य प्रांत के रोस्टर्स ने PMPL 2020 में भाग लेने के बारे में बता दिया है। इसका सीधा अर्थ है कि प्रतियोगिता समय पर होगी और भारतीय टीमें इस बार हिस्सा नहीं ले पाएगी। कुछ इस तरह अन्य जगहों की इनवाइटेड टीमों को इन्विटेशन मिले हैं:

Enter caption
Invited received by Abrupt Slayers

टीमें अन्य क्षेत्र से खेलने की प्लानिंग कर रही थीं

TSM Entity, Xspark, Nova Godlikeऔर GXR Celtz देश के आसपास अन्य क्षेत्र से खेलने की प्लानिंग कर रहे थे। इसके साथ ही कुछ संस्थाएं टीमों को उनके असली देश से खिलाने के बारे में भी सोच रहे थे लेकिन अब ये संभव नजर नहीं आ रहा। हालांकि कोई भी आधिकारिक घोषणा अभी नहीं हुई है।

ये भी पढ़ें:- PUBG Mobile के पूरी दुनिया में मौजूद सारे वर्जन की लिस्ट


PMPL 2020 के लिए क्वालीफाई की गयी टीमों को नहीं मिलेगा चांस

PMCO India Fall Split 2020 द्वारा 5 टीमों (Xspark, Future Station, Stalwart Esports, Fintox, Team Insane) ने PMPL 2020 के लिए क्वालीफाई किया था।

इनके साथ ही PMPL Spring Split 2020 की शीर्ष 12 टीमों को इनवाइट किया गया था। ये रही लिस्ट:

  • Orange Rock
  • TSM Entity
  • Godlike
  • Synerge
  • Mega Stars
  • Fnatic
  • Marcos Gaming
  • Team Soul
  • VSG Crawlers
  • Powerhouse
  • Umumba Esports
  • Team IND

ये भी पढ़ें;- PUBG Mobile Lite बैन के बाद 5 बढ़िया एम्युलेटर गेम्स


Edited by Ujjaval E-Sports

Comments

Fetching more content...