मोंटे-कार्लो मास्टर्स : 2014 के चैंपियन वावरिंका पहले दौर में हारे, सोंगा को भी मिली मात

वावरिंका ने 2014 में फेडरर को हराते हुए ये खिताब जीता था।
वावरिंका ने 2014 में फेडरर को हराते हुए ये खिताब जीता था।

मोंटे कार्लो मास्टर्स के पहले दौर में साल 2014 के चैंपियन स्विट्जरलैंड के स्टेन वावरिंका पहले दौर में हारकर बाहर हो गए हैं। तीन बार के ग्रैंड स्लैम चैंपियन वावरिंका को कजाकिस्तान के 36वीं एटीपी रैंकिंग वाले एलेग्जेंडर बुबलिक ने 3-6, 7-5, 6-2 से हराया। वावरिंका को टूर्नामेंट में वाइल्ड कार्ड से प्रवेश दिया गया था। साल 2014 में वावरिंका ने रॉजर फेडरर को हराकर अपना इकलौता मोंटे-कार्लो मास्टर्स खिताब जीता था। वावरिंका जब स्टेडियम में खेलने पहुंचे तो दर्शकों ने उनका जोरदार स्वागत किया, लेकिन पहले सेट में जीत के बाद वो मोमेंटम कायम नहीं रख पाए।

वावरिंका के अलावा पूर्व विश्व नंबर 5 फ्रांस के जो विलफ्रेड सोंगा भी पहले दौर में हार गए। सोंगा को क्रोएशिया के मारिन सिलिच के खिलाफ 6-2, 6-2 से हार का सामना करना पड़ा। सोंगा ने हाल ही में ऐलान किया था कि इस साल फ्रेंच ओपन के बाद वो प्रोफेशनल टेनिस से संन्यास लेंगे और ऐसे में ये उनका आखिरी मोंटे-कार्लो टूर्नामेंट था। अगले दौर में सिलिच का सामना इंडियन वेल्स चैंपियन टेलर फ्रिट्ज और वाइल्ड कार्डधारी ल्यूकस कतारिना के बीच होने वाले मैच के विजेता से होगा।

हर्कग्ज जीते, सिनर भी अगले दौर में

पहले दौर में 11वीं वरीयता प्राप्त पोलैंड के ह्यूबर्ट हर्कग्ज ने बोलिविया के हुगो डेलियन को 7-5, 6-4 से मात दी और दूसरे दौर में प्रवेश किया। हर्कग्ज हाल ही में मियामी ओपन के सेमीफाइनल तक पहुंचे थे। इटली के जैनिक सिनर भी दूसरे दौर में पहुंच गए हैं। 9वीं वरीयता प्राप्त सिनर ने क्रोएशिया के बोर्ना कोरिच को 6-3, 2-6, 6-3 से मात दी। 12वीं वरीयता प्राप्त अर्जेंटीना के डिएगो श्वॉर्ट्जमैन और 13वीं वरीयता प्राप्त स्पेन के पाब्लो करेनो बुस्ता ने भी अपने-अपने मैच जीतते हुए दूसरे दौर में जगह बनाने में कामयाबी हासिल की।

Edited by Prashant Kumar
App download animated image Get the free App now