Wimbledon 2023 : जोकोविच के रिकॉर्ड की बराबरी कर सेमीफाइनल में पहुंचे अल्कराज, मेदवेदेव भी अंतिम-4 में

Day Ten: The Championships - Wimbledon 2023
अल्कराज पहली बार विम्बल्डन के अंतिम-4 में पहुंचे हैं।

स्पेन के कार्लोस अल्कराज विम्बल्डन पुरुष सिंगल्स के सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं। विश्व नंबर 1 खिलाड़ी अल्कराज ने क्वार्टर-फाइनल में छठी सीड होल्गर रुने को हराकर पहली बार इस ग्रैंड स्लैम के अंतिम-4 में प्रवेश किया। अल्कराज ने रुने को 7-6, 6-4, 6-4 से हराया। अल्कराज ने पिछले साल यूएस ओपन के रूप में करियर का पहला ग्रैंड स्लैम जीता था और अब विम्बल्डन के सहारे दूसरा ग्रैंड स्लैम जीतने का प्रयास करेंगे।

अल्कराज और रुने, दोनों ही 20 साल के हैं और ऐसे में इनके बीच हुआ मैच ऐतिहासिक बन गया। दरअसल ओपन ऐरा यानि साल 1968 के बाद पहली बार विम्बल्डन का कोई पुरुष सिंगल्स क्वार्टर-फाइनल 21 साल से कम की उम्र के खिलाड़ियों के बीच हुआ।

दोनों युवा खिलाड़ियों के प्रदर्शन को देखने के लिए दर्शक भी बेहद उत्साहित थे। करीब 3 घंटे 20 मिनट तक चले मैच में जीत के बाद अल्कराज सेमीफाइनल में पहुंचने में कामयाब रहे। इसके साथ ही वह नोवाक जोकोविच के बाद 20 साल की उम्र में सेमीफाइनलिस्ट बनने वाले पहले खिलाड़ी बन गए। जोकोविच साल 2007 में यहां 20 साल की ही उम्र में अंतिम-4 तक पहुंचे थे।

अल्कराज के लिए अब सेमीफाइनल की राह मुश्किल होने वाली है क्योंकि उनका सामना रूस के डेनिल मेदवेदेव से होगा। पूर्व विश्व नंबर 1 और टूर्नामेंट में तीसरी सीड मेदवेदेव ने गैर वरीय अमेरिका के क्रिस्टोफर यूबांक्स को कड़े मुकाबले में 6-4, 1-6, 4-6, 7-6, 6-1 से हराते हुए पहली बार विम्बल्डन सेमीफाइनिलस्ट बनने का गौरव पाया। मेदवेदेव ने साल 2021 में अपने करियर का पहला और इकलौता ग्रैंड स्लैम यूएस ओपन के रूप में जीता था। अब विम्बल्डन के खिताब को जीत वह अपने ग्रैंड स्लैम की संख्या को बढ़ाना चाहेंगे।

अल्कराज और मेदवेदेव के बीच आज तक कुल दो मैच हुए हैं जिनमें से साल 2021 में विम्बल्डन के दूसरे दौर में ही मेदवेदेव ने अल्कराज को मात दी थी। वहीं दूसरी बार दोनों इस साल एटीपी मास्टर्स इंडियन वेल्स के फाइनल में खेले थे जहां अल्कराज विजयी हुए थे।

Edited by निशांत द्रविड़
App download animated image Get the free App now