Create

यूएस ओपन : किर्गियोस ने गत विजेता और विश्व नंबर 1 मेदवेदेव को हराकर किया बाहर

निक किर्गियोस पहली बार यूएस ओपन  के क्वार्टरफाइनल में पहुंचे हैं।
निक किर्गियोस पहली बार यूएस ओपन के क्वार्टरफाइनल में पहुंचे हैं।
reaction-emoji
Hemlata Pandey

विश्व नंबर 1 टेनिस खिलाड़ी रूस के डेनिल मेदवेदेव यूएस ओपन से बाहर हो गए हैं। गत चैंपियन मेदवेदेव को चौथे दौर में 23वीं सीड और विश्व नंबर 25 ऑस्ट्रेलिया के निक किर्गियोस के हाथों हार झेलनी पड़ी। मेदवेदेव को निक ने 7-6, 3-6, 6-3, 6-2 से हराया और उनसे विश्व नंबर 1 की रैंकिंग भी छीन ली है। यूएस ओपन के बाद जारी होने वाली रैंकिंग में मेदवेदेव नंबर 1 की कुर्सी से हट जाएंगे।

Serving for the US Open quarterfinals, Nick Kyrgios delivered this. 🥶️@Heineken Serve of the Day | #USOpen https://t.co/ONXF2fGqY7

निक और मेदवेदेव की ये 5वीं भिड़ंत थी और चौथी बार निक ने जीत दर्ज की है। अभी तक मेदवेदेव टूर्नामेंट में काफी अच्छे फॉर्म में दिख रहे थे और लग रहा था कि वो अपना खिताब बचा ले जाएंगे। लेकिन निक ने करीब 3 घंटे तक चले मुकाबले में मेदवेदेव से बेहतर खेल दिखाया। इस मुकाबले को देखने के लिए हजारों की तादाद में दर्शक आए थे और निक ने अपने खेल से उन्हें काफी उत्साहित भी रखा।

"I'm just finally glad I'm able to show New York my talent."💙 @NickKyrgios https://t.co/wyQ1JENrfw

मैच के दौरान मेदवेदेव ने ज्यादा गलतियां नहीं की, लेकिन निक ने अच्छा खेल दिखाया। दर्शक निक के तरीकों को देखकर हैरान थे और उन्हें फैंस का भरपूर समर्थन मिल रहा था। निक ने पूरे मैच में कुल 21 एस लगाए और 53 विनर्स के साथ मुकाबला जीता। जुलाई के महीने में निक विम्बल्डन के फाइनल तक पहुंचे थे और अब शायद उनकी अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीतने की भूख बढ़ गई है। मैच के बाद निक ने इंटरव्यू में बताया कि वो कई मौकों पर खुद के शानदार खेल से हैरान भी हुए।

मुझे लगता है कि मैंने सही तरीके से मैच खेला। मैंने शानदार तरीके से शॉट रिटर्न किए। तीसरे और चौथे सेट में तो मुझे काफी राहत और आसानी महसूस हुई। मैं काफी मजे के साथ खेल रहा था और हर पल को इंजॉय कर रहा था। मुझे अपने खेल पर गर्व है।

किर्गियोस ने इस साल विम्बल्डन उपविजेता बनने के साथ ही वॉशिंगटन में हुए सिटी ओपन एटीपी 500 टाइटल को भी जीता। वहीं मेदवेदेव ने इस साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलियन ओपन के फाइनल में जगह बनाई थी, लेकिन यहां दो सेट जीतने के बाद राफेल नडाल से बाकी तीन सेट हारकर खिताब गंवा बैठे। फ्रेंच ओपन के चौथे दौर में हारने वाले मेदवेदेव विम्बल्डन में बैन के कारण खेल नहीं पाए। अब यूएस ओपन में मिली हार के बाद मेदवेदेव नंबर 1 का तांज गंवा देंगे क्योंकि बतौर गत विजेता उन्हें इस बार 2000 रैंकिंग प्वाइंट बचाने थे।


Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...