2 कारणों से रोमन रेंस और डेनियल ब्रायन का मैच बुक करके WWE ने सही किया और 2 क्यों ऐसा नहीं करना चाहिए था

रोमन रेंस vs डेनियल ब्रायन
रोमन रेंस vs डेनियल ब्रायन

WWE स्मैकडाउन (SmackDown) के हालिया एपिसोड में यूनिवर्सल चैंपियन रोमन रेंस (Roman Reigns) ने सिजेरो को नजरंदाज कर डेनियल ब्रायन (Daniel Bryan) को एक बार फिर WWE यूनिवर्सल चैंपियनशिप मैच देने की बात कही। इसलिए अब अगले हफ्ते SmackDown में रेंस को एक बार फिर ब्रायन के खिलाफ अपने टाइटल को डिफेंड करना होगा।

इस मैच में रेंस ने शर्त रखी है कि अगर ब्रायन को हार मिली, तो उन्हें SmackDown को छोड़कर जाना होगा। इस शर्त ने अब कई तरह के सवाल खड़े कर दिए हैं। क्या WWE ब्रायन को ब्रेक दे रही है, उन्हें Raw में भेज रही है या ब्रायन अब एक पार्ट-टाइम रेसलर की भूमिका निभाते हुए नजर आएंगे।

ये भी पढ़ें: WWE Backlash के सबसे पहले इवेंट का हिस्सा रहे 4 बड़े सुपरस्टार्स और आज वो कहां हैं

कुछ लोग इस मैच के पक्ष में हो सकते हैं तो कुछ इसका विरोध भी कर रहे होंगे, क्योंकि ब्रायन vs रेंस फ्यूड कई महीनों से चली आ रही है। इस आर्टिकल में आइए जानते हैं उन 2 कारणों के बारे में जो बताते हैं कि WWE ने इस मैच को बुक करके सही फैसला लिया और 2 ऐसे कारण जिनसे WWE को ऐसा नहीं करना चाहिए था।

ये भी पढ़ें: 4 कारणों से WWE ने रोमन रेंस vs डेनियल ब्रायन यूनिवर्सल चैंपियनशिप मैच को बुक किया है

सही फैसला - डेनियल ब्रायन को मिले WWE यूनिवर्सल चैंपियनशिप मैचों में हर बार किसी ना किसी का दखल देखा गया

रोमन रेंस
रोमन रेंस

इस सब की शुरुआत Elimination Chamber मैच से हुई, जिसमें जीत दर्ज कर डेनियल ब्रायन ने रोमन रेंस के खिलाफ WWE यूनिवर्सल चैंपियनशिप मैच प्राप्त किया था। ब्रायन काफी थक चुके थे, तभी रेंस बाहर आ गए और उन्होंने अपने विरोधी को आराम का कोई मौका ना देते हुए जीत दर्ज की थी।

Fastlane 2021 में रेंस vs ब्रायन मैच में ऐज स्पेशल गेस्ट एंफोर्सर रहे। रेफरी पर गलती से अटैक के बाद ऐज ने फायदा उठाया, वहीं इस बीच जे उसो ने भी एंट्री कर ट्राइबल चीफ को जीतने में मदद की थी। WrestleMania 37 के ट्रिपल थ्रेट चैंपियनशिप मैच के अंतिम क्षणों में जे उसो का दखल देखा गया था। ये सभी बातें दर्शाती हैं कि ब्रायन को अभी तक फेयर चांस नहीं मिला है। संभव है कि इस बार ब्रायन को बिना किसी के दखल के अपनी काबिलियत दिखाने का मौका मिल रहा है।

ये भी पढ़ें: 4 मौजूदा WWE सुपरस्टार्स जिनके साथ अंडरटेकर का मैच जरूर होना चाहिए था

WWE और रेसलिंग से जुड़ी तमाम बड़ी खबरों के साथ-साथ अपडेट्स, लाइव रिजल्ट्स को हमारे Facebook page पर पाएं।

गलत फैसला - SmackDown में अन्य सुपरस्टार्स को भी मौका मिलना चाहिए

सिजेरो और रोमन रेंस
सिजेरो और रोमन रेंस

हमने आपको पहले भी बताया कि डेनियल ब्रायन WWE Elimination Chamber 2021 पीपीवी से ही यूनिवर्सल चैंपियनशिप स्टोरीलाइन में शामिल रहे हैं। उसके बाद Fastlane 2021, WrestleMania 37 और अब SmackDown में भी उन्हें एक बार फिर टाइटल शॉट मिला है।

उनके अलावा भी SmackDown में कई प्रतिभाशाली सुपरस्टार्स मौजूद हैं, जो अपने मौके का इंतज़ार कर रहे हैं। इनमें सबसे पहला और बड़ा नाम सिजेरो का है, जिन्हें रेंस के अगले बड़े चैलेंजर के रूप में देखा जा रहा है। मगर ब्रायन के कारण ही सिजेरो को चैंपियनशिप मैच नहीं मिल पा रहा है।

सही फैसला - डेनियल ब्रायन को SmackDown से हटाने के लिए

डेनियल ब्रायन vs रोमन रेंस
डेनियल ब्रायन vs रोमन रेंस

SmackDown में तय किए गए रोमन रेंस vs डेनियल ब्रायन मैच में जोड़ी गई शर्त WWE यूनिवर्सल चैंपियनशिप स्टोरीलाइन में अहम भूमिका निभाने वाली है। रेंस के मोमेंटम को देखते हुए इस मैच में ब्रायन की हार लगभग तय मानी जा रही है।

हार के साथ ही ब्रायन को SmackDown छोड़कर जाना होगा। उसके बाद चाहे वो Raw में जाएं, या WWE से कुछ समय के लिए ब्रेक लें, लेकिन ये जरूर तय है कि SmackDown में यूनिवर्सल चैंपियनशिप फ्यूड को एक नई शुरुआत जरूर मिलने वाली है। साथ हीे मैच को रेंस vs ब्रायन फ्यूड का अंत भी कहा जा सकता है।

गलत फैसला - रोमन रेंस vs डेनियल ब्रायन मैच को किसी पीपीवी में होना चाहिए था

रोमन रेंस vs डेनियल ब्रायन
रोमन रेंस vs डेनियल ब्रायन

एक तरफ रोमन रेंस हैं जिनका हील किरदार फिलहाल चरम पर है और जो भी उनके सामने आ रहा है, उसे हार ही झेलनी पड़ रही है। दूसरी ओर डेनियल ब्रायन हैं, जिन्हें अपने साथ-साथ दूसरे रेसलर्स को भी मजबूत दिखाने में महारत हासिल है।

पिछले कुछ महीनों में उनकी रेंस के खिलाफ कई हार यही दर्शाती हैं कि उन्होंने ट्राइबल चीफ को ताकतवर दिखाने में मदद की है। अगर अब WWE इनकी दुश्मनी का अंत करना चाहती है तो ये SmackDown के किसी रेगुलर मैच से नहीं, बल्कि किसी पीपीवी के मेन इवेंट से होनी चाहिए थी।

Quick Links

Edited by Neeraj sharma
Be the first one to comment