Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

ट्रिपल एच के विंस मैकमैहन से खफा होने की 3 सबसे बड़ी वजह

Ankit Kumar
ANALYST
टॉप 5 / टॉप 10
7.70K   //    18 May 2019, 13:00 IST

Rumors are running rampant

नोट: इस आर्टिकल में लिखी गई बातें लेखक के निजी विचार हैं।

WWE को लंबे समय से फॉलो कर फैंस अच्छी तरह से जानते हैं कि विंस मैकमैहन ने अपने बलबूते कंपनी को कहां से लाकर कहां खड़ा कर दिया है। पूरी दुनिया में अगर प्रोफेशनल रैसलिंग कंपनी के बारे में बात होती है तो सबसे पहला नाम WWE का आता है।

ये भी पढ़ें: WWE Money in the Bank 2019: शो से पहले सभी मैचों के नतीजों की भविष्यवाणी

इसमें कोई शक नहीं है कि लगभग हर प्रोफेशनल रैसलर WWE का हिस्सा बनना चाहता है। क्योंकि WWE में उसे जिनती पॉपुरलिटी मिलेगी शायद कहीं और नहीं। यह विंस मैकमैहन की मेहनत का ही नतीजा है कि WWE आज प्रोफेनशल रैसलिंग की सबसे बड़ी कंपनी बन चुकी है।

ये भी पढ़ें: 5 WWE सुपरस्टार्स जो Money in the Bank 2019 में चौंकाने वाली वापसी कर सकते हैं

विंस मैकमैहन के बाद इस कंपनी को संभालने के लिए ट्रिपल एच का नाम सबसे पहले जहन में आता है। ट्रिपल एच न केवल विंस मैकमैहन के दमाद हैं बल्कि कंपनी में कई अहम पदों पर भी काबिज हैं। NXT को सफल बनाने में सबसे बड़ा हाथ ट्रिपल एच है।

इस बात से कोई इंकार नहीं कर सकता है कि आने वाले समय में ट्रिपल एच ही विंस मैकमैहन के उत्तराधिकारी बनेंगे। हालांकि पिछले कुछ समय से ट्रिपल एच के विंस मैकमैहन से खफा होने की खबरें सामने आई है। इसी कड़ी में आइए एक नज़र डालते हैं ट्रिपल एच के विंस मैकमैहन से खफा होने की 3 सबसे बड़ी वजह पर।

गिरती व्यूवरशिप के साथ वाइल्ड कार्ड रूल का फेल होना

Is Vince listening to the audience?

ट्रिपल एच के विंस मैकमैहन से नाराज़ होने की सबसे बड़ी वजह लगातार गिरती रेटिंग्स भी है। पिछले कुछ हफ्तों से रॉ की व्यूवरशिप में लगातार गिरावट हो रही है। ऐसे में विंस मैकमैहन ने वाइल्ड कार्ड रूल की एंट्री की।

Advertisement

इस रूल के तहत रॉ और स्मैकडाउन के 4-4 सुपरस्टार्स ब्रांड बदल सकते हैं। हालांकि विंस मैकमैहन का ये प्लान ज्यादा सफल नहीं हो सका और रॉ की रेटिंग्स में कुछ खास सुधार देखने को नहीं मिला।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

1 / 3 NEXT
Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...