Create

WWE के 5 दिग्गज सुपरस्टार्स जो कभी वर्ल्ड चैंपियन नहीं बन पाए

ओवेन हार्ट
ओवेन हार्ट

जबसे प्रो रेसलिंग इंडस्ट्री की शुरुआत हुई है, वर्ल्ड चैंपियनशिप एक महानता का प्रतीक रही है। वर्ल्ड चैंपियन को उस समय का सबसे बेस्ट परफ़ॉर्मर कहा जाता है। WWE में हल्क होगन, रिक फ्लेयर, स्टोन कोल्ड स्टीव ऑस्टिन और ट्रिपल एच जैसे सुपरस्टार्स का नाम सबसे महान चैंपियंस में लिया जाता है।

अक्सर उस सुपरस्टार के वर्ल्ड चैंपियन बनने की ज्यादा संभावनाएं होती हैं जो कंपनी का टॉप सुपरस्टार बनने में सक्षम हो। उनकी इन रिंग स्किल्स अच्छी हों, प्रोमो अच्छे से देने जानते हों और और अपने कैरेक्टर को फैंस के लिए दिलचस्प बनाना जानते हों।

ये भी पढ़ें: 6 बड़े सुपरस्टार्स जिन्हें WWE छोड़ने के बाद ज्यादा सफलता मिली

WWE इतिहास में ऐसे भी कई सुपरस्टार्स रहे जो चैंपियन बनने के हकदार थे लेकिन उन्हें ये उपलब्धि प्राप्त करने जैसा कभी पुश ही नहीं मिल पाया। इस आर्टिकल में उन सुपरस्टार्स के बारे में जानते हैं जो कभी वर्ल्ड चैंपियन नहीं बन पाए और कब उन्हें चैंपियन बनना चाहिए था।

ये भी पढ़ें: 5 भारतीय प्रो रेसलर्स जो WWE में जगह बनाने में सफल रहे

पूर्व WWE सुपरस्टार ओवेन हार्ट

साल 1994 में WWE ने "द न्यू जेनरेशन एरा" की शुरुआत हुई, जिसमें अधिकांश समय पर ब्रेट हार्ट कंपनी के टॉप सुपरस्टार बने रहे। उस समय ओवेन हार्ट ने रेसलमेनिया में ब्रेट को सिंगल्स मैच में हराया और उसके बाद किंग ऑफ द रिंग भी जीता।

उसी साल समरस्लैम में दोनों के बीच मैच हुआ, जिसमें ओवेन को हार झेलनी पड़ी, लेकिन स्टोरलाइन अभी भी दिलचस्प बनी हुई थी। लेकिन कंपनी ने बड़ा बदलाव करते हुए ब्रेट को बॉब बैकलंड के खिलाफ स्टोरीलाइन का हिस्सा बनाया और साथ में ओवेंस भी ब्रेट के प्रतिद्वंदी के साथ नजर आते रहे।

ओवेन उस मैच में अपने भाई की हार का कारण बने, लेकिन ये आज भी एक सवाल बना हुआ है कि WWE ने उस समय उन्हें चैंपियन क्यों नहीं बनाया। दोनों भाई बेहतरीन स्टोरीलाइन का हिस्सा रहे, परिस्थितियां भी ओवेन को चैंपियन बनाने के अनुकूल थीं और उनकी स्किल्स के आधार पर उन्हें कम से कम एक बार चैंपियन जरूर बनना चाहिए था।

ये भी पढ़ें: 5 WWE सुपरस्टार्स जिनकी बॉडी 50 की उम्र के बाद भी फिट नजर आती है

टेड डी बियासी

WWE रेसलमेनिया 4 को रैंडी सैवेज की WWE चैंपियनशिप जीत के लिए याद किया जाता है। लेकिन ऐसा कहा जाता है कि कंपनी ने पहले सैवेज को चैंपियन बनाने का प्लान तैयार नहीं किया था।

टेड डी बियासी को भी उस समय चैंपियन के विकल्प के तौर पर देखा जा रहा था। हालांकि बियासी को टाइटल की कोई जरूरत नहीं थी लेकिन ये उनके पास टाइटल जीतने के कुछ चुनिंदा मौकों में से एक था।

रॉडी द पाइपर

साल 1985 के समय रॉडी पाइपर WWE में सबसे ज्यादा नापसंद किए जाए वाले सुपरस्टार्स में से एक थे। हल्क होगन को इतिहास के सबसे चहेते प्रो रेसलर्स में से एक बनाने में भी पाइपर का बहुत बड़ा योगदान रहा।

रेसलमेनिया 1 के बिल्ड-अप में WWE the war to settle the Score नाम के इवेंट में पाइपर vs होगन मैच हुआ। जिस तरह उन्होंने होगन को बड़ा सुपरस्टार बनने में मदद की, उसके लिहाज से पाइपर को उस समय चैंपियन जरूर बनना चाहिए था।

वेडर

वेडर साल 1996 में WWE में आने से पहले WCW के टॉप हील सुपरस्टार्स में से एक थे। उम्मीद थी कि WWE में आने के बाद भी उन्हें उसी तरह का पुश मिलेगा। ब्रूस प्रिचार्ड, जिम रॉस और यहां तक कि खुद वेडर भी कह चुके हैं कि उन्हें शॉन माइकल्स के खिलाफ चैंपियनशिप स्टोरीलाइन में शामिल किया जाना था।

लेकिन माइकल्स को वेडर के साथ काम करना पसंद नहीं था, इसलिए प्लान को ड्रॉप कर दिया गया। माइकल्स की पॉलिटिक्स की वजह से वेडर को कभी चैंपियन बनना नसीब नहीं हुआ।

विलियम रीगल

साल 2008 तक विलियम रीगल को प्रो रेसलिंग में 25 साल का अनुभव प्राप्त हो चुका था। उस समय वो कई बड़ी स्टोरीलाइंस का हिस्सा बने और 2008 किंग ऑफ द रिंग भी जीता।

खबरें थीं कि उन्हें चैंपियन बनाया जा सकता है लेकिन मई 2008 उन्हें ड्रग्स टेस्ट पॉलिसी का उल्लंघन करते पकड़ा गया और भविष्य में उन्हें WWE में कोई पुश मिल ही नहीं पाया।

Quick Links

Edited by मयंक मेहता
Be the first one to comment