5 कारण जो बताते हैं कि सैथ रॉलिंस का रोमन रेंस को टॉप बेबीफेस के रूप में रिप्लेस करने का निर्णय सही है

सैथ रॉलिंस
सैथ रॉलिंस

एक साल में काफी कुछ बदल सकता है। समरस्लैम 2018 में रोमन रेंस ने ब्रॉक लैसनर को हराते हुए यूनिवर्सल चैंपियनशिप जीती थी। यह तब हुआ था जब रेसलमेनिया 31 में रोमन WWE वर्ल्ड टाइटल जीतने में विफल रहे थे क्योंकि सैथ रॉलिंस ने अपने मनी इन द बैंक कॉन्ट्रैक्ट को कैश इन करके उनसे जीत छीन ली थी।

रेसलमेनिया 34 में लैसनर ने रोमन को कई एफ 5 लगाए थे। रेसलमेनिया 35 में लैसनर को धराशाई करने के बाद हाल ही में रॉलिंस ने समरस्लैम के मेन के इवेंट में भी लैसनर को हराया था। रॉलिंस WWE के फ्लैगशिप शो के टॉप चैंपियन हैं।

WWE के फेस के रूप में कंपनी ने रोमन रेंस की जगह सैथ रॉलिंस को दे दी है। आइए जानते हैं वो 5 कारण जिनसे साबित होता है कि यह निर्णय सही है।

यह भी पढ़ें: सैथ रॉलिंस और ब्रॉन स्ट्रोमैन के Raw टैग टीम चैंपियन बनने के 5 सबसे बड़े कारण

#5 रोमन रेंस को लेकर किए गए प्रयोग सफल नहीं हो रहे थे

रोमन रेंस
रोमन रेंस

2014 में जब रॉलिंस ने द शील्ड से गद्दारी की थी तब रोमन को काफी बड़ा पुश दिया गया था और उन्हें इस तरह से प्रमोट किया गया था कि वही हमें लैसनर से छुट्टी दिलाएंगे। फैंस को रोमन का पुश किया जाना अच्छा नहीं लगा। 2015 रॉयल रंबल में उनकी जीत की काफी आलोचना हुई थी।

अगले तीन सालों तक इस स्थिति में बदलाव नहीं आया। रोमन ने लैसनर को हराने के लिए कई प्रयास किए, लेकिन वह हर बार असफल रहे और WWE यूनिवर्स उन्हें टॉप स्टार के रूप में देखने में दिलचस्पी नहीं ले रहा था। रेसलमेनिया में अंडरटेकर के खिलाफ रोमन की जीत ने उनका काम और भी खराब कर दिया।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#4 रोमन में इन्वैस्ट करने का जोखिम नहीं ले सकती WWE

टाइटल छोड़ने की घोषणा करते रोमन
टाइटल छोड़ने की घोषणा करते रोमन

WWE एक बिजनेस है जिसे एक ऐसे टॉप स्टार की जरूरत है जो हर हफ्ते मौजूद हो और टिकट बिक्री करा सके। पिछले साल रोमन ने रॉ के एक एपिसोड में अपनी ल्यूकीमिया के वापस आ जाने की घोषणा की थी और उन्होंने यूनिवर्सल चैंपियनशिप टाइटल को छोड़ दिया था। इसके बाद ये जिम्मेदारी सैथ रॉलिंस को दी गई। सैथ रॉलिंस ने ये काम अच्छे से निभाया। फैेंस का जबरदस्त सपोर्ट सैथ रॉलिंस को मिला। रोमन ने वापसी के बाद कुछ खास नहीं किया। वैसे भी अब रोमन रेंस स्मैकडाउन का हिस्सा है। तो शायद रॉलिंस को इसका फायदा मिल रहा हो और उन्हें रॉ का फेस बनाया जा रहा है।वहीं रोमन रेंस को धीरे-धीरे स्मैकडाउन के टाइटल पिक्चर में रखा जाएगा।

#3 लगातार अच्छे मैच देने की क्षमता सैथ रॉलिंस में है

दर्शकों को लुभा रहे हैं रॉलिंस
दर्शकों को लुभा रहे हैं रॉलिंस

भले ही रोमन अच्छे मैच लड़ सकते हैं, लेकिन रिंग के अंदर के प्रदर्शन और माइक दोनों पर ही रॉलिंस उनसे कहीं बेहतर हैं। रॉलिंस को फैंस का सपोर्ट मिलने के पीछे का कारण है कि वह हफ्ते दर हफ्ते लगातार क्वालिटी मैच दे रहे हैं। ट्रिपल एच, द अंडरटेकर और ब्रॉक लैसनर के खिलाफ लगातार तीन रेसलमेनिया में रोमन के मैचों ने काफी कुछ सोचने पर मजबूर किया था।

#2 रोमन रेंस का थोपा जाना किसी को नहीं पसंद

स्मैकडाउन में रोमन
स्मैकडाउन में रोमन

रोमन रेंस ने वापसी करते हुए रेसलमेनिया 35 में ड्रू मैकइंटायर को हराया था। इसके बाद रोमन को ब्लू ब्रांड भेज दिया गया। रोमन अभी स्मैकडाउन को हैंडल कर रहे हैं और उन्हें लगातार अच्छे रिएक्शन मिल रहे हैं। यह कहना उचित होगा कि रॉलिंस द्वारा रिप्लेस किया जाना रोमन के लिए अच्छा साबित हुआ है औऱ उन्हें दोबारा पसंद किया जाने लगा है।

#1 सैथ रॉलिंस के माहौल को इग्नोर नहीं किया जा सकता था

सैथ रॉलिंस
सैथ रॉलिंस

रेसलमेनिया 34 में रॉलिंस ने फिन बैलर और द मिज़ को हराकर इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप जीती थी और रॉ में उन्हें जो माहौल मिला था उसे इग्नोर नहीं किया जा सकता है। 2019 में रॉलिंस की लोकप्रियता और बढ़ गई और उन्होंने रॉयल रंबल जीतकर लैसनर के खिलाफ मुकाबला हासिल कर लिया। रॉलिंस को जो प्यार मिल रहा है उससे साबित होता है कि वह टॉप चैंपियन हैं।