Create
Notifications

इन 5 बड़े खतरों से WWE को बचकर रहना होगा

Things might get stranger in WWE as the year goes on.
Neeraj sharma

वर्ष 2018 WWE के लिए बेहद ख़राब साबित हुआ था और यही दौर नए वर्ष में भी जारी है। रॉ और स्मैकडाउन की रेटिंग्स रिकॉर्ड निचले स्तर पर जा पहुंची है। स्मैकडाउन काफी समय से अपनी साथी ब्रांड रॉ से बेहतर प्रदर्शन कर रही है। फिर भी स्मैकडाउन भी WWE की बेहतरी के लिए कुछ नहीं कर पा रही।

यह मानने वाली बात है कि WWE के लिए सबसे बड़ा ख़तरा सिर्फ रेटिंग्स ही नहीं हैं। WWE के नुकसान के कई पहलू हैं, जिनके कारण मिस्टर मैकमैहन काफी परेशान हैं।

इस नुकसान के दौर से बाहर निकलने और इसकी भरपाई करने के लिए इस हफ्ते रॉ में वाइल्डकार्ड रूल पेश किया गया। यानी अब जरूरत के अनुसार सुपरस्टार्स को WWE की दोनों ब्रांड्स में प्रयोग किया जाएगा।

साल का सबसे बड़ा शो रैसलमेनिया 35 एक महीने पहले ही आयोजित हुआ था। उसके बाद से दिक्कते बढ़ ही रही हैं ना कि कम हो रही हैं। ये सभी चीजें दर्शाती हैं कि ख़तरा एक तरफ से नहीं बल्कि चौतरफा WWE को घेर रहा है।

इस आर्टिकल में हम ऐसे ही पाँच कारणों पर चर्चा करने वाले हैं कि दुनिया की सबसे बड़ी रैसलिंग कंपनी के बड़े अधिकारी परेशान हैं।

5) ऑल एलीट रैसलिंग और अन्य रैसलिंग कंपनियाँ

The mere existence of AEW has put pressure on WWE

WCW के पतन को दो दशक पूरे होने वाले हैं। मगर सच तो यहीं है कि WCW ने WWE को लगभग पीछे छोड़ ही दिया था। फिर एक ऐसा भी समय आया जब विंस मैकमैहन ने पूरी WCW को ही खरीद लिया।

रिंग ऑफ ऑनर, न्यू जापान प्रो रैसलिंग भी इस मार्केट में जगह बनाने में सफल रही हैं। लेकिन WWE को चुनौती कोई नहीं दे सका। अब WCW का वह दौर एक बार फिर AEW के रूप में वापस आ गया है।

हालांकि अभी तक किसी को अंदाजा नहीं है कि AEW कितनी सफल होगी। मगर सच्चाई यह है कि उनके पास मैकमैहन परिवार से कहीं अधिक पैसा है और टैलेंट को अपने साथ जोड़ने की प्रक्रिया जारी है। यदि WWE इस नई रैसलिंग कंपनी को परेशानी न समझ रही होती, तो अभी तक 'द रिवाइवल', ल्यूक हार्पर और न जाने कितने ही रैसलर्स की रिलीज़ की मांग को मंजूरी मिल चुकी होती।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

4) क्रिएटिव टीम की नाकामी

Road Dogg has had a whirlwind few months in WWE.

पिछले करीब एक वर्ष में WWE की क्रिएटिव राइटर्स की टीम भी काफी कमजोर पड़ी है। कुछ खुद कंपनी छोड़ कर जा चुके हैं, तो कुछ को बर्खास्त कर दिया गया। स्मैकडाउन टीम के लीड राइटर रोड डॉग का अपने पद से इस्तीफा देना दर्शाता है कि WWE के लिए समस्याएँ कम होने का नाम तो बिल्कुल नहीं ले रही हैं।

बैकस्टेज एजेंट डीन मलेंको और आर्न एंडरसन ने भी मैकमैहन परिवार का साथ छोड़ने में कोई हिचक नहीं दिखाई है। यदि रॉ और स्मैकडाउन के पिछले कुछ एपिसोड आपको पसंद नहीं आए, तो वह क्रिएटिव टीम की ही नाकामी है।

FOX डील पास आ रही है और क्रिएटिव टीम की नाकामी की वजह से वाइल्डकार्ड जैसे नियम पेश हो रहे हैं। निजी तौर पर वाइल्डकार्ड रूल के प्रति लोगों की राय ली जाए तो इसे ख़राब प्रतिक्रियाएँ ही मिलेंगी।

यह भी पढ़ें: विंस मैकमैहन द्वारा लाए गए वाइल्डकार्ड रूल की सबसे बड़ी समस्या

3) रैसलर कर रहे हैं रिलीज़ की मांग

The Revival asked for their release from WWE in early 2019

सोशल मीडिया के दौर में यदि कोई सुपरस्टार कंपनी में अपने किरदार से खुश नहीं है। तो अगले ही पल या तो ट्वीट के जरिये या फिर इन्स्टाग्राम स्टोरी के जरिये नाराजगी जाहिर कर दी जाती है।

'द रिवाइवल', ल्यूक हार्पर और कैनलिस। इस लिस्ट में कई नाम हैं जिन्होंने पिछले कुछ महीनों में खुद को WWE से रिलीज़ किए जाने की मांग की है। दूसरी ओर साशा बैंक्स की स्थिति अभी तक साफ नहीं हो पाई है, लेकिन यह सत्य है कि वो खुद के प्रति WWE की रणनीतियों की वजह से खुश नहीं हैं।

डीन एम्ब्रोज़ द्वारा WWE छोड़ने पर यदि हम चर्चा करने बैठेंगे तो पूरा दिन भी कम पड़ जाएगा। उन्होंने तो नया ऑफर तक ठुकरा दिया है। इन सभी चीजें एक ओर इशारा करती हैं कि सभी को आजादी चाहिए, न कि उन्हें लगातार गलत तरीके से यूज़ किया जाए।

यह भी पढ़ें: विंस मैकमैहन को है भरोसा डीन एम्ब्रोज़ WWE में करेंगे वापसी

2) स्मैकडाउन FOX नेटवर्क पर शिफ्ट हो रही है

SmackDown is slated to air on Fox starting this October.

WWE की ओर से तैयारियाँ शुरू हो चुकी हैं कि FOX के साथ डील से अधिक मुनाफा कैसे कमाया जाए। रोमन रेंस का स्मैकडाउन में आना और वाइल्डकार्ड रूल केवल FOX के अधिकारियों को रिझाने के लिए ही तो अमल में लाए गए हैं।

सबसे बड़ी मांग ये है कि WWE की ब्लू ब्रांड में बेहतर से बेहतर एथलीट्स शामिल होने चाहिए। इसलिए फिन बैलर, अली, एंड्राडे, असुका और बडी मर्फी जैसे सुपरस्टार्स ब्लू ब्रांड में शामिल हो गए हैं।

एंड्राडे को सुपरस्टार शेक-अप में स्मैकडाउन से रॉ में शिफ्ट कर दिया गया था। मगर FOX की अन्य बड़ी मांग यह है कि उन्हें लैटिन अमेरिकी ऑडियंस को टारगेट करना है। इसी कारण WWE ने उन्हें एक बार फिर ब्लू ब्रांड में भेजने का फैसला लिया है।

यह भी पढ़ें: पूर्व चैंपियन और AEW के बड़े रैसलर ने साधा WWE पर निशाना

1) रेटिंग्स में गिरावट

vince mcmahon

बैकस्टेज WWE अधिकारियों की परेशानी की एक बड़ी वजह यह भी है कि व्यूवरशिप लगातार घट रही है। रेटिंग्स में गिरावट का दौर वर्ष 2018 के अंतिम सत्र से ही जारी है।

इतनी संख्या में NXT सुपरस्टार्स का मेन रोस्टर डेब्यू करवाना भी अभी तक WWE को भारी ही पड़ा है। रैसलमेनिया 35 के सफर में लेसी इवांस का WWE में किरदार क्या था, इसे समझ पाना ही बहुत मुश्किल था।

आपको याद दिला दें कि उनका मेन रोस्टर डेब्यू दिसंबर 2018 में ही हो चुका था, स्थिति अब जाकर साफ हुई है कि वो बैकी लिंच को चैंपियनशिप के लिए चैलेंज करने वाली हैं। सवाल सबसे बड़े ये हैं कि ब्रे वायट का इन रिंग रिटर्न कब होगा, ब्रॉन स्ट्रोमैन को जिस पुश की जरूरत है वो उन्हें कब मिलेगा।

Edited by Ankit

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...