5 मौके जब विंस मैकमैहन ने अपने विरोधियों का करियर खत्म होने से बचाया

vince mcmahon

करीब चालीस साल पहले विंस मैकमैहन ने अपने पिता से WWE को खरीदा था। उसके बाद से उन्होंने WWE को दुनिया भर में पहचान दिलाने के लिए ना जाने कितने त्याग किए है।

विंस मैकमैहन का लक्ष्य सिर्फ एक ही था कि कैसे WWE को प्रो रैसलिंग की दुनिया में टॉप ब्रांड बनाया जाए। इस सफर के दौरान विंस के कई दोस्त भी बने और दुश्मन भी। टॉप पर पहुंचने के सफर में विंस मैकमैहन के दूसरी रैसलिंग कंपनियों से संबंध भी लगातार ख़राब होते रहे।

सालों की मेहनत के बाद एक ऐसा भी समय आया जब WWE को कोई कम्पटीशन देने वाला ही नहीं बचा। नई ऊंचाइयों को छूने की चाह में मिस्टर मैकमैहन ने कई बार ऐसे भी फैसले लिए जिनका फायदा WWE को कम और दूसरों को अधिक हुआ।

इस आर्टिकल में हम ऐसी पांच हस्तियों के नाम आपके सामने रखने वाले हैं, जिनका करियर विंस मैकमैहन ने बचाया था।

# पॉल हेमन

'द एटिट्यूड एरा' का वह दौर जब WCW और WWE के बीच टॉप पर पहुंचने की जंग छिड़ी हुई थी। इस लड़ाई का फायदा धीरे-धीरे ECW को पहुंच रहा था।

इस बात से अधिकतर लोग वाकिफ हैं कि मंडे नाइट वॉर्स के समय में विंस मैकमैहन ने पॉल हेमन की ECW को फंड किया था। इसी कारण ECW के सुपरस्टार्स WWE में और WWE के सुपरस्टार्स ECW में जाने लगे।

ऐसा कहा जाता है कि मिस्टर मैकमैहन ने ECW को संकट के दौर से बाहर निकालने के लिए पॉल हेमन को पांच लाख डॉलर का लोन दिया था।

youtube-cover

ख़राब दौर से गुजर रही ECW को अंततः विंस मैकमैहन ने खरीदने का फैसला लिया। पॉल कभी उस लोन को चुका नहीं पाए। ECW के पतन के बाद विंस ने पॉल हेमन को हायर करने में बिल्कुल भी देरी नहीं की।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

# हल्क होगन

hulk hogan

हल्क होगन ने जब WCW का रुख करने का निर्णय लिया, तो विंस मैकमैहन और उनके बीच ख़राब स्थिति में जा पहुंचे। जब WCW धीरे-धीरे नुकसान के दौर में धंसने लगी, तो मैकमैहन ने बिना देरी किए अपनी विरोधी कंपनी को ही खरीद लिया। फैंस के मन में सवाल यही था कि क्या हल्क होगन अब रिंग में दिखाई देंगे या उनका सफर यहीं तक सीमित था।

तभी 2002 में WWE ने चौंकाने वाला फैसला लिया और पूर्व WCW सुपरस्टार्स हल्क होगन, केविन नैश और स्कॉट हॉल की WWE में एंट्री हुई।

youtube-cover

हल्क होगन की लोकप्रियता बढ़ने लगी। इसी दौरान द रॉक और होगन के बीच मैच भी हुआ, जिसका रैसलिंग फैंस सालों से इंतज़ार कर रहे थे। विंस ने हल्क होगन की एक बार फिर सहायता तब की जब पिछले साल इस दिग्गज रैसलर को WWE रिंग में आने की अनुमति मिली।

यह भी पढ़ें: विंस मैकमैहन को है भरोसा डीन एम्ब्रोज़ करेंगे WWE में वापसी

# जैरी लॉलर

Jerry 'The King' Lawler

जैरी लॉलर, मेंफिस रैसलिंग के स्टार रैसलर रहे हैं। आज भी जब मेंफिस रैसलिंग का नाम लिया जाता है तो सबसे पहले जैरी लॉलर को याद किया जाता है।

1986 में जब WWE ने टेनेसी का रुख किया तो जैरी ने अपने उपनाम 'द किंग' का प्रयोग करने की अनुमति नहीं दी थी। मूल रूप से महान रैसलर हार्ले रेस इस उपनाम का प्रयोग किया करते थे। जैरी ने इस नाम का प्रयोग करने पर विंस मैकमैहन को कोर्ट तक में जा घसीटा और जीते भी। लेकिन सालों बाद विंस ने जैरी लॉलर को कमेंटेटर के रूप में हायर किया।

यह भी पढ़ें: इन पाँच बड़े खतरों से WWE को बचकर रहना होगा

# जैफ जैरेट

jeff jarrett

पूर्व TNA वर्ल्ड चैंपियन जैफ जैरेट WWE फैंस के लिए कोई नया नाम नहीं हैं। 90 के दशक में WWE अधिकारियों के साथ बिगड़ते सम्बन्धों के कारण उन्हें कंपनी छोड़नी पड़ी। इसका सबसे बड़ा कारण यह था कि WWE के लॉयर यह भूल चुके थे कि जैफ का कॉन्ट्रैक्ट ख़त्म होने वाला है।

कुछ साल बाद ही जैफ ने TNA की स्थापना की और अपना अच्छा खासा फैन बेस भी तैयार किया। पिछली सभी बातों को भुलाते हुए जैफ जैरेट को WWE हॉल ऑफ फेम में शामिल किया।

बाद में उन्हें WWE बैकस्टेज प्रोड्यूसर के रूप में हायर किया गया। क्योंकि जैफ जैरेट का 'Global Force Wrestling' प्रोजेक्ट बिल्कुल भी सफल नहीं हो पाया था।

# एरिक बिस्कॉफ

eric bischoff WWE raw general manager

एरिक बिस्कॉफ वही व्यक्ति हैं जिन्होंने WWE को नीचे गिराने की ठानी थी। टेड टर्नर द्वारा मिले रूपयों के समर्थन से एरिक ने WCW मंडे नाइट को खरीदा, जो साफ और सीधे तौर पर WWE की रॉ ब्रांड के लिए बड़ा कम्पटीशन बनकर उभरी।

करीब डेढ़ साल तक नाइट्रो रेटिंग्स के मामले में रॉ से आगे ही चलती रही। इसलिए ऐसा प्रतीत होने लगा था कि अब WWE का अंत नजदीक है। अब इसे विंस मैकमैहन की किस्मत कहें या उनका तेज दिमाग, अंत में WWE को जीत हासिल हुई और WCW को नुकसान होने लगा। मिस्टर मैकमैहन ने बिना देरी किए WCW की कमान अपने हाथों में ले ली।

इस सब के एक साल बाद ही एरिक बिस्कॉफ को मंडे नाइट रॉ का जनरल मैनेजर नियुक्त किया गया।

यह भी पढ़ें: विंस मैकमैहन द्वारा लाए गए वाइल्डकार्ड रूल का सबसे बड़ा नुकसान