Create
Notifications

5 WWE सुपरस्टार्स जिनका किरदार दिग्गज क्रिकेटर्स से मिलता-जुलता है

WWE सुपरस्टार्स और क्रिकेटर्स का किरदार
WWE सुपरस्टार्स और क्रिकेटर्स का किरदार
Neeraj sharma
visit

प्रो रेसलिंग इंडस्ट्री धीरे-धीरे पूरी दुनिया में अपने पैर पसारती जा रही है और WWE इसमें बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती आई है। WWE दुनिया की सबसे बड़ी प्रो रेसलिंग ब्रांड है और भारत भी इसके सबसे बड़े मार्केट्स में से एक है। भारत एक ऐसा देश जहां क्रिकेट सबसे लोकप्रिय खेल है।

यहां क्रिकेट के अलावा किसी दूसरे खेल के लिए पैर पसारना बहुत मुश्किल है। फिर भी WWE के यहां करोड़ों फैंस हैं, जो निरंतर अपने पसंदीदा सुपरस्टार्स को फॉलो करते रहते हैं। अक्सर WWE सुपरस्टार्स को भारत के दौरे पर आकर क्रिकेट के खेल में हाथ आजमाते भी देखा गया है।

ये भी पढ़ें: WWE में IPL की तर्ज पर हो नीलामी तो सबसे महंगे बिकेंगे ये 14 सुपरस्टार्स

WWE और क्रिकेट के खेल एक-दूसरे से काफी अलग हैं, लेकिन ऐसे कई बड़े नाम रहे हैं जिन्हें अपने-अपने खेल में महारत हासिल है। इसलिए इस आर्टिकल में हम उन 5 बड़े WWE सुपरस्टार्स के बारे में आपको बताएंगे जिनका किरदार फेमस क्रिकेट्स से काफी मेल खाता है।

ये भी पढ़ें: 5 WWE सुपरस्टार्स जिनकी बॉडी 50 की उम्र के बाद भी फिट नजर आती है

WWE दिग्गज द अंडरटेकर और एमएस धोनी

एमएस धोनी और अंडरटेकर
एमएस धोनी और अंडरटेकर

द अंडरटेकर का नाम WWE इतिहास के सबसे महान सुपरस्टार्स में लिया जाता है और आज भी वो दुनिया के सबसे सम्मानित प्रो रेसलर्स में से एक हैं। साल 2020 में उन्होंने रिटायरमेंट की घोषणा की और उन्होंने अपना आखिरी मैच WrestleMania 36 में एजे स्टाइल्स के खिलाफ लड़ा, जिसमें उन्हें जीत मिली थी। इसके अलावा वो अपने करियर में युवा रेसलर्स को भी मदद मुहैया कराकर बड़ा सुपरस्टार बनने में मदद करते आए हैं।

दूसरी ओर महेंद्र सिंह धोनी भी क्रिकेट से साल 2020 में रिटायरमेंट ले चुके हैं, उन्हें आज भी कप्तान कूल के नाम से जाना जाता है। अंडरटेकर की तरह धोनी को भी एक लीडर के रूप में देखे जाता रहा है और युवा उन्हें अपना आइडल भी मानते हैं। दोनों को अपने-अपने खेलों का बहुत ज्ञान हासिल है और खास बात ये है कि रिटायरमेंट के बाद भी दोनों का स्टेटस उसी स्थिति में बना हुआ है।

ये भी पढ़ें: 5 बड़े सुपरस्टार्स जो WWE में कभी वापस नहीं आएंगे

WWE और रेसलिंग से जुड़ी तमाम बड़ी खबरों के साथ-साथ अपडेट्स, लाइव रिजल्ट्स को हमारे Facebook page पर पाएं।

ट्रिपल एच और सौरव गांगुली

ट्रिपल एच और सौरव गांगुली
ट्रिपल एच और सौरव गांगुली

ट्रिपल एच WWE इतिहास के सबसे सफल सुपरस्टार्स में से एक रहे हैं, 14 वर्ल्ड टाइटल्स अपने नाम कर चुके हैं। इस समय वो एक WWE ऑफ़िशियल हैं और आपको बता दें कि पिछले एक दशक में NXT उन्हीं की लीडरशिप में WWE की तीसरी बड़ी ब्रांड बन सकी है। उनकी लीडरशिप स्किल्स का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि NXT के युवा स्टार्स को उनका हमेशा समर्थन मिलता आया है, इसलिए वो अपने करियर में अपार सफलता प्राप्त कर सके हैं।

दूसरी ओर सौरव गांगुली ने कप्तान रहते भारतीय क्रिकेट टीम को एक नई राह पर आगे बढ़ाया था। गांगुली के समय में भारतीय क्रिकेट टीम के स्वभाव और खेलने के तरीके में एग्रेशन देखा जाना आम बात थी। गांगुली अभी BCCI हेड हैं और उसी तरह प्रोमोशन को मजबूती से आगे बढ़ा रहे हैं जैसे ट्रिपल एच NXT को आगे बढ़ाते आए हैं।

ब्रॉन स्ट्रोमैन और युवराज सिंह

ब्रॉन स्ट्रोमैन और युवराज सिंह
ब्रॉन स्ट्रोमैन और युवराज सिंह

ब्रॉन स्ट्रोमैन WWE के सबसे तगड़े सुपरस्टार्स में से एक हैं। वो इतने ताकतवर हैं कि एक ही झटके से अन्य रेसलर्स को दूर पटक सकते हैं। उन्हें किसी वजह से ही द मॉन्स्टर अमंग मेन कहा जाता है और जब भी उन्हें पुश मिल रहा होता है, अन्य बड़े सुपरस्टार्स के लिए उन्हें रोक पाना जैसे असंभव हो जाता है।

उन्हीं की तरह क्रिकेट में युवराज सिंह भी अपना दिन होने पर बड़े-बड़े गेंदबाजों की धज्जियां उड़ा सकते हैं। स्ट्रोमैन जैसे अपने विरोधियों की पीट-पीटकर बुरी हालत करते हैं, वैसे ही युवराज भी गेंद की बुरी तरह पिटाई कर लंबे-लंबे छक्के लगाने में माहिर रहे हैं। इसलिए दोनों अपने-अपने खेल में किसी मॉन्स्टर से कम नहीं हैं।

जॉन सीना और सचिन तेंदुलकर

जॉन सीना और सचिन तेंदुलकर
जॉन सीना और सचिन तेंदुलकर

जॉन सीना के WWE करियर की शुरुआत 2000 के दशक की शुरुआत में हुई, लेकिन उस समय तक सचिन तेंदुलकर क्रिकेट की दुनिया के सबसे बड़े खिलाड़ियों में से एक बन चुके थे। मगर सीना का शानदार सफर अभी शुरू ही हुआ था और आगे चलकर वो रिकॉर्ड 16 बार के WWE चैंपियन बने।

सीना रिंग में हार ना मानने के स्वभाव से ही फैंस के सबसे पसंदीदा सुपरस्टार्स में से एक बने थे। वहीं तेंदुलकर की लंबी-लंबी पारियां भी दर्शाती हैं कि वो हार ना मानते हुए हमेशा धैर्य से काम लेते रहे। शतक या दोहरा शतक बनाने के लिए धैर्य बहुत जरूरी होता है। दोनों इसी स्वभाव से अपने करियर में इतनी सफलता प्राप्त कर सके हैं।

रोमन रेंस और विराट कोहली

रोमन रेंस और विराट कोहली
रोमन रेंस और विराट कोहली

रोमन रेंस चाहे अपने करियर में बेबीफेस किरदार में रहे हों या विलन किरदार में, रिंग में वो हमेशा से आक्रामक स्टाइल की ही रेसलिंग करते आए हैं। उन्हें किसी भी किरदार में हरा पाना अन्य रेसलर्स के लिए बहुत मुश्किल काम प्रतीत होता आया है। लेकिन प्रो रेसलिंग की दुनिया से बाहर वो बहुत हंसमुख इंसान हैं और अपने परिवार के साथ समय बिताना पसंद करते हैं।

उन्हीं की तरह विराट कोहली मैदान पर जितने आक्रामक दिखाई पड़ते हैं, मैदान से बाहर उनका स्वभाव उससे उलट ही होता है। कोहली की पत्नी अनुष्का शर्मा ने इसी साल एक बेटी को जन्म दिया था और रेंस की तरह उन्हें भी अपने परिवार के साथ समय बिताना काफी पसंद है।

Edited by Neeraj sharma
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now