Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

WWE SmackDown, 9 जुलाई 2019: शो की अच्छी और बुरी बातें

  • फैंस को काफी पसंद आया ये एपिसोड
ANALYST
टॉप 5 / टॉप 10
Modified 20 Dec 2019, 23:45 IST

स्मैकडाउन की अच्छी और बुरी बातें
स्मैकडाउन की अच्छी और बुरी बातें

पिछले कुछ समय में डब्लू डब्लू ई (WWE) के साथ बड़ी समस्या रही है कि वह दोनों शो को अच्छा नहीं बना पाती। जब रॉ का एपिसोड धमाकेदार रहता है तो स्मैकडाउन का शो बेकार और जब रॉ का एपिसोड निराश करता है तो स्मैकडाउन WWE को बचाता है। 

रॉ के ठीक एपिसोड के बाद स्मैकडाउन का शो जबरदस्त रहा। स्मैकडाउन ने फैंस को बांधे रखा, क्योंकि WWE ने जबरदस्त सैगमेंट और मैचों को बुक किया था और इसी के साथ अपनी लय को कायम रखा। स्मैकडाउन के एपिसोड में से खराब चीज़ों को निकालना काफी ज्यादा कठीन था।

स्मैकडाउन ने WWE को बचा लिया लेकिन हर एक सिक्के के दो पहलू होते हैं और ऐसा ही कुछ ब्लू ब्रांड के साथ भी था। इसलिए हम बात करने वाले हैं स्मैकडाउन के एपिसोड की अच्छी और बुरी बातों के बारे में।

ये भी पढ़ें:- पूर्व चैंपियंस का WWE के साथ कॉन्ट्रैक्ट साइन करने का कारण सामने आया


#1 अच्छी बात: केविन ओवेन्स के कैरेक्टर का नया रूप

WWE ने केविन को काफी अच्छे से बुक किया। देखकर साफ लग रहा है कि विंस ने पूर्व यूनिवर्सल चैंपियन पर विश्वास जताया है। शुरुआत में केविन ओवेन्स ने ज़िगलर के साथ जबरदस्त सैगमेंट दिया।

इसके अलावा उन्होंने सीएम पंक के जैसा पाइप बॉम्ब प्रोमो कट किया। बाद में मेन इवेंट में आकर शेन मैकमैहन पर अपना फिनिशर स्टनर लगाया। इसके बाद सोशल मीडिया पर केविन की खूब तारीफ हुई।


#1 बुरी बात: फिन बैलर को किया गया पिन

शिंस्के नाकामुरा को बैलर पर बड़ी जीत मिली जो काफी ज्यादा अच्छी बात थी लेकिन WWE ने यहाँ उनके IC चैंपियन को पिन करवा दिया जिसके पास लय और मोमेंटम नहीं है और वह लंबे समय से टीवी से दूर था। 

Advertisement

WWE एक्सट्रीम रूल्स में दोनों के मैच को अलग-अलग ढंग से बुक कर सकती थी लेकिन बड़े पीपीवी के ठीक पहले ही चैंपियन की हार काफी ज्यादा निराशाजनक बात रही। WWE काउंटआउट या डिसक्वालिफिकेशन के जरिये मैच खत्म करके एक्सट्रीम रूल्स में चैंपियनशिप मैच बुक कर सकती थी।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

1 / 3 NEXT
Published 10 Jul 2019, 13:06 IST
Advertisement
Fetching more content...