WWE Raw: 25 नवंबर 2019, शो की अच्छी और बुरी बातें

शार्लेट पर ग्रीन मिस्ट से हुआ अटैक
शार्लेट पर ग्रीन मिस्ट से हुआ अटैक

रॉ का एपिसोड बढ़िया था, कंपनी ने पूरे तीन घन्टे फैंस के भरपूर मनोरंजन किया। इस रोचक एपिसोड से कई सारी बड़ी स्टोरीलाइन की शुरुआत हुई। कंपनी का अगला बड़ा पीपीवी TLC है जिसके लिए कई सारे बड़े स्टिप्युलेशन मैच टीज़ हो चुके हैं।

रॉ में कुछ जगह लगा कि कंपनी को यह चीज़ बुक नहीं करनी चाहिए वरना पूरा एपिसोड शानदार था। खैर इस जबरदस्त एपिसोड की कई सारी अच्छी बातें थी लेकिन शो में कुछ गलतियां हुई जिसने इसे शो को थोड़ा खराब बनाया। इसलिए आइए नजर डालते हैं रॉ के एपिसोड की अच्छी और बुरी बातों पर।

#1 अच्छी बात: मैट हार्डी और AoP का रिटर्न

रॉ के एपिसोड में हमें मैट हार्डी की चौंकाने वाली वापसी देखने को मिली। किसी भी फैन ने नहीं सोचा होगा कि यह WWE दिग्गज अचानक से रॉ में नजर आ जाएगा। वह अपने ब्रोकन गिमिक के साथ नहीं आए थे।

ये भी पढ़ें:- 11 बड़ी बातें जो सीएम पंक ने WWE बैकस्टेज के दौरान बोली

इसके अलावा AoP भी आखिर बैकस्टेज प्रोमो सैगमेंट्स से हटकर रिंग में नजर आए। WWE ने सुपरस्टार्स की रिंग में वापसी बुक करके बढ़िया काम किया और इसका श्रेय उन्हें जरूर मिलना चाहिए।

#1 बुरी बात: समोआ जो कमेंट्री टीम का हिस्सा नहीं थे

पिछले हफ्ते रॉ के एपिसोड में समोआ जो बतौर कमेंटेटर नजर आए थे। उन्होंने इस रोल में जबरदस्त काम किया और हर एक फैन को उनकी कमेंट्री जरूर पसंद आई होगी।

इस बार वह रॉ की कमेंट्री टीम का हिस्सा नहीं थे। विंस जोसफ और जैरी लॉलर ने बढ़िया काम किया लेकिन समोआ जो की कमेंट्री जबरदस्त है। आज फैंस ने उन्हें जरूर मिस किया होगा।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#2 अच्छी बात: मैच

WWE ने कई सारे अच्छे मैच दिए सैथ रॉलिंस और केविन ओवेन्स पहले भी आमने-सामने आ चुके हैं लेकिन इस बार WWE ने दोनों के मुकाबले को अलग तरीके से बुक किया।

कुछ ऐसा असुका और शार्लेट फ्लेयर के मैच के लिए भी कहा जा सकता है। रे मिस्टीरियो और एजे स्टाइल्स ने भी एक तगड़ा मैच दिया। WWE ने मैचों को बढ़िया तरह से बुक किया जो शो की बड़ी हाइलाइट बन गयी।

#2 बुरी बात: मैच बुक करने के तरीके में गलती

मैच के पहले OC ने हम्बर्टो पर अटैक किया ताकि स्टाइल्स अपनी चैंपियनशिप को रिटेन कर सके। बाद में जब सुपरस्टार्स ने स्टाइल्स को टाइटल के लिए चैलेंज किया, उस समय OC ने अपने साथी को उनका सामना करने के लिए प्रोत्साहन दिया।

यह चीज़ थोड़ी अजीब थी। इसके अलावा अगर ऑर्टन को OC से बदला लेना था तो वह पहले ही उनपर अटैक कर सकते थे। रे मिस्टीरियो के मैच में ऑर्टन का OC से बदला लेने का कोई मतलब नहीं बन रहा था।

ये भी पढ़ें:- रोमन रेंस के WrestleMania 36 के प्रतिद्वंदी का नाम लगभग सामने आया

#3 अच्छी बात: रुसेव ने आखिर बदला ले लिया

रुसेव और बॉबी लैश्ले की स्टोरीलाइन में हमेशा से हील सुपरस्टार का पलड़ा भारी रहा था। इस बार भी जब रुसेव ने लैश्ले पर अटैक किया, उस समय लग रहा था कि इस बार भी लैश्ले भारी पड़ेंगे।

इस बार WWE ने कुछ अलग बुक किया। दरअसल रुसेव ने इस बार लैश्ले से सही तरह से बदला लिया। उन्होंने पूर्व इंटरकॉन्टिनेंटल चैंपियन को बुरी तरह से इंजर्ड कर दिया जो रुसेव के फैंस के लिए एक अच्छी बात रही।

#3 बुरी बात: WWE चैंपियनशिप का गायब रहना

रॉ के एपिसोड में हमेशा ही टॉप टाइटल के साथ दिक्कत रहती है। जब ब्रॉक लैसनर यूनिवर्सल चैंपियन थे, उस समय वह टीवी पर बहुत कम नजर आते थे और अब वह WWE चैंपियन है लेकिन अब भी वह बहुत कम नजर आते हैं।

इस बार रॉ के एपिसोड में टॉप चैंपियन गायब था। इससे साफ पता चलता है कि कंपनी ने फिर पार्ट-टाइमर को चैंपियन बनाकर गलती की है। आने वाले समय में कंपनी को इस गलती को जरूर सुधारना पड़ेगा।

ये भी पढ़ें: 4 सुपरस्टार्स जो सीएम पंक की WWE में वापसी के बाद खुद भी कंपनी में रिटर्न कर सकते है