Create
Notifications

Raw, अच्छी और बुरी बातें: खराब एपिसोड से हर कोई हुआ निराश, WWE ने की कई गलतियां

RAW
RAW
Ujjaval Palanpure
visit

RAW का एपिसोड उतना खास साबित नहीं हुआ। दरअसल, WWE ने TLC पीपीवी को शानदार तरीके से बुक किया था। हर किसी ने इस बड़े इवेंट को पसंद किया था और सालों तक फैंस इसे याद रखेंगे। इसके बावजूद RAW के अगले एपिसोड से काफी ज्यादा उम्मीदें थी। लग रहा था कि WWE कुछ अच्छे मैच और सैगमेंट बुक करने के साथ रेटिंग्स बढ़ाने के लिए कुछ सरप्राइज भी दे सकता है।

ऐसा कुछ भी देखने को नहीं मिला। RAW का ये एपिसोड बोरिंग साबित हुआ। WWE ने कुछ अच्छे मैच जरूर बुक किये लेकिन देखा जाए तो फैंस के तीन घंटे बुरी तरह खराब हुए। WWE को पिछले हफ्ते RAW की इतिहास की सबसे कम 1.5 मिलियन व्यूअरशिप मिली थी। ऐसे में लग रहा था कि इस हफ्ते वो कुछ खास करके जरूर ही रेटिंग्स को बढ़ाएंगे।

ये भी पढ़ें;- TLC के बाद हुए RAW के खराब एपिसोड के बाद फैंस ने मचाया बवाल, ट्विटर पर निकाली अपनी भड़ास

एक खराब प्रयास के बाद अब लग रहा है कि इस हफ्ते भी रेटिंग्स रिकॉर्ड तोड़ेगी। हर एक एपिसोड की कुछ अच्छी और बुरी बातें होती हैं। उसी तरह RAW के एपिसोड में कुछ चीज़ों ने प्रभावित किया वहीं कुछ जगहों पर फैंस को निराशा मिली। इसलिए आइए RAW के एपिसोड के नतीजों पर नजर डालते हैं।

1- अच्छी बात: RAW में WWE चैंपियनशिप के लिए नई स्टोरीलाइन की शुरुआत

WWE चैंपियनशिप के लिए रॉयल रंबल में जरूर ही मैच देखने को मिलेगा। ऐसे में WWE अभी से उसके लिए बिल्डअप शुरू कर चुका है। RAW के एपिसोड में शेमस और कीथ ली के बीच अनबन देखने को मिली थी। इस दौरान ड्रू मैकइंटायर ने उन्हें शांत कराने की कोशिश की थी।

अंत में जाकर शेमस ने कीथ पर हमला किया था। ड्रू खुद इससे नाराज थे। ऐसे में WWE यहां से तीनों सुपरस्टार्स के बीच ट्रिपल थ्रेट मैच बुक कर सकता है। इसके अलावा कीथ और शेमस में से कोई एक बड़ा मौका पा सकता है।

ये भी पढ़ें:- रॉ रिजल्ट्स: 33 साल के खतरनाक सुपरस्टार की वापसी का ऐलान, मेन इवेंट में मचा जबरदस्त बवाल

1- बुरी बात: कई बोरिंग मैचों को बुक करना

RAW के एपिसोड में कई सारे मैच देखने को मिले। इस दौरान कुछ मैच काफी छोटे और बोरिंग थे। WWE ने शुरुआती और अंतिम सैगमेंट पर ध्यान दिया लेकिन मध्य में कई निराशाजनक मैच देखने को मिले।

रिकोशे और टी-बार का मैच उतना खास नहीं था। साथ ही जैक्सन राइकर मैच बोरिंग रहा। इसके अलावा टैग टीम मैचों ने भी निराश किया। WWE ने यहीं से फैंस की मेन इवेंट के लिए रूचि खत्म कर दी थी।

2- अच्छी बात: द फीन्ड और रैंडी ऑर्टन की स्टोरीलाइन का जारी रहना

TLC में रैंडी ऑर्टन की खतरनाक जीत के बाद लग रहा था कि अब दोनों की दुश्मनी का अंत हो गया है। साथ ही जिस तरह से मैच का अंत हुआ था, हर एक फैन का मानना था कि अब ब्रे वायट के द फीन्ड कैरेक्टर का अंत हो गया है।

RAW में ऐसा कुछ नहीं हुआ। एलेक्सा ब्लिस ने एंट्री की और रैंडी ऑर्टन को बताया कि द फीन्ड अपनी वापसी जरूर करने वाले हैं।

2- बुरी बात: विमेंस टैग टीम डिवीजन का कमजोर नजर आना

WWE का विमेंस टैग टीम डिवीजन काफी ज्यादा कमजोर है। इस समय मौजूद सारी ही टैग टीम जोड़ियोंने उतना प्रभावित किया है। मैंडी रोज़ और डैना ब्रुक की ओर से लगातार बोच देखने को मिलते रहते हैं।

इसके अलावा पेयटन और लेसी इवांस को साथ देखने में किसी को रूचि नहीं है। साथ ही शार्लेट और असुका की जोड़ी भी ज्यादा समय तक नहीं चल पाएगी। RAW में ये चीज़ साफ तौर पर नजर आई।

ये भी पढ़ें:- WWE रॉ, रिजल्ट्स और वीडियो हाइलाइट्स: 21 दिसंबर 2020

Edited by Ujjaval Palanpure
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now