Create
Notifications

ब्रॉक लैसनर के यूनिवर्सल चैंपियन बनने के 3 अच्छे कारण और तीन बुरे कारण

नए यूनिवर्सल चैंपियन बने लैसनर
नए यूनिवर्सल चैंपियन बने लैसनर
vishal patel
visit

ब्रॉक लैसनर ने एक्सट्रीम रूल्स के मेन इवेंट में आने के बाद फैंस को चौंका दिया, उन्होंने अपने कॉन्ट्रैक्ट को कैश-इन किया। तीसरी बार यूनिवर्सल टाइटल जीतने के अलावा सैथ रॉलिंस को हराकर सबको चौंका दिया।

रॉलिंस और उनकी साथी रॉ विमेंस चैंपियन बैकी लिंच ने बैरन कॉर्बिन और लेसी इवांस को हराया और एक्सट्रीम रूल्स के मेन इवेंट में अपने टाइटल का बचाव किया। लैसनर अब चैंपियन हैं और उनकी जीत का WWE पर क्या प्रभाव पड़ेगा? इसलिए आइए ब्रॉक लैसनर के एक्सट्रीम रूल्स में कैश-इन के 3 अच्छे और 3 बुरे परिणामों पर एक नज़र डालते हैं:

#1 अच्छा कारण: बैरन कॉर्बिन अब यूनिवर्सल टाइटल पिक्चर में नहीं

सैथ रॉलिंस और बैरन कॉर्बिन
सैथ रॉलिंस और बैरन कॉर्बिन

बैरन कॉर्बिन एक मेहनती सुपरस्टार लग रहे हैं, जो कि "कंपनी मैन" के रूप प्रतिष्टित हैं, जो मैनेजमेंट उनसे पूछता है कि वे सब कुछ करेंगे। कॉर्बिन एक अच्छे मिड-कार्ड हील हैं, जो WWE यूनिवर्स को गुस्सा दिला सकते हैं और हीट पा सकते हैं, लेकिन लगता है कि WWE ने उन्हें यूनिवर्सल टाइटल पिक्चर में डालकर बहुत बड़ी गलती की, वह भी सैथ रॉलिंस जैसे शानदार सुपरस्टार के खिलाफ।

कॉर्बिन ने इस बार भी रॉलिंस के खिलाफ नहीं जीता और WWE को यूनिवर्सल चैंपियन के रूप में सैथ रॉलिंस जैसा सुपरस्टार दिया। सैथ अब लैसनर के साथ यूनिवर्सल टाइटल पिक्चर में है। फैंस को फिर से बड़ी टाइटल में रुचि आ जाएगी, जिसकी कमी रॉलिंस को कॉर्बिन की फ़्यूड में लग रही थी।

इसे भी पढ़ें: WWE Extreme Rules में ब्रॉक लैसनर के यूनिवर्सल चैंपियन बनने के 5 बड़े कारण

कॉर्बिन रिंग में एवरेज रेसलर हैं और उनका हील का कैरेक्टर बहुत ही उपयोगी है, लेकिन इससे रॉलिंस को उभारने में अधिक मदद नहीं मिली, अब यूनिवर्सल चैंपियनशिप में द बीस्ट जैसा परफेक्ट हील शामिल हो चुका है और दोनों का मैच काफी ज्यादा अच्छा होगा।

#1 बुरा: यूनिवर्सल चैंपियन अब रॉ पर नहीं आएंगे

तीसरी बार जीता खिताब
तीसरी बार जीता खिताब

ब्रॉक लैसनर ने पास जब यूनिवर्सल टाइटल था जब वह रॉ पर बहुत कम मौकों पर आते थे। यह उस समय की सबसे बड़ी कमियों में से एक थी और इसके अलावा वह कभी-कभी कुछ पीपीवी में भी यह दिखाई देते थे। लैसनर से पिछले कुछ समय से फैंस नाराज थे, इसके अलावा दूसरे युवा सुपरस्टार को भी द बीस्ट की वजह से मौका नहीं मिल पा रहा था।

सैथ रॉलिंस के यूनिवर्सल टाइटल रन के साथ, द बीस्ट्सलेयर ने एजे स्टाइल्स, डेनियल ब्रायन और सैमी जेन के खिलाफ कुछ शानदार मैच लड़े हैं।

सरल शब्दों में कहे तो ब्रॉक लैसनर एक सुपरस्टार है जो पीपीवी, या बिग-मनी शो से ठीक पहले दिखाई देते हैं, जिसने एक तरह से उसे हील बनने में मदद की है जो कि WWE यूनिवर्स से और भी ज्यादा नफरत करता है।

WWE News in Hindi, RAW, SmackDown के सभी मैच के लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#2 अच्छा कारण: बड़ा समरस्लैम मैच

ब्रोक लैसनर और सेथ रॉलिंस के बीच शानदार मुकाबला।
ब्रोक लैसनर और सेथ रॉलिंस के बीच शानदार मुकाबला।

समरस्लैम WWE में अगला पीपीवी है, और WWE कैलेंडर के सबसे महत्वपूर्ण पीपीवी में से एक है। साथ ही रॉयल रंबल, सर्वाइवर सीरीज़, और निश्चित रूप से, रेसलमेनिया इस लिस्ट में शामिल है।

जैसा कि मैंने इस आर्टिकल में पहले बताया है, बैरन कॉर्बिन ने कभी भी सैथ रॉलिंस के साथ अपनी स्टोरीलाइन में इसे नहीं हराया है। व्यूअरशिप और दर्शकों की संख्या बढ़ाने के लिए यह अच्छा निर्णय है। WWE अब लैसनर को यूनिवर्सल चैंपियन बनाने साथ समरस्लैम में उनका बड़ा मैच बुक करेगी।

ब्रॉक लैसनर अभी भी विंस मैकमैहन के लिए एक बड़ा ड्रॉ है (कम से कम WWE और विंस मैकमैहन ने हमें बड़े टाइटल मैचों में लैसनर की लगातार बुकिंग से विश्वास दिलाया)। समरस्लैम जैसे बड़े पीपीवी में रॉलिंस-कॉर्बिन के बीच मैच से WWE को कोई फायदा नहीं होता।

#2 बुरा कारण: किसी अलग सुपरस्टार के लिए यूनिवर्सल टाइटल जीतने का कोई अवसर नहीं

सैमी जैन
सैमी जैन

WWE के पास प्रो रेसलिंग में हर एक फील्ड में बड़े और बढ़िया-बढ़िया ग्रुप्स है, यही कारण है कि लैसनर का पुश इतना ज्यादा निराश करने वाला है। ड्रू मैकइंटायर, समोआ जो, सैमी जेन, या यहां तक कि EC3 जैसे भी कई सुपरस्टार हैं, जो यूनिवर्सल टाइटल के लिए रॉलिंस के साथ एक अलग तरह की फ़्यूड कर सकते थे।

अब दूसरे सुपरस्टार्स के पास से यह अवसर चला गया है, कि वह चैंपियनशिप जीत सके, क्योंकि लैसनर एक बार फिर चैंपियन बन गए तो उनको हराना किसी भी रेसलर के लिए बहुत बड़ी चुनोती होगी। इसलिए अब लैसनर के पास लंबे समय तक बेल्ट नहीं रहना चाहिए।

#3 अच्छा कारण: एक पूरा मैच

ब्रॉक लैसनर और सैथ रॉलिंग
ब्रॉक लैसनर और सैथ रॉलिंग

ब्रॉक लैसनर और सैथ रॉलिंस ने यूनिवर्सल टाइटल के लिए एक-दूसरे का सामना रैसलमेनिया 35 में किया। दोनों ही चार साल तक एक-दूसरे के साथ रिंग में नहीं आए इसी वजह से रेसलमेनिया 35 का मुकाबला फैंस के लिए काफी ज्यादा रोचक था। सभी इस मुकाबले को देखने के लिए इंतज़ार कर रहे थे, लेकिन यह निराशाजनक मुकाबला था। उनका मैच मेन शो का पहला मुकाबला था लैसनर और रॉलिंस ने रैसलमेनिया 35 से निराश किया था क्योंकि मैच कुछ ही समय में समाप्त हो गया।

अब लैसनर की जीत के बाद, यूनिवर्सल टाइटल के लिए एक रीमैच समरस्लैम में हो सकता है, यदि ऐसा होता है तो यह मैच बहुत लंबा होगा और इसमें दोनों ही रेसलर्स की ताकत और कमजोरी दिखाई देगी, और WWE यूनिवर्स के लिए यह एक शानदार मैच होगा।

#3 बुरा कारण: गलत चैंपियन पर कैश इन

ब्रॉक लैसनर ने कैश इन कर के सैथ रॉलिंस को हराया और तीसरी बार बने यूनिवर्सल चैंपियन
ब्रॉक लैसनर ने कैश इन कर के सैथ रॉलिंस को हराया और तीसरी बार बने यूनिवर्सल चैंपियन

ब्रॉक लैसनर ने मेंस मनी इन द बैंक जीता लिया था। उन्हें टाइटल के लिए यूनिवर्सल चैंपियन या WWE चैंपियन का सामना करने का मौका मिला। अब लग रहा था कि उनका मुकाबला सैथ रॉलिंस से होगा, लेकिन यह भी संभावना थी कि लैसनर WWE चैंपियन काफी पर भी कैश-इन कर सकता है।

फैंस ने चार साल पहले से ही रॉलिंस का रेसलमेनिया में लैसनर और रेंस के मैच में कैश-इन देखा था। वह किंग्सटन के साथ बहुत अच्छी फ़्यूड कर सकते थे। इससे स्मैकडाउन को फायदा होता या और ब्लू ब्रांड पर भी अच्छी फ़्यूड होगी। यह एक शानदार मुकाबला हुआ और लैसनर इस मुकाबले को जीत कर बन गए चैंपियन।

Edited by Ankit
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now